ENGLISH HINDI Thursday, January 23, 2020
Follow us on
 
पंजाब

ब्राह्मण समाज के बेरोजगार नौजवानों के लिए रोजगार के प्रबंध कराएगा ब्राह्मण यूथ विंग

August 25, 2019 10:06 PM

माईसरखाना में मालवा प्रांतीय ब्राह्मण सभा और संस्कृत महाविद्याल (यूथ विंग) की हुई बैठक में लिए गए कई अन्य अहम फैसले।

माईसरखाना /बठिंडा:  देश के अंदर ब्राह्मण समाज में दिन-प्रतिदिन बढ़ रही बेरोजग़ारी और आर्थिक तंगी को देखते हुए समाज के युवा वर्ग ने रविवार को जिला बठिंडा के माईसरखाना में आपातकालीन बैठक की। जिसमें मालवा के 11 जिलों से संबंधित युवा प्रतिनिधि एकत्रित हुए। ब्राह्मण नौजवान वर्ग को बेरोजगारी की समस्या से बाहर निकाल उन परिवारों की आर्थिक तंगी दूर करने के लिए ब्राह्मण समाज के यूथ विंग की ओर से कई अहम फैसले लिए गए।

  बैठक की अध्यक्षता मालवा प्रांतीय ब्राह्मण सभा और संस्कृत विद्यालय के कोषाध्यक्ष एवं मालवा यूथ विंग प्रधान भुपिंदर शर्मा ने की। इस मौके पर सभा के मुख्य सरप्रस्त करन अवतार कपिल (एडवोकेट), प्रधान लाभ राम शर्मा, उप-प्रधान नरेश शर्मा, महा सचिव बीरबल दास भी उपस्थित थे।

बैठक को संबोधन करते हुए यूथ विंग के मालवा प्रधान भुपिंदर शर्मा ने संबोधन करते हुए कहा कि ब्राह्मण समाज अपने पैतृक कर्म से दूर हो गया है। प्राचीन ज़्यादातर ग्रंथ संस्कृत भाषा में हैं, यदि ब्राह्मण समाज के साथ जुड़े नौजवान स्कूलों कालेजों में क्षेत्रीय तथा अन्य भाषायों के साथ संस्कृत भाषा को प्रमुखता देने लगेंगे और संस्कृत में उच्च योग्यता हासिल करेंगे तो वह समय बहुत जल्दी आ जायेगा, जब देश के बीच तमाम प्रांतीय सरकारों को मजबूरन संस्कृत भाषा को प्रमुखता देनी ही पड़ेगी।

उन्होंने बताया कि देश के अंदर संस्कृत के स्कूल-कालेज शुरू होंगे तो ब्राह्मण समाज के संस्कृत पढ़े लिखे बेरोजगार नौजवान रोजगार हासिल कर सकेंगे। उन्होंने समाज के अंदर बढ़ रही कुरीतियों का कारण भी बेरोजगारी और परिवारों के अंदर आर्थिक समस्या ही बताया। उन्होंने चिंता ज़ाहिर करते हुए कहा कि ब्राह्मण समाज किसी समय पर उच्च कोटी का वर्ग माना जाता था। परन्तु समय के बदलाव ने विपरीत कर दिया है। जिसका पुर्नजन्म करने के लिए मालवा ब्राहमण यूथ विंग रचनात्मिक योजनाएं तैयार करेगा। 

बैठक में सोनी शर्मा (मानसा), बलविन्दर शर्मा-भैनी बाघा (मानसा), करनजीत शर्मा-ख्याला कलां (मानसा), पंकज कुमार और संदीप कुमार-कोटकपूरा (फरीदकोट), प्रमोद शर्मा-आहलोवाल (पटियाला), चरनजीत शर्मा (मुक्तसर), मुनीश शर्मा, हुसनप्रीत शर्मा और सुशांत शर्मा (बठिंडा), परमिंदर कुमार (मोगा), मुकेश शर्मा (फाजिल्का), किशोर शर्मा, हरमन शर्मा और मंगलदीप शर्मा (बरनाला) के इलावा अबोहर, संगरूर, लुधियाना व फिरोजपुर से भी कई युवा अधिकारी उपस्थित हुए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें