ENGLISH HINDI Saturday, September 21, 2019
Follow us on
 
चंडीगढ़

आल कॉन्ट्रैक्चुअल कर्मचारी संघ लंबित मांगों को लेकर सांसद को सौंपना चाहा ज्ञापन, नहीं मिली कर्मियों से

September 06, 2019 09:07 PM

पर्सनल सेक्रेटरी ने स्वीकार किया ज्ञापन

चंडीगढ़:एम.पी. किरण खेर ने अपने चुनावी घोषणापत्र में कांट्रैक्ट सेवाओं को नियमित करने के लिए वादा किया था। आल कांट्रैक्च्युअल कर्मचारी संघ ने अपनी मांगों की शिकायतों के लिए स्थानीय एम.पी. के साथ बैठक करने की कई बार कोशिश की लेकिन सभी व्यर्थ रहीं । आज भी इसी सम्बन्ध में बड़ी संख्या में कांट्रैक्ट कर्मचारी और आउटसोर्सिंग कर्मचारी अपनी मांगों के समर्थन में ज्ञापन पत्र सौंपने हेतु सांसद किरण खेर के आवासीय कार्यालय में एकत्रित हुए। लेकिन उन्होने चंडीगढ़ में उनकी भारी जीत के बाद सांसद को अपने आफिस से फिर से गायब पाया । उनकी गैरमौजदगी में उनके पर्सनल सेक्रेटरी उमाकांत तिवारी ने ज्ञापन पत्र स्वीकार किया।

आल कांट्रैक्चुअल कर्मचारी संघ के प्रधान अशोक कुमार ने बताया कि चंडीगढ़ प्रशासन ने संविदा कर्मचारियों की जगह नियमित नियुक्तियों के लिए शिक्षा, उच्च शिक्षा और अन्य विभागों में अतिथि शिक्षक, व्याख्याता, क्लर्क और अन्य श्रेणियों के पदों का विज्ञापन देना शुरू कर दिया। उन्होंने आगे बताया कि 25 साल से संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण के लिए या तो कोई केंद्रीय दिशा-निर्देश नहीं है और न ही प्रशासन पंजाब की रैगुलराइजेशन नीति 2011 से प्रशासन इन कांट्रैक्ट वर्कर्स को नियमित कर रहा है.

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
भागवत कथा सुनने रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया(अ) के सचिव हरिकृष्ण हैरी आपातकाल में 100 की जगह मिलाए 112 इंटीग्रेटेड होगा आपातकाल सिस्टम राजविन्द्र सिंह गुड्डू बने रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान सांसद किरण खेर ने एडवाइजर-चंडीगढ प्रशासन को लिखा पत्र ऑटो वर्कर्स यूनियन ने मनाई विश्वकर्मा जयंती कहो प्लास्टिक को न जागरूकता शिविर भगवान वाल्मीकि शोभायात्रा आयोजक कमेटी के चेयरमैन बने गुरचरण सिंह: निकाली जाएगी भव्य रथ यात्रा ट्राईसिटी वेटर एसोसिएशन ने किया पौधरोपण लास्ट बेंचर्स"-हेल्पिंग द हेल्पलेस ने की"कहो प्लास्टिक को ना" मुहिम की शुरुआत लिप्पी परिदा ने प्रकृति के रंग द ताओ ऑफ थिंग्स, में कैमरे ऑख से पेश किये