ENGLISH HINDI Tuesday, June 02, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
ट्राईसिटी चर्च एसोसिएशन ने कोरोना योद्धाओं को मदर टेरेसा अवार्ड से किया सम्मानितहरियाणा: व्यक्तिगत डिस्टेंसिंग की पालना के साथ सभी दुकानें 9 से सायं 7 बजे तक खोलने की स्वीकृतिमॉनसून ऋतु (जून–सितम्बर) की वर्षा दीर्घावधि औसत के 96 से 104 प्रतिशत होने की संभावनासमाजसेवी रविंद्र सिंह बिल्ला और टीम की तरफ से बाँटे जा रहे लंगर का हुआ समापन पंजाब में मैन मार्केट, सैलून, शराब की दुकानों, सपा आदि निर्धारित संचालन विधि की पालना के साथ आज से खुलेकांगड़ा में आए कोरोना पॉजिटिव आठ नए मामलेपीएनबी बैंक का ताला तोड़कर नकाबपोशों ने किया लूटने का प्रयासकांग्रेसी मंत्रियों ने केंद्र द्वारा संघीय ढांचे का गला घोंटने पर बादलों को घेरा
हिमाचल प्रदेश

कुल्लू की नई डीसी डा. ऋचा वर्मा ने संभाला कार्यभार

June 04, 2019 09:36 PM

कुल्लू  ( विजयेन्दर  शर्मा )।

डा. ऋचा वर्मा ने आज बतौर उपायुक्त कुल्लू जिले का कार्यभार संभाला। भारतीय प्रशासनिक सेवा के 2012 बैच की अधिकारी डा. ऋचा वर्मा ने इससे पहले प्रदेश के विभिन्न जिलों में विभिन्न पदों पर अपनी सेवाएं दी हैं। सबसे पहले उन्होंने ऊना जिला के हरोली में बतौर सहायक आयुक्त एवं खण्ड विकास अधिकारी अपनी सेवा आरम्भ की। इसके बाद एसडीएम डलहौजी, एसडीएम नाहन, अतिरिक्त उपायुक्त धर्मशाला व हमीरपुर की उपायुक्त रही।

  पत्रकारों से अनौपचारिक वार्तालाप के दौरान डाॅ. ऋचा वर्मा ने कहा कि सरकार की नीतियों व कार्यक्रमों का प्रभावी क्रियान्वयन कर जिले के लोगों को लाभान्वित करना उनकी प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि लोगों की समस्याओं व शिकायतों के निराकरण को लेकर वह काफी संवेदनशील हैं और इस दिशा में सभी विभागों से सकारात्मक सहयोग की अपेक्षा करती हैं। उन्होंने कहा कि अंतिम छोर में बैठा अंतिम व्यक्ति सरकार की योजनाओं से वंचित नहीं रहना चाहिए और वह इस बात का विशेष ख्याल रखेगी। 

डाॅ. वर्मा ने कहा कि वह जिला विशेषकर शहरों व उप-नगरों में कचरा प्रबंधन पर विशेष रूप से कार्य करेंगी। इसके अलावा, महिलाओं से जुड़े मामलों, महिला सशक्तिकरण, शिक्षा, पर्यटन जैसे क्षेत्रों में नवाचार के कार्यों का बखूबी निष्पादन करेंगी। उन्होंने कहा कि कुल्लू-मनाली पर्यटन की दृष्टि से विश्व मानचित्र पर अंकित है, इसलिए आवश्यक हो जाता है कि इस क्षेत्र के लिए राज्य सरकार की योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन किया जाए। पर्यटन से हजारों लोगों का रोजगार जुड़ा है और राज्य सरकार ने इस क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक योजनाएं कार्यान्वित की हैं, और वह इन योजनाओं के क्रियान्वयन को गति प्रदान करने के पुरजोर प्रयास करेंगी। 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें