ENGLISH HINDI Monday, September 16, 2019
Follow us on
 
पंजाब

केमिकल फैक्ट्री में ब्लास्ट होने से 16 कर्मी झुलसे, करोड़ों का नुकसान, पांच की हालत गंभीर

August 24, 2019 10:15 PM

जीरकपुर/डेराबस्सी , जेएसकलेर, पिंकी सैनी

यहाँ बरवाला रोड पर स्थित गाँव सैदपुरा में केमिकल फैक्ट्री नैक्टर लाईफ़ साइंस लिमेटिड यूनिट -2 में शनिवार बाद दोपहर रिएक्टर फटने के साथ ज़ोरदार धमाका हुआ । धमाका इतना ज़बरदस्त था, बेशक आग तो नहीं लगी परन्तु बिल्डिंग की दीवारें टूट गईं और रिएक्टर फटने पर मलबे के नीचे दबा कर मौके पर काम कर रहे 25 कर्मियों में से 16 ज़ख़्मी हो गए, जिनमें पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है।

फैक्ट्री के जी.एम. परमजीत सिंह ने बताया कि इस पलांट में केमिकल के साथ तैयार किए जाते साल्ट के पाउडर को सुखाया जाता है। उन्होंने कहा कि इस दौरान अचानक पलांट में धमाका हो गया जिस के साथ मौके पर काम कर रहे 16 वर्कर ज़ख़्मी हो गए। उ हादसे में करोड़ों रुपए का नुक्सान हुआ है जिसमें तैयार और कच्चा माल, मशीनरी और इमारत शामिल है। जांच के बाद सामने आएगा कि हादसा क्यों और कैसे हुआ है।

 हादसे में फैक्ट्री का करोड़ों रुपए की मशीनरी, कच्चा और तैयार माल और इमारत का नुक्सान बताया जा रहा है।
जानकारी मिलने के बाद में एस.पी. मुख्यालय गुरसेवक सिंह, एस.डी.एम. डेराबस्सी पूजा सयाल ग्रेवाल और डी.एस.पी. डेराबस्सी मनजीत सिंह औलख मौके पर पहुँच कर राहत काम देख रहे थे। ज़िक्रयोग्य है कि गत महीने यहाँ की केमिकल फैक्ट्री पीसीसीपीएल में आग लगने व ब्लास्ट में तीन कर्मी झुलसने के इलावा दर्जनों ज़ख़्मी हो गए थे ।

 
  
मौके से मिली जानकारी अनुसार बरवाला रोड पर स्थित उक्त केमिकल कंपनी इलाके की नामी कंपनी है जहाँ अलग.अलग तरह की दवाएं के साल्ट तैयार किए जाते हैं। इस कंपनी में आज बाद दोपहर तकरीबन सवा तीन बजे प्रोडक्शन ब्लाक की पहली मंजिल पर रिएक्टर फटने के साथ ज़ोरदार धमाका हुआ । धमाका इतना ज़बरदस्त था जिसने दो मंजिलें इस पलांट की दीवारों तोड़ दीं। धमाके के साथ प्लांट में लगे तीन छोटे रिएक्टर उड़ कर बाहर गिरे, जो बाहर खडे एक केमिकल के साथ भरे टैंकर के साथ टकराए जिसके साथ टैंकर लीक करने लग गया और उसमें से कैमीकल बाहर गिरने लग गया। उक्त पलांट में मौके पर 25 के करीब वर्कर काम कर रहे थे, जिससे 16 बलास्ट और इमारत की दीवारों गिरने और साथ मलबे के नीचे दब कर गंभीर ज़ख़्मी हो गए। हादसे के बाद में फायर ब्रिगेड की टीम ने मौके पर पहुँच कर बचाव कार्य शुरू करते हुए ज़ख़्मियों को सरकारी अस्पताल पहुँचाया। पांच ज़ख़्मियों की नाजुक हालत देखते इन्हें चंडीगढ़ सैक्टर 32 अस्पताल में रैफर कर दिया, जहां इनकी हालत नाजुक बनी हुई है. मौके पर 22 सालों के एक वर्कर अनुज को तकरीबन पौने दो घंटे बाद मबले के नीचे से निकाला जा सका जिसकी हालत काफ़ी नाजुक बनी हुई है।

डी.एस.पी. डेराबस्सी मनजीत सिंह औलख ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी है जिसके बाद अगली कार्रवाई की जाएगी. पुलिस के पास 16 ज़ख़्मियों की जानकारी पहुँची है।

फैक्ट्री के जी.एम. परमजीत सिंह ने बताया कि इस पलांट में केमिकल के साथ तैयार किए जाते साल्ट के पाउडर को सुखाया जाता है। उन्होंने कहा कि इस दौरान अचानक पलांट में धमाका हो गया जिस के साथ मौके पर काम कर रहे 16 वर्कर ज़ख़्मी हो गए। उ हादसे में करोड़ों रुपए का नुक्सान हुआ है जिसमें तैयार और कच्चा माल, मशीनरी और इमारत शामिल है। जांच के बाद सामने आएगा कि हादसा क्यों और कैसे हुआ है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
चोर गिरोह का पर्दाफाश, चोरी में इकट्ठा हुआ सामान बांट रहे तीन में से 2 गिरफ्तार 370 हटाने का विरोध करने वालों के आगे अड़ गए शिव सैनिक नेत्र व दंत चैकअप शिविर में 300 से ज्यादा रोगियो की जांच सड़क हादसे में घायल की इलाज दौरान मौत ज़ीरकपुर में संदिग्ध परिस्थितियों में दिल्ली निवासी लापता भारत विकास परिषद ने विवेकानंद स्कूल के सहयोग से लगाया ब्लड डोनेशन कैंप रामगढ़िया अकाल सभा के पदाधिकारियों की नियुक्ति एयरटेल की भूमिगत केबल डालते कर्मचारियों से एक दर्जन से अधिक अज्ञात व्यक्तियों पर मारपीट का मामला जमीनी विवाद में प्रोपर्टी डीलर को पीटने का आरोप, पांच नामजद 200 फुट एअरपोर्ट रिंग रोड पर एक ट्यूबवेल के कमरे से मिला अज्ञात शव, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की