ENGLISH HINDI Monday, September 16, 2019
Follow us on
 
पंजाब

जमकर हो रहा अवैध निर्माण, बिल्डिंग ब्रांच नोटिस देने तक सीमित

August 23, 2019 11:25 AM

जीरकपुर, जे एस कलेर:
पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट शहर के सुनियोजित विकास मामले में कई बार नगर कौंसिल जीरकपुर को लताड़ लगती रही है, लेकिन सरकार, नेता से लेकर सरकारी नुमाइंदों के सिर पर जूं तक नहीं रेंगी। ऐसा ही बड़ा मामला सामने आया है, जिसमें बिल्डिंग बायलॉज की धज्जियां उड़ाते हुए इमारत खड़ी कर ली गई लेकिन जीरकपुर नगर कौंसिल की बिल्डिंग ब्रांच द्वारा ऐसे निर्माण हटाना तो दूर छुआ तक नहीं गया और पूरी कारवाई केवल नोटिस देने तक ही सीमित रह कर सिमट गई है जिससे ऐसे निर्माण करने वालों के हौसले लगातार बुलन्द होते चले जा रहें हैं।
शहर में शोरूम्स का नक्शा पास करवा होटल निर्माण में बिल्डिंग बाइलॉज की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। अवैध निर्माण का ऐसा पुलिंदा तैयार कर लिया, जिसमें एक सर्विस फ्लोर तक अतिरिक्त बना लिया गया। हालांकि, दो अवैध मंजिल अंकित है। ऐसी कोई भी मंजिल नहीं छोड़ी, जहां नियमों का ध्यान रखा गया हो। हर मंजिल पर स्वीकृत नक्शे के विपरीत निर्माण किया गया। यह खेल अवैध निर्माण को वैध कराने की प्रक्रिया से शुरू हुआ। इसी की आड़ में आज तक होटल का अवैध हिस्सा (जो कम्पाउंड नहीं हो सकता) नहीं तोड़ा गया।
उलटे, नगर कौंसिल प्रशासन इन निर्माणों को ध्वस्त करने की बजाय संशोधित नक्शा जारी करने पर तुला है। इसमें मास्टर प्लान को लेकर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट के आदेश तक को दरकिनार किया जा रहा है।
शहर की नव विकसित कॉलोनियों में इन दिनों तीन मंजिला या इससे ज्यादा की इमारतें देखते ही देखते खड़ी हो रही हैं। छह माह से कम में ही इमारत बना दी जाती है। हालात ये हैं कि पार्किंग के लिए कोई जगह नहीं छोड़ी जा रही बल्कि इस पर भी फ्लैट्स बनाकर बेचे जा रहे हैं। जिधर देखो उधर पंजाब बिल्डिंग बाइलॉज का जमकर उल्लंघन हो रहा है। सेटबैक भी नहीं छोड़ा जा रहा है। कई जगह तो छत पर ही पेंट हाउस बनाकर बेचे जा रहे हैं। विनियमों के अनुसार पार्किंग न छोडऩा या छत पर पेंट हाउस बनाकर बेचना, दोनों ही अवैध हैं। वहीं शहर में शोरूम्स की बेसमेंट्स में दुकानें बनाने के साथ साथ होटल्स भी संचालित किए जा रहे है जबकि यह जगह नक्शे में पार्किंग के लिए अंकित है। शहर में कमर्शियल प्रापर्टी का नक्शा लोअर ग्राउंड, ग्राउंड और फर्स्ट फ्लोर के नक्शे पास करवा इन शोरूम्स में मिलीभगत के चलते दूसरी, तीसरी यह तक कि 5 मंजिल तक निर्माण किया जा रहा है जबकि पार्किंग केवल 2 फ्लोर्स तक ही छोड़ी गई है जिससे शहर में पार्किंग की समस्या दिन ब दिन विकराल होती जा रही है कारणवश लोग सडको पर गाड़िया लगा देते हैं जिससे शहर में जाम बना रहता है। वहीं नक्शे से ज्यादा छज्जे निकाल होटल बना छज्जे पर ही रूम्स बनाए जा रहे हैं जिससे सरकार को तो आर्थिक चुना लग ही रह है साथ कि साथ किसी प्राकृतिक आपदा के समय दुर्घटना की आशंका भी बढ़ जाती है।
इस बारे में जीरकपुर नगर कौंसिल के बिल्डिंग इंस्पेक्टर लखवीर सिंह ने कहा कि उनके द्वारा नियमित तौर पर शहर का दौरा कर ऐसे निर्माण कर्ताओं को नोटिस दिया जाता है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
चोर गिरोह का पर्दाफाश, चोरी में इकट्ठा हुआ सामान बांट रहे तीन में से 2 गिरफ्तार 370 हटाने का विरोध करने वालों के आगे अड़ गए शिव सैनिक नेत्र व दंत चैकअप शिविर में 300 से ज्यादा रोगियो की जांच सड़क हादसे में घायल की इलाज दौरान मौत ज़ीरकपुर में संदिग्ध परिस्थितियों में दिल्ली निवासी लापता भारत विकास परिषद ने विवेकानंद स्कूल के सहयोग से लगाया ब्लड डोनेशन कैंप रामगढ़िया अकाल सभा के पदाधिकारियों की नियुक्ति एयरटेल की भूमिगत केबल डालते कर्मचारियों से एक दर्जन से अधिक अज्ञात व्यक्तियों पर मारपीट का मामला जमीनी विवाद में प्रोपर्टी डीलर को पीटने का आरोप, पांच नामजद 200 फुट एअरपोर्ट रिंग रोड पर एक ट्यूबवेल के कमरे से मिला अज्ञात शव, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की