ENGLISH HINDI Tuesday, June 25, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
नहीं रहे स्वतंत्रता सेनानी सुशील रतन, बुधवार को होगा अंतिम संस्कारअपने हृदय सम्राट, पुण्यात्मा, समाज सुधारक स्व: सीताराम जी बागला की पुण्यतिथि पर नतमस्तक हुए क्षेत्रवासीनशाखोरी, ग़ैर-कानूनी तस्करी विरुद्ध 26 को हर जिले में मनाया जायेगा: सिद्धू12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारीजल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत नाभा जेल हत्या मामले के सभी पक्षों की जांच के लिए एस.आई.टी. का गठन मेडिकल शिक्षा के साथ व्यवहारिकता का पाठ पढ़ाया जाएगा एम्स मेंडिप्टी कमिशनर आज सुनेंगे रॉयल एंपायर प्रोजैक्ट के पीडितों की शिकायतें
हरियाणा

रोहतक के डेंटल कॉलेज को उत्कृष्ट व्यवस्था पर तीसरा स्थान प्राप्त

May 27, 2019 07:44 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंडित भगवत दयाल शर्मा आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, रोहतक के डेंटल कॉलेज को उत्कृष्ट शैक्षणिक व्यवस्था संचालित करने, अव्वल आधारभूत संरचना, कैरियर निर्माण तथा प्लेसमैंट सुविधाएं उपलब्ध करवाने हेतु देश में तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है। इसके अलावा पीजीआईएमएस रोहतक को भी भारत के शीर्ष 40 मेडिकल कॉलेजों में स्थान दिया गया है।
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन एवं संस्थान प्रबन्धन को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इससे पीजीआईएम, रोहतक की देशभर में साख बनी है, जिसको भविष्य में भी बनाए रखना है। एक मीडिया हाऊस द्वारा किए गए सर्वेक्षण में मरीजों को दी जा रही सुविधाओं में संस्थान को बेहतर पाया गया है।
संस्थान के प्राचार्य डॉ. संजय तिवारी ने कहा कि पीजीआईडीएस, रोहतक उत्कृष्ट आधारभूत संरचना और आधुनिक बुनियादी सुविधाओं से युक्त है। संस्थान में अति आधुनिक डेंटल चेयर, 2 डेंटल ऑपरेटिंग माइक्रोस्कोप, 1 सिरेमिक भ_ी, 2 धातु सिरेमिक भ_ी, 11 रेडियो-विजियोग्राफिक यूनिट, 3 इंप्लांट यूनिट, 3 डिजिटल ओपीजी मशीनें, एक स्टेट आर्ट ऑफ सीटीबीटी, वातानुकूलित कुर्सियां और सभी आधुनिक उपकरणों के साथ एक वातानुकूलित मोबाइल डेंटल वैन की सुविधा भी है। इसके साथ ही सभी स्नातकोत्तर क्लीनिक और ऑपरेशन थियेटर भी वातानुकूलित हैं।
डॉ. तिवारी ने बताया कि इस वर्ष विश्वविद्यालय द्वारा पीजीआईडीएस रोहतक में माइक्रो-एंडोडोन्टिक्स, इम्प्लांटोलॉजी, मैक्सोलोफेशियल प्रोस्थेटिक्स, मैक्सिलोफेशियल ट्रॉमा, फॉरेंसिक ओडोंटोलॉजी और मैक्सिलोफासियल में एमडीएस पाठ्यक्रमों में सुपर स्पेशियलिटी के लिए 7 नए फेलोशिप कार्यक्रम, प्रोस्थेसिस और मैक्सिलोफैशियल प्रत्यारोपण शुरू करने की योजना है। उन्होंने बताया कि पीजीआईएमएस की प्रतिदिन औसतन 5000 से अधिक मरीजों की ओपीडी और लगभग 1000 मरीजों को आपातकालीन विभाग में मुफ्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।
उन्होंने कहा कि संस्थान में हरियाणा व अन्य राज्यों के जरूरतमंद रोगियों का लगभग मुफ्त में उपचार किया जा रहा है। संस्थान में स्नातकोतर डेंटल सर्जन की सभी 9 शाखाओं में विशिष्टताओं की शिक्षा दी जा रही है। इसके अलावा सभी पीजी क्लीनिक पूरी तरह से वातानुकूलित और अल्ट्रा-मॉडर्न डेंटल वार्ड से सुसज्जित हैं और आपातकालीन क्लिनिक मरीजों को चौबीसों घंटे सेवाएं प्रदान कर रही है। इसके अतिरिक्त संस्थान में वातानुकूलित लेक्चर थिएटर, ऑडियो-विजुअल एड्स तथा 300 सिटिंग कैपेसिटी वाला एक बेहतरीन ऑडिटोरियम, इमरजेंसी ऑपरेशन थियेटर, कॉन्फ्रेंस हॉल भी हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारी भर्ती रैलियों के लिए सेना अधिकारियों को सहयोग देने के लिए उपायुक्तों को निर्देश हरियाणा मुक्त विद्यालय अंक सुधार परीक्षा के लिए 24 जून से आवेदन आनलाइन प्रशिक्षण ले रहे 22 आईपीएस अधिकारियों ने की हरियाणा पुलिस महानिदेशक से मुलाकात गलत ताले की चाबी लिए घूम रहे हैं दुष्यंत: विज ट्रैफिक यूनिट को 25 नई मोटर साईकिलें दी होन्डा कम्पनी ने विमान दुर्घटना में शहीद हुए हरियाणा के लेफ्टिनेंट पायलट आशीष तंवर के परिजनों को मुख्यमंत्री ने बंधाया ढांढस सेना में भर्ती 20 से 30 अगस्त तक तेजली खेल परिसर यमुनानगर में नवजात शिशु की मेडीकल केयर देश में अभी भी चिंताजनक: डा. भकू दौलतपुरिया का त्याग पत्र स्वीकार, फतेहाबाद विधानसभा सीट हुई रिक्त