ENGLISH HINDI Saturday, September 21, 2019
Follow us on
 
चंडीगढ़

चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर सवारी को छोडऩे आने वालों के लिए प्लेटफॉर्म टिकट जरूरी

July 12, 2019 01:49 PM
चंडीगढ़, सुनीता शास्त्री।
चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर सवारी को छोडऩे आने वालों के लिए प्लेटफॉर्म टिकट जरूरी कर दिया गया है। निजी कंपनी ने प्लेटफॉर्म टिकट का काउंटर संभाल लिया है। 
डीपीडी कैटर्स एंड ट्रांसपोर्टेशन के मालिक धीरेंद्र प्रताप दुबे की देख-रेख में निजी प्लेटफॉर्म काउंटर का उद्धघाटन किया गया। अब से मैन गेट के साथ बने प्लेटफॉर्म काउंटर पर 10 रुपए की प्लेटफॉर्म टिकट मिलेगी व ऐसा ही एक और काउंटर पंचकूला साइड से आने वाले लोगों के लिए भी बनाया गया है। दोनों ही जगह टिकटें उपलब्ध होंगी। दुबे ने बताया कि हमारी टीम में 8-9 लोग शामिल हैं जिनका काम होगा प्लेटफार्म टिकट्स बांटना व अंदर बिना टिकट के घूमने वालों को चेक करना। फिलहाल लोगों का जानकारी न होने की वजह से अंदर मौके पर भी प्लेटफॉर्म टिकट बांटे जाएंगे। जल्द ही जुर्माना लगाने का काम भी शुरू किया जाएगा। टिकट न लेने वालों पर 10 गुना जुर्माना लगाया जा सकता है। इसके साथ ही क्लॉक रूम का भी उद्धघाटन किया गया।
पीएमओ द्वारा वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी रखने वाले रेलवे स्टेशनों पर निजीकरण का काम शुरू किया जा रहा है जिसमें चंडीगढऱेलवे स्टेशन पर प्लेटफॉर्म टिकट के काम को निजी कंपनियों को सौंपने क ा काम भी शामिल है। प्लेटफॉर्म टिकट काउंटर के उद्धघाटन के दौरान शशि शंकर तिवारी, पप्पू शुक्ला, रवि दुबे, प्रशांत कुमार दुबे, अनमोल दुबे, दिलीप दुबे, दी के पांडेय, वी के मिश्रा आदि उपस्थित रहे।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
आपातकाल में 100 की जगह मिलाए 112 इंटीग्रेटेड होगा आपातकाल सिस्टम राजविन्द्र सिंह गुड्डू बने रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान सांसद किरण खेर ने एडवाइजर-चंडीगढ प्रशासन को लिखा पत्र ऑटो वर्कर्स यूनियन ने मनाई विश्वकर्मा जयंती कहो प्लास्टिक को न जागरूकता शिविर भगवान वाल्मीकि शोभायात्रा आयोजक कमेटी के चेयरमैन बने गुरचरण सिंह: निकाली जाएगी भव्य रथ यात्रा ट्राईसिटी वेटर एसोसिएशन ने किया पौधरोपण लास्ट बेंचर्स"-हेल्पिंग द हेल्पलेस ने की"कहो प्लास्टिक को ना" मुहिम की शुरुआत लिप्पी परिदा ने प्रकृति के रंग द ताओ ऑफ थिंग्स, में कैमरे ऑख से पेश किये अरविंदो स्कूल के खिलाड़ियों ने चैंपियनशिप में तीन गोल्ड मेडल झटके