ENGLISH HINDI Sunday, July 21, 2019
Follow us on
चंडीगढ़

डॉक्टर ने दो गरीब बच्चों की कोक्लेयर इम्प्लांट सर्जरी के लिए वित्तीय मदद प्रदान की

July 08, 2019 08:47 PM

चंडीगढ़,सुनीता शास्त्री।

अस्पताल में डॉक्टर ने मानवीय पहल के तहत दो गरीब बच्चों की कोक्लेयर इम्प्लांट सर्जरी के लिए वित्तीय मदद प्रदान की। डॉ.धीरज गुरविंदर सिंह, ईएनटी सर्जन ने अपने बड़े भाई जसबीर सिंह धीरज, जो अमेरिका में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं, की मदद से दो बच्चों की सर्जरी की आधी लागत के लिए फंड्स प्रदान किए।

नेपाली प्रवासी मजदूर के बच्चे का कुछ महीने पहले इलाज किया गया था, जबकि दिल्ली के एक ऑटो रिक्शा चालक की 3-वर्षीय बच्ची की आज शैल्बी अस्पताल में डॉ. सिंह व डॉ.ए.के. लहरी सीनियर ईएनटी कंसल्टेंट, सर गंगा राम अस्पताल दिल्ली द्वारा सफलतापूर्वक कोक्लेयर इम्प्लांट सर्जरी की गई।

डॉ.धीरज गुरविंदर सिंह ने आज शैल्बी अस्पताल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया से बात करते हुए कहा कि कोक्लेयर इम्प्लांट की उच्च लागत के कारण गरीब परिवारों के बच्चे अक्सर इस सुविधा से वंचित रह जाते हैं। उन्होंने कहा कि मैं और मेरा भाई सिर्फ उन गरीब बच्चों की मदद करना चाहते हैं जिनके परिवार पैसे की कमी के कारण ये इम्प्लांट नहीं लगवा सकते हैं। डॉ.सिंह ने बताया कि कोक्लेयर इम्प्लांट सर्जरी के बाद, बच्चे सामान्य रूप से 2-सप्ताह के बाद अच्छी तरह से सुनने में सक्षम होते हैं।

बाद में वे स्पीच स्पेशलिसट से ट्रेनिंग लेना शुरू करते हैं और सामान्य जीवन जीने में सक्षम होते हैं।डॉ. लहरी जो भारत में पहले कोक्लेयर इम्प्लांट सर्जनों में से एक हैं, ने बताया कि जन्मजात बहरापन एक हजार नवजात शिशुओं में लगभग 1 से 2 में पाया जा सकता है। ऐसे बच्चों के लिए कोक्लेयर इम्प्लांट ही एकमात्र उपाय है जो बच्चे को सुनने की क्षमता दे सकता है। हम नए जन्मे शिशुओं के बीच इस समस्या को जल्द से जल्द पहचानना चाहते हैं ताकि कोक्लेयर इम्प्लांट सर्जरी से उनकी सुनने की क्षमता को बेहतर किया जा सके। सर्जरी के बाद स्पीच थेरेपी को शुरू किया जाता है ताकि बच्चे स्पीच प्रोसेस को सीखना शुरू कर सकें जो कि इन बच्चों में पहले से विकसित नहीं होती है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
शिवानन्द चौबे ट्रस्ट व समस्या-समाधान टीम ने इंदिरा कॉलोनी के ग्रीन बेल्ट मे पौधा रोपण किया पातर द्वारा कला भवन में हस्त निर्मित कलाकृतियां प्रदर्शनी का उद्घाटन काजल मंगलमुखी शुरू करेंगी किन्नरों के अधिकारों की लड़ाई देव समाज कॉलेज फॉर वीमेन में नये शैक्षणिक ब्लॉक का उद्घाटन किया अनुपयोगी प्लास्टिक को री-साइकिल करना सिखाया एनजी ओ द लास्ट बेंचर ने लगाया मेडिकल कैंप गुरु पूर्णिमा महोत्सव के अवसर पर अखंड हरिनाम संकीर्तन कल से नींद न आने की समस्या को नजऱअंदाज़ न करे: डॉ विरदी खाली प्लॉट में गैरकानूनी तौर पर कचरा डालने से करना पड़ रहा है समस्याओं का सामना वरिष्ठ नागरिक बैंकर्स ने पेंशन विसंगतियां दूर करने का आह्वान किया