ENGLISH HINDI Tuesday, July 16, 2019
Follow us on
पंजाब

हाई—वे किनारे मनमर्जी की पार्किंग, हादसों को न्यौंता

June 23, 2019 09:45 PM

जीरकपुर, जेएस कलेर:
जीरकपुर क्षेत्र से गुजर रहे नेशनल हाईवे के किनारे ढाबों पर खड़े वाहन यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों के लिए परेशानी का कारण बन रहे हैं। सबसे अधिक दिक्कत उन क्षेत्रों में है, जहां हाईवे किनारे ढाबे है। यहां कार व ट्रक चालक व अन्य वाहन चालक मनमर्जी से वाहन को खड़ा कर देते है, जो अक्सर का हादसे का कारण भी बनते हैं। कई मौकों पर इन वाहनों से गंभीर हादसे भी हो चुके हैं। बीती रात भी एक ट्रक की ब्रेक फेल होने पर चालक द्वारा उसे नियंत्रित करने की भरपूर कोशिश की गई लेकिन हाइवे किनारे ढाबे पर खड़े वाहनों से टकराने के बाद तर्क ड्राइवर ने तर्क को फुटपाथ से टकरा नियंत्रित क़िया। टक्कर कारण 15 के करीब गाड़ियों का भारी नुक्सान हुआ, परन्तु जानी नुक्सान से बचाव हो गया। घटना के बाद सड़क पर 2 किलोमीटर लंबा जाम लग गया। घटना के बाद ट्रक चालक मौके से फ़रार हो गया। चंडीगढ़ से अंबाला की तरफ जा रहा एक लोड ट्रक जब यहाँ सेठों के ढाबे के पास पहुँचा तो ट्रक चालक ने सड़क किनारे पार्क की गई करीब 15 गाड़ियों को अपनी चपेट में ले लिया। इस दौरान मौके पर पहुँची पुलिस ने सड़क पर लगे बड़े जाम को खुलवा कर यातायात को सुचारू किया।
सड़क किनारे बेतरतीब ढंग से खड़े रहने वाले वाहनों को हटाने के लिए न तो पुलिस दिखाई देती है न ही पुलिस का हाईवे पेट्रोलिंग वाहन नजर आता है। इस स्थिति में बदहाल यातायात व्यवस्था से हरपल हादसे की आशंका रहती है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
वफादार कुत्ते ने अपने मालिक की जान बचाकर मिसाल पेश की बारिश ने खोली नगर कौंसिल की पोल, थाने व नगर कौंसिल ऑफिस के बाहर भी भरा पानी स्कूटर पर जा रहे परिवार को सांड ने मारी टक्कर, 6 माह की बच्ची की मौत, पत्नी की लात फ्रैक्चर बिना वैरीफिकेशन करवाए किरायेदार खने के आरोप में 2 मकान मालिकों पर केस दर्ज रेगुलाइजेशन पॉलिसी की आड़ में बनाई जा रहीं है अवैध कालोनियां, ठगे जा रहे है लोग जिग-जैग तकनीक ना अपनाने वाले भट्टे 30 सितम्बर के बाद नहीं चल सकेंगे: पन्नू सुखबीर बादल को नशों के मुद्दों पर बोलने का कोई हक नहीं: रंधावा ज़ीरकपुर में डेंगू की दसतक : एक मामला पॉजिटिव बिना वैरीफिकेशन किरयेदार रखने पर 2 मकान मालिकों पर केस दर्ज बरसाती पानी के जमा होने से दुखी हैं लोग, बच्चों का स्कूल जाना हुआ मुश्किल