ENGLISH HINDI Sunday, September 22, 2019
Follow us on
 
राष्ट्रीय

वायु सेना प्रमुख धनोआ ने सीओएससी अध्यक्ष का बैटन प्राप्त किया

May 30, 2019 12:36 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बिरेंद्र सिंह धनोआ ने नई दिल्ली में निवर्तमान चीफ ऑफ स्टाफ कमिटी प्रमुख (सीओएससी) और नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा से चीफ ऑफ कमिटी के अध्यक्ष का बैटन प्राप्त किया। एयर चीफ मार्शल बिरेंद्र सिंह धनोआ 31 मई से एडमिरल सुनील लांबा की सेवानिवृत्ति के कारण उनके द्वारा प्रभार सौंपने के बाद चीफ ऑफ स्टाफ कमिटी के अध्यक्ष होंगे।
एयर चीफ मार्शल बिरेंद्र सिंह धनोआ राष्ट्रीय भारतीय सैन्य महाविद्यालय और राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के पूर्व-छात्र हैं। उन्हें जून 1978 में भारतीय वायु सेना की फ्लाइंग ब्रांच में अधिकारी बनाया गया था। वे एक अनुभवी फाइटर पायलट और एक सुयोग्य सीएटी “ए” फ्लाइंग इंस्ट्रक्टर हैं और उन्हें 3000 घंटे से अधिक उड़ान भरने का अनुभव है। एयर चीफ मार्शल ने मुख्य रूप से मिग-21 विमान से लेकर भारतीय वायु सेना के प्रायः सभी किस्मों के फाइटर विमानों को उड़ाया है।
कारगिल युद्ध (1999) के दौरान वे एक फ्रंटलाइन ग्राउंड अटैक फाइटर स्क्वाड्रन के कमान अधिकारी थे। उन्होंने अनेक महत्वपूर्ण ऑपरेशनल कार्य किये और अनेक पदों पर कार्यभार संभाला, जिनमें पश्चिमी वायु कमान में एक फ्रंटलाइन फाइटर बेस की कमान, फाइटर ऑपरेशन और वार प्लानिंग के निदेशक, डीएसएससी में चीफ इंस्ट्रक्टर (वायु), वायु सेना मुख्यालय में वायु सेना (इंटेलिजेंस) के सहायक प्रमुख और दो ऑपरेशनल कमानों के वरिष्ठ वायु सेना अधिकारी के पद शामिल हैं। वे दक्षिण पश्चिम वायु कमान के एयर ऑफिसर कमाडिंग इऩ चीफ और वायु सेना के वाइस चीफ भी रहे हैं।
चार दशकों से भी अधिक समय तक अपने विशिष्ट कार्यकाल के बाद एडमिरल सुनील लांबा 31 मई को सेवानिवृत्त होंगे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
परमार्थ निकेतन में अन्तर्राष्ट्रीय शान्ति दिवस पर विशेष प्रार्थना का आयोजन भारत के लोग पाक वासियों के हित के बारे में सोचते हैं भाषाओं का मेलजोल समाज के लिए जरूरी विश्व शांति दिवस पर मीडिया कर्मियों से किया शांति और सदभाव फैलाने का आहवान एम्स में तीन दिवसीय कंप्यूटर एडिड ड्रग्स डिजाइनिंग कार्यशाला संपन्न छात्र, शिक्षक अन्‍य भाषाएं सीखने के साथ ही मातृभाषा को भी पर्याप्‍त महत्‍व दें एसीसी नियुक्ति दिल्ली एयरपोर्ट पर पांच अफगान यात्री पकड़े, 15 करोड़ की हेरोइन के 370 कैप्सूल बरामद जीवन की सार्थकता है 'स्वार्थ से सर्वार्थ की यात्रा, परमार्थ की यात्रा' तीसरा विश्व हिमालय सम्मेलन अगले वर्ष नेपाल में