ENGLISH HINDI Tuesday, June 25, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
नहीं रहे स्वतंत्रता सेनानी सुशील रतन, बुधवार को होगा अंतिम संस्कारअपने हृदय सम्राट, पुण्यात्मा, समाज सुधारक स्व: सीताराम जी बागला की पुण्यतिथि पर नतमस्तक हुए क्षेत्रवासीनशाखोरी, ग़ैर-कानूनी तस्करी विरुद्ध 26 को हर जिले में मनाया जायेगा: सिद्धू12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारीजल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत नाभा जेल हत्या मामले के सभी पक्षों की जांच के लिए एस.आई.टी. का गठन मेडिकल शिक्षा के साथ व्यवहारिकता का पाठ पढ़ाया जाएगा एम्स मेंडिप्टी कमिशनर आज सुनेंगे रॉयल एंपायर प्रोजैक्ट के पीडितों की शिकायतें
राष्ट्रीय

एनडीएमए द्वारा कांडला पोर्ट में सीबीआरएन आपात स्थिति प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

June 11, 2019 06:25 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए), दीनदयाल पोर्ट ट्रस्‍ट कांडला, गुजरात में एक प्राथमिक प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। पांच दिवसीय इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत 10 जून को हुई है। कार्यक्रम का उद्देश्‍य सीबीआरएन आपात स्थितियों के संदर्भ में पोर्ट आपात प्रबंधकर्ताओं (एसईएच) में जागरूकता बढ़ाना और उनकी तैयारियों को बेहतर बनाना है।
श्रृंखला का यह चौथा कार्यक्रम है। पूरे देश के बंदरगाहों पर ऐसे कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, जो एसईएच को आपात स्थितियों से निपटने में सक्षम बनाएंगे। इसी वर्ष तीन एसईएच टीमों को मंगलौर, कोच्चि और नवी मुंबई में प्रशिक्षण प्रदान किया गया है।
पोर्ट पर बड़ी मात्रा में रासायनिक, पेट्रो रसायन और अन्‍य सीबीआरएन तत्‍वों के आगमन, भंडारण तथा परिवहन के कारण सीबीआरएन (रसायनिक, जैविक, रेडियाधर्मी और नाभिकीय) संकट का खतरा बना रहता है।
इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को इंडियन पोर्ट एसोसिएशन (आईपीए), नाभिकीय औषधि एवं सम्‍बद्ध विज्ञान संस्‍थान (आईएनएमएएस) और राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के सहयोग से संचालित किया जा रहा है। एसईएच की क्षमता वृद्धि से पोर्ट पर सीबीआरएन सुरक्षा की स्थिति बेहतर होगी।
इस कार्यक्रम में व्‍याख्‍यान और व्‍यावहारिक प्रशिक्षण शमिल हैं। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में संदिग्‍ध पदार्थ को ढूंढने और इसे निष्‍क्रिय करने के कार्य को लाइव प्रदर्शित किया जा रहा है। व्‍यक्तिगत संरक्षा उपकरण (पीपीई) के उपयोग के संबंध में भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसके अतिरिक्‍त मॉक अभ्‍यास भी अयोजित किए जा रहे हैं। सीबीआरएन आपात स्थितियों के दौरान एसईएच को प्राथमिक चिकित्‍सा प्रदान करने तथा मनोवैज्ञानिक-सामाजिक सहयोग का भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
परमाणु ऊर्जा नियामक बोर्ड (एईआरबी) भाभा परमाणु अनुसंधान केन्‍द्र (बीएआरसी) तथा रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के विशेषज्ञ प्रतिभागियों को प्रशिक्षण प्रदान करेंगे।
इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में विभिन्‍न एजेंसियों के 50 प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम के दौरान अन्‍य 200 कार्यरत पोर्ट कर्मियों को इस विषय के बारे में जानकारी दी जाएगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
जल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत मेडिकल शिक्षा के साथ व्यवहारिकता का पाठ पढ़ाया जाएगा एम्स में योग को दिनचर्या में शामिल करने का आह्वान भारतीय नौसेनेा के लिए छह पी75 पनडुब्बियों के निर्माण के लिए अभिरूचि पत्र आमंत्रित मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. निशंक ने किया राष्ट्रीय बाल भवन संस्था का औचक निरीक्षण रीज़नल आउटरीच ब्यूरो अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कल योग सत्र का आयोजन योग मनुष्य को दीर्घ जीवन प्रदान करता है विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए भारतीय तीरंदाज सम्मानित बांग्लादेश और दक्षिण कोरिया के चैनल दूरदर्शन फ्री डिश पर चैनलों को रियलटी शो और कार्यक्रम दिखाए जाते समय बच्‍चों की भागीदारी में संयम और संवेदनशीलता बरतने की सलाह