ENGLISH HINDI Friday, January 17, 2020
Follow us on
 
चंडीगढ़

गौ माता चलता-फिरता देवालय है: मणि महाराज

August 27, 2019 08:40 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पावन सुअवसर पर गोपाल गोलोक धाम गौशाला कैम्बवाला में गौ-गंगा कृपाकांक्षी पूज्य श्री गोपाल मणि जी के पावन सानिध्य में धेनु मानस गौ कथा निरंतर 24 से 28 अगस्त तक हो रही है। गौ कथा में 29 राज्यों के प्रतिनिधि अपने हजारों गौ भक्तों के साथ भाग ले रहे हैं।
तीसरे दिन की कथा में गुरु जी के मुखारविंद से गौ माता की महिमा तथा हमारी संस्कृति में गौ माता को सर्वोच्च स्थान एवं हमारी परंपरा के महत्व के विषय में निरंतर ज्ञान बरसता रहा। गोपाल मणि महाराज ने बताया कि हमारी संस्कृति इतनी महान है, हमारी परंपरा इतनी महान है कि हम प्रतिष्ठा देकर एक पत्थर को भी, एक प्रतिमा को भी भगवान बना देते हैं। तब गौमाता तो चलता फिरता देवालय है, विश्व की मां है। हमारे वेद, पुराणों एवं ग्रंथों ने, हमारे पूर्वजों ने, हमारे बड़ों ने, गाय को माता के रूप में स्वीकार किया है। पुराने जमाने में हमारी दादी, नानी, घर की माताएं सबसे पहले सुबह उठकर गाय की पीठ पर हाथ फेरा करती थी। इस हाथ फेरने का मतलब कि हमने सुबह-सुबह सूर्यनारायण प्रभु से हाथ मिला लिया। गाय के शरीर में 33 कोटि रोम होते हैं। गाय के शरीर के 33 करोड़ रोम वह 33 कोटि देवी-देवता है। हमें गौ माता को सम्मान देना चाहिए। यदि हम गौ माता को सम्मान देते हैं तो हमारा जीवन सुधर जाएगा। आज रिश्तों में अनेकों विकृतियां आ गई हैं। बच्चे मां-बाप की बात नहीं मानते। वह इसी कारण हो रहा है क्योंकि हम अपनी संस्कृति, अपनी परंपरा, अपने पूर्वजों की बातें, अपने वेदों और ग्रंथों में कहीं बातों को नजरअंदाज कर रहे हैं। हमें उन सब मूल्यों को जीवन में वापस उतारना होगा। गौमाता को सम्मान देकर हम अपना जीवन सुधार सकते हैं। हमारे हाथ जगन्नाथ प्रभु के हाथ हैं। इन्हें हम रोज गौ माता की सेवा में जीवन के सारे कष्टों को दूर करें।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
सूद बने चंडीगढ़ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष, टंडन बने राष्ट्रीय परिषद् के सदस्य अनजान व्यक्ति पर कभी भी भरोसा न करे: ममता समाजवादी पार्टी ने डिम्पल यादव का जन्म दिन मनाया आल कांट्रैक्चयुल कर्मचारी संघ ने चंडीगढ प्रशासन और नगर निगम के खिलाफ किया रोष प्रदर्शन होम्योपैथी से दिल के सुराख का ईलाज अब संभव: डॉ अनुकांत गोयल मकर संक्रांति के पावन पर्व के उपलक्ष्य में उद्योगपतियों ने भंडारे का किया आयोजन वाल्मीकि जयंती के पोस्टर लगाने पर लाखों का जुर्माना ठोकने पर चण्डीगढ़ नगर निगम के खिलाफ युवा कांग्रेस का चक्का जाम लोहड़ी पर्व:सिया ने देश की बेटियों निर्भया और डॉक्टर प्रियंका को दी श्रद्धांजलि डोर टू डोर गारबेज कलेक्टर ने पूर्व मेयर राजेश कालिया और निगम कमिश्नर के खिलाफ खोला मोर्चा 106 सीआरपीएफ अधिकारियों एवं कार्मिकों ने रक्तदान किया