ENGLISH HINDI Tuesday, June 25, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
महंगी बिजली मुद्दे पर राज्यपाल को मिलेगा 'आप': अरोड़ाअध्यापकों के ऑनलाइन तबादला नीति अब पब्लिक डोमेन में: सिंगलानहीं रहे स्वतंत्रता सेनानी सुशील रतन, बुधवार को होगा अंतिम संस्कारअपने हृदय सम्राट, पुण्यात्मा, समाज सुधारक स्व: सीताराम जी बागला की पुण्यतिथि पर नतमस्तक हुए क्षेत्रवासीनशाखोरी, ग़ैर-कानूनी तस्करी विरुद्ध 26 को हर जिले में मनाया जायेगा: सिद्धू12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारीजल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत नाभा जेल हत्या मामले के सभी पक्षों की जांच के लिए एस.आई.टी. का गठन
हरियाणा

नवीकरणीय ऊर्जा विभाग के परियोजना अधिकारी को संस्पेंड करने के निर्देश

June 12, 2019 10:00 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
भ्रष्टाचार की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए नव एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग, महेंद्रगढ़ के परियोजना अधिकारी संदीप यादव को संस्पेंड करने के निर्देश दिये गए हैं। इसके अलावा, एक अन्य शिकायत में पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक एस. के. बागोरिया को नियम-7 के तहत चार्जशीट किये जाने के निर्देश दिये गए हैं।
परियोजना निदेशक डॉ० राकेश गुप्ता सीएम विंडो के संबंध में नोडल अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। बैठक में नव एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग में आई एक शिकायत जिसमें सोलर वाटर हीटर लगवाने के लिए सरकार द्वारा दी जानी वाली सबसिडी गलत तरीके से इंस्टॉलर कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए दी गई। इस पर संज्ञान लेते हुए डॉ० गुप्ता ने नव एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग, महेंद्रगढ़ के परियोजना अधिकारी संदीप यादव को संस्पेंड करने के निर्देश दिये गए हैं।
पशुपालन विभाग के अंतर्गत आई एक शिकायत, जिसमें कॉन्ट्रेक्टर ने जेसीबी मशीन किराये पर लेने के लिए अपने चहेते ठेकेदार को टेंडर दिलवाने के लिए नकली दस्तावेज प्रस्तुत किये थे। इन दस्तावेजों को विभाग द्वारा सही करार दे दिया गया था। इस शिकायत पर संज्ञान लेते हुए पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक एस. के. बागोरिया को नियम-7 के तहत चार्जशीट किये जाने के निर्देश दिये हैं।
जिला गुरुग्राम, तहसील सोहना से अनाधिकृत रूप से वन विभाग की जमीन पर अवैध कब्जा छुड़वाने की शिकायत प्राप्त हुई, जिस पर संज्ञान लेते हुए वन विभाग ने बैठक में बताया कि आगामी 3 दिन में विभाग द्वारा इस जमीन से अवैध कब्जा छुड़वाकर पॉजेशन ले लिया जाएगा।
पर्यावरण विभाग के अंतर्गत आई एक शिकायत, जिसमें सोनीपत के एक निजी बिल्डर द्वारा पर्यावरण को प्रदूषित करने का आरोप लगाया गया है। इस पर संज्ञान लेते हुए बिल्डर के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।
बैठक में आबकारी एवं कराधान विभाग की ओर से बताया गया कि 226 करोड़ रुपये जीएसटी गबन के मामलों में जनवरी, 2019 के दौरान 45 डीलरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। इस राशि में से 43.36 करोड़ रुपये की रिकवरी कर ली गई है। जांच के दौरान यह भी पता चला है कि इन 45 डीलरों ने हरियाणा के 248 डीलरों के साथ 757 बार लेनदेन और अन्य राज्यों के 184 डीलरों के साथ 342 बार लेनदेन किए हैं। इन अंतरराज्यीय लेनदेन में शामिल जीएसटी लगभग 49.30 करोड़ रुपये की है, जिसमें से ऐसे डीलरों से 7 करोड़ रुपये रिकवर कर लिए गए हैं।
बैठक में बताया गया कि नगर एवं ग्राम आयोजन विभाग के अंतर्गत फरीदाबाद से एक बिल्डर द्वारा नकली दस्तावेजों की सहायता से भवन निर्माण पूरा होने का सर्टिफिकेट प्राप्त किये जाने की शिकायत मिलने पर बिल्डर के खिलाफ एफआईआर की जा चुकी है।
बैठक में साजाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग में आई एक शिकायत जिसमें रिटायर्ड एचसीएस अधिकारी एस. के. सेतिया द्वारा साजाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग में दी गई सेवाओं के लिए 5 माह 17 दिन का वेतन नहीं मिला था।
डॉ. गुप्ता ने सोशल मीडिया पर प्राप्त शिकायतों की भी समीक्षा की और उन विभागों की सराहना की जिन्होंने शिकायत पर तत्काल कार्रवाई की। उन्होंने नोडल अधिकारियों को पिछले साल के कुछ शेष मामलों को एक महीने के भीतर निपटाने का भी निर्देश दिया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारी भर्ती रैलियों के लिए सेना अधिकारियों को सहयोग देने के लिए उपायुक्तों को निर्देश हरियाणा मुक्त विद्यालय अंक सुधार परीक्षा के लिए 24 जून से आवेदन आनलाइन प्रशिक्षण ले रहे 22 आईपीएस अधिकारियों ने की हरियाणा पुलिस महानिदेशक से मुलाकात गलत ताले की चाबी लिए घूम रहे हैं दुष्यंत: विज ट्रैफिक यूनिट को 25 नई मोटर साईकिलें दी होन्डा कम्पनी ने विमान दुर्घटना में शहीद हुए हरियाणा के लेफ्टिनेंट पायलट आशीष तंवर के परिजनों को मुख्यमंत्री ने बंधाया ढांढस सेना में भर्ती 20 से 30 अगस्त तक तेजली खेल परिसर यमुनानगर में नवजात शिशु की मेडीकल केयर देश में अभी भी चिंताजनक: डा. भकू दौलतपुरिया का त्याग पत्र स्वीकार, फतेहाबाद विधानसभा सीट हुई रिक्त