ENGLISH HINDI Tuesday, June 25, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
नहीं रहे स्वतंत्रता सेनानी सुशील रतन, बुधवार को होगा अंतिम संस्कारअपने हृदय सम्राट, पुण्यात्मा, समाज सुधारक स्व: सीताराम जी बागला की पुण्यतिथि पर नतमस्तक हुए क्षेत्रवासीनशाखोरी, ग़ैर-कानूनी तस्करी विरुद्ध 26 को हर जिले में मनाया जायेगा: सिद्धू12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारीजल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत नाभा जेल हत्या मामले के सभी पक्षों की जांच के लिए एस.आई.टी. का गठन मेडिकल शिक्षा के साथ व्यवहारिकता का पाठ पढ़ाया जाएगा एम्स मेंडिप्टी कमिशनर आज सुनेंगे रॉयल एंपायर प्रोजैक्ट के पीडितों की शिकायतें
राष्ट्रीय

एम्स में साइकल पर आएंगे मेडिकल स्टूडेंट्स, पॉलीथिन प्रयोग न करने का लिया संकल्प

June 07, 2019 08:54 PM

ऋषीकेश (ओम रतूड़ी)
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के कम्युनिटी एंड फेमिली मेडिसिन विभाग की ओर से विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में संस्थान द्वारा संचालित विभिन्न चिकित्सालयों में पौधरोपण अभियान चलाकर प्रकृति व पर्यावरण संवर्धन का संरक्षण दिया। इसके साथ ही आयोजित कार्यक्रम में एमबीबीएस इंटर्नस व एमपीएस के विद्यार्थियों ने प्रदूषण को रोकने के लिए साइक्लिंग करने और पॉलीथिन का प्रयोग नहीं करने का सामुहिक संकल्प भी लिया। एम्स के सामुदायिक एवं पारिवारिक चिकित्सा विभाग की ओर से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र थानो व रायवाला में गुलमोहर व अमलतास आदि प्रजातियों के पौधे रोपकर लोगों को पर्यावरण संवर्धन में सहभागिता निभाने का संदेश दिया। उधर, दूसरी ओर एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत की पहल पर कम्युनिटी एंड फेमिली मेडिसिन डिपार्टमेंट में एमबीबीएस इंटर्नस व मास्टर ऑफ पब्लिक हेल्थ के विद्यार्थियों ने पोस्टरों के माध्यम से पेड़ों को बचाने और हरियाली को बढ़ाने का संदेश दिया। डीन एवं विभागाध्यक्ष प्रो. सुरेखा किशोर की देखरेख में आयोजित कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं को व्यक्तिगततौर पर प्रदूषण की रोकथाम में बढ़ृ चढ़कर सहभागिता का आह्वान किया गया। इस अवसर पर डा. रंजीता कुमारी के निर्देशन में विभाग के जूनियर रेजिडेंट डा. सेनकाधीर, डा. कविता, डा. आयुषि ने उन्हें प्रदूषण की रोकथाम के उपाय बताए। उन्होंने बताया कि पर्यावरण को बचाने के लिए हमें निजीतौर पर विभिन्न गतिविधियों के लिए आगे आना होगा साथ ही इसके लिए दूसरे लोगों को भी प्रेरित करना होगा। इस दौरान संस्थान के विद्यार्थियों ने आवागमन के लिए साइकिल का इस्तेमाल करने, प्लास्टिक की थैलियों का इस्तेमाल नहीं करने, खरीदारी के लिए खुद का बैग लेकर जाने, कूड़ा-कचरा केवल डस्टबिन में फेंककर आसपास के वातावरण को स्वच्छ रखने, धूम्रपान नहीं करने का सामुहिक संकल्प भी लिया। साथ ही उन्होंने इनडोर वायु प्रदूषण को रोकने के लिए एलपीजी गैस का उपयोग करने और हर साल कम से कम एक पौधा रोपने और उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी की प्रतिज्ञा भी ली।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
जल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत मेडिकल शिक्षा के साथ व्यवहारिकता का पाठ पढ़ाया जाएगा एम्स में योग को दिनचर्या में शामिल करने का आह्वान भारतीय नौसेनेा के लिए छह पी75 पनडुब्बियों के निर्माण के लिए अभिरूचि पत्र आमंत्रित मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. निशंक ने किया राष्ट्रीय बाल भवन संस्था का औचक निरीक्षण रीज़नल आउटरीच ब्यूरो अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कल योग सत्र का आयोजन योग मनुष्य को दीर्घ जीवन प्रदान करता है विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए भारतीय तीरंदाज सम्मानित बांग्लादेश और दक्षिण कोरिया के चैनल दूरदर्शन फ्री डिश पर चैनलों को रियलटी शो और कार्यक्रम दिखाए जाते समय बच्‍चों की भागीदारी में संयम और संवेदनशीलता बरतने की सलाह