ENGLISH HINDI Thursday, October 17, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
सिंघपुरा चौक पर फिर शुरू हुआ टैक्सी वालों से अवैध वसूली का खेल, 1000 मंथली के इलावा 200 रुपए प्रति चक्कर वसूलीसुखबीर का अहंकार ही उसे और अकाली दल को ख़त्म करेगा- कैप्टन अमरिन्दर सिंहमोदी जी हरियाणा में मंदी के पर्याय बन गए: कुमारी सैलजालॉरेट फार्मेसी संस्थान कथोग में पांच दिवसीय इंस्पायर" कैंप सम्पन्नवीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमलासाईं बाबा का महासमाधि दिवस: 48 घंटे का साईं नाम जाप सम्पन्नरिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तलशर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्ज
पंजाब

नाभा जेल हत्या मामले के सभी पक्षों की जांच के लिए एस.आई.टी. का गठन

June 25, 2019 09:06 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने न्यू नाभा जेल में बरगाड़ी बेअदबी मामले के मुख्य दोषी की हत्या की जाँच के लिए विशेष जांच टीम (एस.आई.टी) के गठन के आदेश जारी किये हैं।
इस फ़ैसले का ऐलान मुख्यमंत्री ने उच्च पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की उच्च स्तरीय मीटिंग के दौरान किया।
प्रवक्ता ने बताया कि ए.डी.जी.पी कानून व्यवस्था ईश्वर सिंह के नेतृत्व में एस.आई.टी पिछले साल पकड़े गए डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी महिंदर पाल बिट्टू पर हुए घातक हमले के सभी पक्षों की जांच करेगी। कैदियों द्वारा बिट्टू की गई हत्या के पीछे अगर कोई साजिश हुई तो उसका भी एस.आई.टी पता लगाएगी।
एस.आई.टी के सदस्यों में अमरदीप राय आई.जी. पटियाला, हरदयाल मान डी.आई.जी. इंटेलिजेंस, मनदीप सिंह एस.एस.पी पटियाला और कश्मीर सिंह ए.आई.जी काउंटर इंटेलिजेंस शामिल हैं।
घटना को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री ने भविष्य में इस तरह की कोई भी घटना होने से रोकने के लिए सभी कदम उठाने के लिए जेल मंत्री और ए.डी.जी.पी. जेल को कहा है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में इस तरह का उल्लंघन और जेलों की सुरक्षा में किसी भी तरह की कमी को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।
मृतक के विरुद्ध मामलों को वापस लेने की डेरे के अनुयायियों की माँग पर प्रतिक्रिया प्रकट करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कानून अपना रास्ता खुद अपनाएगा। बिट्टू के विरुद्ध मामले में अंतिम जाँच रिपोर्ट अदालत में पेश की गई है और इस सम्बन्ध में कोई भी फ़ैसला लेना अदालत पर निर्भर करता है।
जेल में बिट्टू की हत्या के तुरंत बाद मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया था कि हत्या के दोषियों को सख्त सज़ा का सामना करना पड़ेगा। घटना के बाद राज्य में सुरक्षा प्रबंध पुख़्ता कर दिए गए हैं और अफ़वाहों को फैलने से रोकने के लिए सभी ज़रूरी कदम उठाए गए हैं। मुख्यमंत्री ने राज्य में शान्ति और सांप्रदायिक सद्भावना बनाए रखने के लिए सभी संभव कदम उठाने के लिए सुरक्षा एजेंसियों को निर्देश दिए हैं।
प्राथमिक जाँच के दौरान यह बात सामने आई है कि फऱीदकोट के निवासी 49 वर्षीय बिट्टू पर हमला गुरसेवक सिंह (पुलिस थाना सुहाना, मोहाली) और मनिन्दर सिंह (पुलिस थाना बडाली आला सिंह, फतेहगढ़ साहिब) ने किया है जो एक कत्ल के केस में जेल में थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
सिंघपुरा चौक पर फिर शुरू हुआ टैक्सी वालों से अवैध वसूली का खेल, 1000 मंथली के इलावा 200 रुपए प्रति चक्कर वसूली सुखबीर का अहंकार ही उसे और अकाली दल को ख़त्म करेगा- कैप्टन अमरिन्दर सिंह वीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमला रिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तल शर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्ज हाथ से बनाऐ उत्पादों की राज्य स्तरीय वर्कशॉप कम प्रदर्शनी लगाई स्कूली बच्चे करेंगे किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूक ठोस कूड़ा कर्कट प्रबंधन हेतु कंपनी के साथ समझौता कर काम सौंपा वोटर सूचियों की विशेष समीक्षा कार्यक्रम तारीखों में वृद्धि स्कूल ने पुलवामा के शहीद परिवार की आर्थिक मदद की