ENGLISH HINDI Monday, August 26, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
नैक्टर लाईफ़ केमिकल फैक्ट्री में हादसे के मामले में डीसी ने जांच के दिए आदेश , 16 ज़ख़्मियों में से एक की हालत गंभीर ब्राह्मण समाज के बेरोजगार नौजवानों के लिए रोजगार के प्रबंध कराएगा ब्राह्मण यूथ विंगबठिंडा में तीन दिवसीय 12वीं जूनियर स्टेट नैटबॉल चेंपिअनशिप 2019-20 धूमधाम से संपन्न पुलिस प्रशासन की नाक के नीचे किसके सरंक्षण में चल रहे अवैध आटो?डॉक्टरों की लापरवाही से गई मासूम की जान, स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेशनिकासी प्रबंधों का आभाव: आधे घंटे की बरसात में ही भबात की सड़कों में भरा पानीकरंट लगने से राजमिस्त्री की मौत का मामला :तिवारी - दुबे ने पुलिस चौकी एवं थाने का घेराव कियासेक्टर 18 की चर्च में लगाया गया जांच शिविर
चंडीगढ़

टोल-फ्री नंबर- शुरु कर बिल्डरों से परेशान लोगों की सहायता में जुटे आलमजीत सिंह मान

August 10, 2019 11:08 PM

चंडीगढ़, सुनीता शास्त्री।

समाज सेवी आलमजीत सिंह मान,32 वर्षो से लगातार दुर्घटनाग्रस्त लोगो और नेत्रहीन ,अनाथ बच्चों के लिए मनोरंजन कार्यक्रम तथा लावारिस लाशों का संस्कार आदि अनेक समाज सेवी कार्य करते हुए अब मान अब बिल्डरो से परेशान लोगों की सहायता में जुटे हैं।

आज पंत्रकारो से रूबरू होते हुए आलमजीत सिंह मान ने ख़ासतौर पर टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 918427953163 उन लोगों के लिए शुरू किया हैजो बिल्डरों से तंग हो रहे हैं, जिन्होनें उनको घर/फ्लैट/प्लाट देने का वायदा किया पर उनकी प्रॉपर्टी की मालकाना हक नहीं मिला, या उनके घर के निर्माण में देरी की जा रही है। बहुत सारे बिल्डर घर भी नहीं देते और पैसे भी वापिस नहीं करते। इस पूरी स्थिति में ग्राहक को बहुत धन हांनि सामना करना पड़ता है और मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता है । दूसरी ओर बिल्डर इन पैसों से अपने परिवारों के साथ छुट्टियों पर जाते है और महंगे गिफ्टों पर खर्च करते हैं।

जुलाइ्र्र 2019 सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मुताबिल बिल्डर कभी भी प्रॉपर्टी की मलकियत देने में देरी नहीं कर सकते। अगर ऐसी कोई देरी होती है तो उन्हें सारे पैसे वापिस करने पड़ेंगे। इस मौके पर आलमजीत सिंह मान ने कहा मैं पिछले पांच वर्ष से सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का इन्तजार कर रहा था। उनहोंने बताया कि पंजाब हिमाचल हरियाणा पूरे नॉर्थ में हजारो बिल्डर हैं जो लोगों को परेशान कर रहे हें । अगर सरकार को भूमि को बचाना है है तो बिल्डरो से बचाना होगा।

उन्होंने बताया कि जो भी लोग उनके पास आयेंगे इस के लिए, ग्राहकों की वकीलों के साथ सारी मीटिंगों और कागजी कोर्ट करवाई का सारा काम खुद अपने पैसे से करूंगा। उनकी कोर्ट जाने से लेकर पूरी फ्री सहायता करूंगा। मैं हमेशा से ही समाज सेवा का हिस्सा रहा हूं। मेरा मानना है कि यह कोई सेवा नहीं है बल्कि हमारी जिकमेदारी है समाजके प्रति। मैंने इस काम के लिए कभी भी किसी भीतरह से कोई दान नहीं लिया। मेरे ऊपर ईश्वर की पूरी कृपा हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
करंट लगने से राजमिस्त्री की मौत का मामला :तिवारी - दुबे ने पुलिस चौकी एवं थाने का घेराव किया सेक्टर 18 की चर्च में लगाया गया जांच शिविर एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स"-हेल्पिंग द हेल्पलेस ने महिलाओं के लिए लगाया मैमोग्राफी और डेकसा जांच शिविर भाजपा के स्तम्भ जेटली के निधन से पार्टी को गहरा धक्का: टंडन चंडीगढ़ को बाल श्रम मुक्त बनाना है: सहगल स्मार्ट ग्राहक बनें, कैरी बैग की कीमत वसूलने वाले स्टोर्स का करें बहिष्कार गांव दड़ुआ में गीले व सूखे कचरे को अलग करने की योजना शुरू कार्यशाला में मृदंगम वादक मननार काएल बालाजी ने दक्षिणी भारतीय ताल की बारीकियां बताई एनएच एम्प्लाइज यूनियन ने प्रशासन के खिलाफ स्वास्थ्य सेवायें बंदकर प्रदर्शन किया स्वास्थ्य और सौंदर्य प्रेमियों के लिए वेगनटिक सुपर फूड्स ने एल्मो-एल्मोंड बेवरेज लॉन्च किया