ENGLISH HINDI Friday, January 17, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

एम्स में आई बैंक का शुभारंभ

August 26, 2019 09:20 PM

ऋषिकेश (ओम रतूड़ी) अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में स्थापित आई बैंक का सोमवार को निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने औपचारिक शुभारंभ किया। नेत्र विभाग की ओर से स्थापित आई बैंक के माध्यम से अब इच्छुक लोगों के नेत्रदान का संकल्प साकार हो सकेगा।
एम्स के नेत्र विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में सोमवार को बतौर मुख्यअतिथि संस्थान के निदेशक ने संस्थान के नेत्र कोष की शुरुआत करते हुए कहा कि वर्तमान में कार्निया अंधेपन की समस्या लगातार बढ़ रही है, इस समस्या का समाधान नेत्रदान के संकल्प से ही संभव है। प्रो. कांत ने कहा कि ऐसी स्थिति में आई बैंक की भूमिका अहम हो जाती है, लिहाजा उनकी संख्या में बढ़ोत्तरी स्वाभाविक हो गई है। उन्होंने बताया किएक व्यक्ति के नेत्रदान के संकल्प से दो दृष्टिहीन लोगों को नेत्र ज्योति मिल जाती है। एम्स निदेशक ने बताया कि सामाजिक संस्था द हंस फाउंडेशन व विश्व प्रसिद्ध नेत्र संस्थान एलवी प्रसाद आई इंस्टीट्यूट हैदराबाद के सहयोग से स्थापित संस्थान के स्टेट ऑफ आर्ट आई बैंक में एडवांस तकनीकि सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। नेत्र विभाग के प्रमुख प्रो. संजीव कुमार मित्तल ने बताया कि संस्थान के आई बैंक में स्लिप लैंप, स्पैक्यूलर माइक्रोस्कोप लैमिनार फ्लोहुड आदि आधुनिक सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि संस्थान लोगों को नेत्रदान को लेकर जागरुक करने के लिए अभियान चला रहा है, जिसके तहत बृहस्पतिवार को पब्लिक लेक्चर का आयोजन किया जाएगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
बीएमटीसी की प्रबंध निदेशक ने चलाई वाल्वो बस, कहीं प्रशंसा तो कहीं आलोचना जांच के दायरे में करीब 20 हजार लोग, दिल्ली पुलिस कर रही है पड़ताल भारत लहराएगा दुनिया में 5जी इंटरनेट का परचम, इसरो ने ताकतवर संचार उपग्रह किया लॉन्च जनगणना कार्य के लिए प्रारंभिक तैयारियां आरम्भः मुख्य सचिव जल होगा तो सब होगा: स्वामी चिदानन्द सरस्वती चिकित्सक को चिकित्सा ज्ञान के साथ व्यवहार कुशल होना भी जरुरी: प्रो. कांत फरवरी से अयोध्या में दुनिया का सर्वश्रेष्ठ 100008 कुंडीय श्री सीताराम महायज्ञ नागरिकता संशोधन विधेयक किसी के भी विरोध में नहीं: स्वामी चिदानन्द सरस्वती गंगा नदी पर अवैध प्लेटफ़ार्म बनाने के विरोध में नगर आयुक्त को ज्ञापन पूर्व मंत्री ने आश्वासन पर किया आमरण अनशन स्थगित