ENGLISH HINDI Monday, July 22, 2019
Follow us on
पंजाब

खुले बोरवैल्लज़ की जानकारी देने पर दिया जायेगा ईनाम

June 14, 2019 06:28 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
राज्य भर में ग़ैर प्रयोग वाले/खुले पड़े बोरवैल्लों को तुरंत बंद करने के लिए, तंदुरुस्त पंजाब मिशन के अंतर्गत पंजाब के सभी डिप्टी कमीश्नरों को तुरंत कदम उठाने के लिए पत्र जारी किया गया जिससे विभिन्न क्षेत्रीय विभागों की सहायता से राज्य में सभी खुले पड़े बोरवैल्लों को भरा जा सके। यह खुलासा तंदुरुस्त पंजाब मिशन के मिशन डायरैक्टर के.एस. पन्नू ने किया।
जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि राज्य भर में खुले पड़े बोरवैल्ल मानवीय सुरक्षा ख़ास तौर पर बच्चों की सुरक्षा के साथ-साथ भूमिगत जल को गंदा करने के कारण चिंता का मुख्य विषय है।
यह सुनिश्चित करने के लिए कि सभी बोरवैल्ल सही ढंग से बंद किये गए हैं, डिप्टी कमीश्नरों को एक प्रचार मुहिम शुरू करने के लिए सुझाव दिया गया है जिससे किसानों को खुले पड़े बोरवैल्ल के खतरों से अवगत करवाया जाये और यह यकीनी बनाया जाये कि उनके खेत में कोई बोरवैल्ल खुला नहीं है। इस सम्बन्धी गाँवों में घोषणाएं की जाएँ। कृषि विभाग द्वारा क्षेत्रीय स्तर पर मीटिंगें की जाएँ जिससे ऐसे बोरवैल्लज़ की पहचान की जाये और किसानों को उनको बंद करने के लिए प्रेरित किया जाये।    

डिफॉलटरों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही और जुर्माने का दिया प्रस्ताव


यह बताया गया कि लगभग ऐसे छोड़े गए बोरवैल्लों के बदले सभी किसानों ने नये बोरवैल्लों के लिए बिजली कनैक्शन प्राप्त किया हुआ है, इसलिए पी.एस.पी.सी.एल. के अधिकारी विशेष तौर पर जूनियर इंजीनियजऱ् यह यकीनी बनाएं कि सभी छोड़े हुए बोरवैल्ल बंद कर दिए जाएँ। इसके अलावा, ग्राम पंचायतों के सभी सदस्यों से तस्दीक करवाने के बाद ग्राम पंचायतें प्रस्ताव पास करें जिससे गाँव के रेवेन्यू अस्टेट (मौऊजा) में कोई बोरवैल्ल खुला न रहे। गाँव में खुले पड़े बोरवैल्लज़ संबंधी तस्दीक करने के लिए गाँव के पंचायत सचिव भी गाँव के सभी नम्बरदारों के साथ संपर्क करें।
इसके अलावा उप-डिविजऩल मैजिस्ट्रेट और सम्बन्धित डिप्टी सुपरीडैंट ऑफ पुलिस (डी.एस.पी.) मिलकर अपने क्षेत्र का दौरा करें और इस मुद्दे की गंभीरता संबंधी लोगों को अवगत करवाएं और अपने अधिकार क्षेत्र में सभी बोरवैल्लों को ढक़ने को यकीनी बनाएं। नगर निगम संस्थाओं के कार्यकारी अधिकारी/कमिश्नर सभी काऊंसलरों से बातचीत करें जिससे आगे इस समस्या संबंधी अपने इलाके के लोगों को जागरूक करें और इस सम्बन्धी अपेक्षित कार्यवाही करें।
पंजाब जल स्रोत और विकास निगम (ट्यूबवैल कॉर्पोरेशन) और पंजाब ग्रामीण जल सप्लाई और सेनिटेशन विभाग, जो भूमिगत जल की सप्लाई और सिंचाई की स्कीमें चला रहे हैं, को अपने ग़ैर-प्रयोग वाले बोरवैल्लज़ अगर कोई हों, को एक महीने के अंदर बंद करें।
तंदुरुस्त पंजाब मिशन के अंतर्गत यह प्रस्ताव दिया गया है कि एक महीने के अंदर-अंदर ऐसे बोरवैल्ल बंद न करने वाले व्यक्तियों के खि़लाफ़ आपराधिक कार्यवाही की जाये। ऐसे बोरवैल्लों के कारण किसी भी तरह का हादसा होने पर ऐसे व्यक्तियों के खि़लाफ़ एफ.आई.आर. दर्ज करके भारतीय दंड नियमावली की विभिन्न धाराओं के अधीन ज़मीन के मालिक को जुर्माना भी लगाया जाये।
पत्र के अनुसार, एक महीने की समय-सीमा के बाद मिशन तंदुरुस्त पंजाब एक इश्तिहार देगा जिसमें आम जनता को छोड़े हुए/खुले पड़े बोरवैल्लों संबधी जानकारी देने के लिए कहा जायेगा जो अभी तक बंद नहीं किये गए हैं। ऐसी जानकारी देने वाले व्यक्ति द्वारा दी जानकारी को तस्दीक करने के बाद 5000/- रुपए का ईनाम दिया जायेगा।
इस सम्बन्धी रिर्पोट मिशन डायरैक्टोरेट द्वारा एक महीने में माँगी गई है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
शार्ट सर्किट से जम्मू से कटड़ा जा रही बस में शॉर्ट सर्किट से धुंआ-धुंआ, बाल-बाल बचे यात्री 100 अनाथ बच्चे डीसी के घर पर बने चीफ गेस्ट, लेने पहुंची स्पेशल बसें सड़क पर घूम रहे गौवंश की संभाल करना अति जरूरी: सिंगला राज्यपाल द्वारा भी सिद्धू का इस्तीफ़ा मंजूर यू.पी. सरकार द्वारा प्रियंका गांधी की ग़ैर-लोकतांत्रिक तरीके से की गई नजऱबंदी का कैप्टन द्वारा विरोध पीने वाले पानी की समय-समय पर जांच के आदेश लिंग निर्धारण टैस्ट करने वाले 60 दोषियों को गिरफ्तार करके 14 मशीनें की सील अनाज वितरण में हेराफेरी के लिए 4 निलंबित कंडी क्षेत्र के किसानों को कँटीली तार लगाने के लिए मिलेगी 50 प्रतिशत की वित्तीय सहायता स्वास्थ्य विभाग का क्लर्क रिश्वत लेता रंगे हाथों काबू