ENGLISH HINDI Monday, September 16, 2019
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

बढ़ती आबादी की समस्या बनती जा रही कई क्षेत्रों में बर्बादी का कारण

August 02, 2019 03:59 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) लगातार बढ़ती आबादी की समस्या अब कई क्षेत्रों में बर्बादी का कारण बनती जा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा कि कुछ समाचार पढ़कर दिल दहल जाता है और सिर शर्म से झुक जाता है। असम की गरीब घर की एक बेटी बिकते-बिकते ऊना पहुंची है। इस प्रकार के समाचार रोज आते हैं। गरीबी की मजबूरी में गरीब प्रदेशों की बेटियां बेची जाती हैं, खरीदी जाती हैं और विदेशों में भी भेजी जाती हैं। क्या कभी यह समाचार भी आया कि किसी संपन्न परिवार की बेटी बेची और खरीदी गई हो। इस शर्मनाक परिस्थिति का एकमात्र कारण कुछ क्षेत्रों में भयंकर गरीबी है और इस गरीबी का सबसे बड़ा कारण बढ़ती आबादी है। उन्होंने कहा कि 28 वर्ष की एक लड़की दिल्ली में फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित है। डाक्टरों ने कहा कि बढ़ते प्रदूषण से दिल्ली की हवा जहरीली हो गई है और उसी के कारण दमा और कैंसर तक की बीमारियां फैल रही हैं। उन्होने ने कहा कि देश की राजधानी विश्व की सबसे अधिक प्रदूषित गैस चैम्बर बन गई है। बढ़ती आबादी के दबाव में अवैध निर्माण व भूमि पर अतिक्रमण बढ़ रहा है। वोट की राजनीति के दबाव में यह सब अवैध कुछ समय के बाद वैध करार दिया जाता है। उन्होंने कहा कि बढ़ती आबादी के कारण बेरोजगारी और गरीबी बढ़ रही है। देश की इन सब समस्याओं के और भी कारण हैं परन्तु सबसे बड़ा कारण लगातार बढ़ती आबादी है। 34 करोड़ से बढ़ कर आज आबादी 141 करोड़ हो गई। 10 वर्षों के बाद भारत आबादी में चीन को पीछे छोड़ देगी। जब भारत दुनिया में सबसे अधिक आबादी वाला और सबसे अधिक भूखे लोगों वाला देश बन जाएगा। बहुत-सी योजनाओं का लाभ होना भी शुरू हुआ है परन्तु सब योजनाएं नीचे तक पहुंचते-पहुंचते प्रशासन की कमजोरी, भ्रष्टाचार और बढ़ती आबादी के कारण एक सीमा तक असफल हो रही हैं। शांता कुमार ने कहा कि पिछले 5 वर्षों से वे लगातार इस संबंध में बोलते, लिखते और अपनी बात सब जगह पहुंचाते रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दो बार पत्र लिखा और कई बार इस विषय पर चर्चा भी हुई है। उन्हें प्रसन्नता है कि उन्होंने उनकी बात ध्यान से सुनी और शीघ्र इसका समाधान करवाने का आश्वासन भी दिया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
मुख्याध्यापक से प्रधानाचार्य पद पर पदोन्नति कोटे में कटौती पर कड़ा विरोध विकास का दम भरने वाली भाजपा की सरकार प्रदेश को विकास की गति देने में पूरी तरह असफल: नरदेव कंवर कैट ने जावेड़कर को ज्ञापन भेजकर प्लास्टिक पर रोक लगाने के सुझाव दिए चार साल पहले गिरे पुल दोबारा नहीं बने तो ग्रामीणों ने अंदोलन की ठानी हिमाचल के दबंग एसपी को लेकर कांग्रेस के रवैये से लोग हैरान हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र शुरू आर्किमिडीज, न्यूटन और आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती उड़ीसा विधान सभा समिति देखेगी 22 को हिमाचल विधानसभा में मानसून सत्र की कार्यवाही बारिश का कहर, 6 जिलों में ये अलर्ट जारी मनाली में अटल की स्मृतियां संजोये गी सरकार