ENGLISH HINDI Monday, November 18, 2019
Follow us on
 
चंडीगढ़

यूक्रेन व रूस में एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए सेमिनार 20 जून को

June 19, 2019 09:02 AM

चंडीगढ़, सुनीता शास्त्री।

यूक्रेन और रूस में एमबीबीएस की शिक्षा विशेषज्ञ सुश्री बुज़ुनार एलिना, प्रतिनिधि दिनेनिप्रापेट्रोव्स्की स्टेट मेडिकल एकेडमी, यूक्रेन और एजूगेन ओवरसीज की सुश्री मरियम गैडमका, जिसके जरिये वह डागेस्तान स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी, रूस, तथा सूमी स्टेट यूनिवर्सिटी जैसे विश्वविद्यालयों का प्रतिनिधित्व करती हैं, ने शहर में मीडिया से बात की।

यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधि शर्तें पूरी करने वाले छात्रों को सेमिनार में मौके पर ही एडमिशन लैटर जारी करेंगे, ऑसम माइग्रेशन सर्विसेज के निदेशक पुनीत रामपाल ने बताया कि सेमिनार का उद्देश्य यूक्रेन और रूस में एमबीबीएस की पढ़ाई के बारे में छात्र समुदाय के बीच जागरूकता उत्पन्न करना ।

इस अवसर पर एमबीबीएस एब्रोड सेमिनार के बारे में जानकारी दी गयी, जो 20 जून को सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक होटल शिवालिक व्यू में आयोजित की जायेगी। यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधि शर्तें पूरी करने वाले छात्रों को सेमिनार में मौके पर ही एडमिशन लैटर जारी करेंगे।

इस अवसर पर ऑसम माइग्रेशन सर्विसेज के निदेशक पुनीत रामपाल ने बताया कि सेमिनार का उद्देश्य यूक्रेन और रूस में एमबीबीएस की पढ़ाई के बारे में छात्र समुदाय के बीच जागरूकता उत्पन्न करना है। सेमिनार में हम ऐसे प्रतिष्ठित संस्थानों में एमबीबीएस प्रोग्राम्स में प्रवेश हेतु छात्रों की सहायता करेंगे, इन देशों के अंतरराष्ट्रीय कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में एमबीबीएस की पढ़ाई बहुत प्रभावी है। पुनीत कहते हैं, प्रवेश प्रक्रिया आसान है,क्योंकि इसमें स्टेप सरल होते हैं। एडमिशन के लिए कोई प्रवेश परीक्षा नहीं है। एमबीबीएस एब्रोड सेमिनार में सुश्री बुज़ुनार एलिना और सुश्री मरियम गैडमका उपस्थित रहेंगी। अलीना ने कहा, एमबीबीएस प्रोग्राम 6 साल के लिए है और शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी है जो भारतीय छात्रों के लिए फायदेमंद है। टोफेल और आइल्ट्स जैसी परीक्षाओं को पास करने की कोई आवश्यकता नहीं है। हम छात्रों के लिए एक विशेष कार्यक्रम भी चलाते हैं जिसके तहत विभिन्न यूरोपीय देशों के सहयोग से एक वैज्ञानिक प्रोग्राम आयोजित किया जाता है। मरियम गैदमका ने कहा, छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिलेगी, क्योंकि शिक्षण स्टाफ में 90 प्रतिशत से अधिक साइंस के प्रोफेसर होते हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
गुणवत्तायुक्त शिक्षा के साथ संस्कारों का समावेश जरूरी : राजेंद्र राणा सन्यासी ही समाज को दिशा दे सकते हैं :आयुषी अयोध्या राम मंदिर फैसला: राष्ट्रीय हिन्दू शक्ति संगठन ने सुप्रीम कोर्ट फैसले का किया स्वागत चिल्ड्रेंस डे: एनजीओ द लास्ट बेंचर्स ने स्टूडेंट्स को किया सम्मानित अमृत कैंसर फाउंडेशन और एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स और एजी ऑडिट पंजाब ने महिला स्टाफ़ के लिए लगाया कैंसर अवेयरनेस एंड डिटेक्शन कैम्प कैन बायोसिस ने पराली से होने वाले प्रदुषण के समाधान के लिए पेश किया स्पीड कम्पोस्ट रोजाना एक हज़ार बार "धन गुरु नानक" लिख रहें हैं मंजीत शाह सिंह मंदिर बनाने के हक में देर से आया सुप्रीम कोर्ट का दरूसत फैसला- सतिगुरू दलीप सिंह जी पूर्वांचल वेलफेयर एसोसिएशन ने गुरु नानक देव के 550वें प्रकटोत्सव के उपलक्ष्य में छठ पूजा स्थल पर दीपमाला सामूहिक विवाह समारोह: राष्ट्रीय हिन्दू शक्ति संगठन ने वैवाहिक जोड़ों को जीवन यापन का समान किया भेंट