ENGLISH HINDI Sunday, September 22, 2019
Follow us on
 
पंजाब

डीसी को सौंपी फायर सेफ्टी ऑडिट रिपोर्ट, जीरकपुर में शोरूम्स में बने अवैध होटल्स के पास नहीं प्रबंध

June 08, 2019 09:36 AM
जीरकपुर, जे एस कलेर:
सूरत के कोचिंग इंस्टीट्यूट में आग लगने की घटना के बाद डीसी मोहाली गुरप्रीत कौर सपरा ने जीरकपुर में स्थित बिल्डिंग्स, इमारतों, शॉपिंग मॉल्स तथा अन्य संस्थाओ को अपनी बिल्डिंग के फायर सेफ्टी ऑडिट करवाने के निर्देश दिए थे। डीसी की ओर से यह आदेश जारी करते हुए कहा था कि फायर सेफ्टी ऑडिट करवाने से यह बात सामने आएगी कि इन बिल्डिंग्स में आग लगने की स्थिति पर काबू पाने के लिए क्या-क्या प्रबंध हैं।
डीसी ने आदेशों में कहा था कि यह फायर सेफ्टी ऑडिट प्राइवेट संस्थाओं के अलावा सरकारी विभाग की बिल्डिंग्स को भी करवाना जरूरी है। जीरकपुर क्षेत्र की देखरेख कर रहे डेराबसी दमकल विभाग को 7 जून तक फायर सेफ्टी ऑडिट करवा कर रिपोर्ट मांगी गई थी। लेकिन फायर विभाग की जांच में कई चीजें चौंकाने वाली सामने आ रही हैं।
हादसे के बाद से भी होटल्स व कोचिंग संस्थानों ने सबक नहीं लिया है। कई संस्थानों में तो चढ़ने-उतरने के लिए उचित सीढ़ियां तक नहीं हैं। वहीं, फायर सेफ्टी संबंधी उपकरण भी खस्ता हाल हैं। विभाग ने ऐसे दो दर्जन संस्थानों के चालान काटे हैं, जिसमें उन्हें 10 दिन में खामियां सुधारने के लिए कहा गया है। वरना उनकी अलाटमेंट कैंसिल करने की कार्रवाई प्रशासन द्वारा की जाएगी।
फायर डिपार्टमेंट में पिछले एक हफ्ते से जारी जांच में यह बात उभर कर सामने आई थी कि जीरकपुर क्षेत्र में बड़े पैमाने पर शोरूम्स में बिना विभाग की एनओसी लिए अवैध  होटल व्यवसाय चलाया जा रहा है। इन होटल्स में आग से बचाव का कोई प्रबंध नहीं है जिन्हें विभाग द्वारा बकायदा नोटिस देकर प्रबंध मुकम्मल करने के निर्देश दिए गए हैं।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें