ENGLISH HINDI Sunday, September 22, 2019
Follow us on
 
राष्ट्रीय

विश्व पर्यावरण दिवस पर एम्स ऋषिकेश में सामुहिक संकल्प

June 06, 2019 08:33 AM

ऋषिकेश, (ओम रतूड़ी)

सांसें हो रही हैं कम
आओ पेड़ लगाएं हम
पेड़ पौधे हैं मानव के लिए वरदान
मत करो इनका अपमान
पशु- पक्षी हैं धरती की शान
पेड़ हैं पर्यावरण की जान
शुद्ध पर्यावरण...स्वस्थ्य जीवन का आधार के संदेश के साथ बुधवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें बिगड़ते पर्यावरण पर चिंता जाहिर की गई और इसके संरक्षण का सामुहिक संकल्प लिया गया। इस दौरान एम्स ओपीडी में मरीजों व उनके तीमारदारों को ग्लोबल वार्मिंग से उत्पन्न होने वाली बीमारियों के प्रति जागरुक किया गया व उनसे पर्यावरण के संवर्धन में सहभागिता की अपील की गई। संस्थान के डिपार्टमेंट ऑफ नर्सिंग सर्विसेस की ओर से विश्व पर्यावरण दिवस पर जनजागरुकता पर आधारित कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें अपने संदेश में एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने बताया कि बिगड़ते पर्यावरण के कारण लोग श्वांस सहित कई अन्य जानलेवा बीमारियों से तेजी से ग्रस्त हो रहे हैं। वायु प्रदूषण से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों के बारे में बताते हुए उन्होंने श्वसन तंत्र में होने वाली अस्थमा, निमोनिया जैसी घातक बीमारियों से बचाव के लिए पर्यावरण की रक्षा पर जोर दिया, उन्होंने बताया कि प्रदूषण की रोकथाम में योगदान देने से इस तरह की खतरनाक बीमारियों से बचा जा सकता है। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि सामुहिक प्रयासों से ही प्रदूषण से खराब होती आबोहवा को जीवन के अनुकूल बनाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि पौधरोपण को संकल्प के साथ अभियान बनाने से ही ग्लोबल वार्मिंग की समस्या से निजात मिल सकती है और अमूल्य जीवन को बचाया जा सकता है। इस दौरान उन्होंने नर्सिंग स्टाफ, मरीजों व उनके तीमारदारों को पेड़ बचाओ पेड़ लगाओ, बीमारियों को दूर भगाओ का संदेश दिया। कार्यक्रम में सीनियर नर्सिंग ऑफिसर प्रकाश चंद मीना ने पर्यावरण के महत्व तथा पर्यावरण के दूषित होने से मनुष्य जीवन पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों के प्रति लोगों को जागरुक किया। उन्होंने बताया कि इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन चीन में हो रहा है, जिसकी थीम वायु प्रदूषण रखी गई है। उन्होंने वायु प्रदूषण के स्रोतों और वायु प्रदूषण से होने वाली बीमारियों और उनसे बचाव के तौर तरीकों पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान उपस्थित स्टाफ, मरीज के परिजनों को पर्यावरण को स्वच्छ रखने और पेड़ों की रक्षा की शपथ दिलाई गई।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
परमार्थ निकेतन में अन्तर्राष्ट्रीय शान्ति दिवस पर विशेष प्रार्थना का आयोजन भारत के लोग पाक वासियों के हित के बारे में सोचते हैं भाषाओं का मेलजोल समाज के लिए जरूरी विश्व शांति दिवस पर मीडिया कर्मियों से किया शांति और सदभाव फैलाने का आहवान एम्स में तीन दिवसीय कंप्यूटर एडिड ड्रग्स डिजाइनिंग कार्यशाला संपन्न छात्र, शिक्षक अन्‍य भाषाएं सीखने के साथ ही मातृभाषा को भी पर्याप्‍त महत्‍व दें एसीसी नियुक्ति दिल्ली एयरपोर्ट पर पांच अफगान यात्री पकड़े, 15 करोड़ की हेरोइन के 370 कैप्सूल बरामद जीवन की सार्थकता है 'स्वार्थ से सर्वार्थ की यात्रा, परमार्थ की यात्रा' तीसरा विश्व हिमालय सम्मेलन अगले वर्ष नेपाल में