ENGLISH HINDI Monday, July 22, 2019
Follow us on
पंजाब

ओवरलोड से ट्रांसफार्मर में लगी आग

May 21, 2019 10:18 PM

जिरकपुर, जे एस कलेर:

मंगलवार दोपहर बादल कालोनी में जी.एस. मोमोरियल स्कूल नज़दीक 100 किलोवाट के ट्रांसफार्मर में आग लगने कारण दहशत का माहौल बन गया। ट्रांसफार्मर के नज़दीक के दुकानदारों की सूझबूझ कारण एक बड़ा हादसा होने से बच गया।

इस ट्रांसफार्मर के नज़दीक बिजली की हाई टेन्शन तारें और शोरूम तक आग पहुँचने में कोई ज़्यादा देर नहीं लगनी थी जिसके बाद स्थिति पर काबू पाना कठिन ही नहीं बल्कि नामुमकिन हो जाता।

प्राप्त जानकारी अनुसार ज़ीरकपुर के अंबाला चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग के नज़दीक बने जी एस मैमोरियल स्कूल के नज़दीक लगे एक ट्रांसफार्मर को मंगलवार दोपहर अचानक आग लग गई और देखते ही देखते आग तेज़ हो गई। वहाँ से गुज़रते लोगों और दुकानदारों नें तुरंत ट्रांसफार्मर का मेन स्विच काट दिया और उनमें से किसी ने इसकी सूचना बिजली कर्मचारियों और एस.डी.ओ पावरकॉम को दी जिसके बाद पावरकॉम कर्मचारी तुरंत मौके पर पहुचे और कर्मचारियों और दुकानदारों ने बहुत ही मेहनत के साथ कार्यवाही कर आग पर काबू पाया। जिस जगह पर यह घटना हुई है उसके साथ ही बिजली की हाई टेन्शन तारों के साथ साथ शोरूम भी हैं और स्थानीय दुकानदारों को भी डर इसी बात का था कि कहीं आग बिजली की तारों और शोरूम तक न पहुँच जाये।

मौके पर पहुँचे पावरकॉम के लायनमैन ने कहा कि ट्रांसफार्मर को आग लगने का कारण ओवरलोड है क्योंकि लोगों ने बिजली लोड तो 5 किलोवॉट लिया गया है परन्तु उनकी ओर से बिजली उपभोग लोड़ से कहीं अधिक किया जाता है। पावरकॉम के कर्मचारियों ने स्थानीय दुकानदारों की ओर से तुरंत की गई कार्यवाही की प्रशंसा की।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
शार्ट सर्किट से जम्मू से कटड़ा जा रही बस में शॉर्ट सर्किट से धुंआ-धुंआ, बाल-बाल बचे यात्री 100 अनाथ बच्चे डीसी के घर पर बने चीफ गेस्ट, लेने पहुंची स्पेशल बसें सड़क पर घूम रहे गौवंश की संभाल करना अति जरूरी: सिंगला राज्यपाल द्वारा भी सिद्धू का इस्तीफ़ा मंजूर यू.पी. सरकार द्वारा प्रियंका गांधी की ग़ैर-लोकतांत्रिक तरीके से की गई नजऱबंदी का कैप्टन द्वारा विरोध पीने वाले पानी की समय-समय पर जांच के आदेश लिंग निर्धारण टैस्ट करने वाले 60 दोषियों को गिरफ्तार करके 14 मशीनें की सील अनाज वितरण में हेराफेरी के लिए 4 निलंबित कंडी क्षेत्र के किसानों को कँटीली तार लगाने के लिए मिलेगी 50 प्रतिशत की वित्तीय सहायता स्वास्थ्य विभाग का क्लर्क रिश्वत लेता रंगे हाथों काबू