ENGLISH HINDI Wednesday, July 15, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

आश्विन शारदीय नवरात्र मेलों की तैयारियों शुरू, ज्वालामुखी में आयोजित की गई बैठक

September 16, 2019 10:54 PM

ज्वालामुखी (विजयेन्दर शर्मा)

प्रसिद्ध शक्तिपीठ ज्वालामुखी में नवरात्र मेले 29 सितंबर से 08 अक्तुबर, 2019 तक आयोजित किये जाएंगे। यह जानकारी देते हुए सहायक आयुक्त मंदिर एवं एसडीएम ज्वालामुखी अंकुश शर्मा ने बताया कि मेले की तैयारियों को लेकर आज मंदिर न्यास के बैठक कक्ष में बैठक आयोजित की गई ।

उन्होंने मेलों के दौरान साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था एवं स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित बनाने तथा मेलों के दौरान सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर अस्थाई शौचालयों की सुविधा उपलब्ध करवाने के सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंनेे सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पेयजल स्त्रोतों की साफ सफाई सुनिश्चित बनाने तथा सभी स्त्रोतों की क्लोरीफिकेशन के निर्देश दिए। उन्होंने लोगों से बाजार में बिकने वाले खुले में रखे खाद्य पदार्थों का सेवन न करने का आग्रह करते हुए कहा कि दूषित खाद्य पदार्थों के सेवन से कई बीमारियो के फैलने का अंदेशा बना रहता है।

उन्होंने कहा कि पुलिस, स्वास्थ्य, लोक निर्माण, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य, गृह रक्षा, परिवहन, विद्युत, इत्यादि सम्बन्धित विभाग पर्यटकों एवं श्रद्धालुुओं को हर सम्भव सहायता एवं सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए तत्पर रहें। उन्होंने कहा कि मंदिर रोड़ पर ढ़ोल-नगाड़े और भिक्षा देने पर पूर्ण प्रतिबन्ध रहेगा। साथ ही कन्या पूजन के लिए पहले से एक निश्चित स्थान निर्धारित किया जाएगा। लंगर में परोसे जाने वाले भोजन की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए और लंगर में दी जाने वाली वस्तुयें पहले से निर्धारित की जाएँ। अंकुश शर्मा ने कहा कि व्यवस्थाओं को सुव्यवस्थित करना उनकी प्राथमिकता रहेगी।। स्थानीय व बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि वह नवरात्रोें के दौरान स्थानीय प्रशासन, मंदिर समितियों व धार्मिक स्थलों के स्वयंसेवी श्रद्धालुओं को व्यवस्था बनाये रखने में अपना सहयोग दें। उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में वाहनों में क्षमता से अधिक लोगों को न भरा जाये। यातायात नियमों का शक्ति से पालन करें ताकि दुर्धटनाओं तथा अनावश्यक जाम से बचा जा सके।  श्रद्धालुओं से अपने सामान तथा बच्चों को अकेले न छोडने का आग्रह करते हुए कहा कि किसी भी अनजान व्यक्ति पर भरोसा न करें तथा अपने खान-पान पर विशेष एतियात बरतें ताकि किसी भी प्रकार की अनहोनी से बचा जा सके। इस अवसर पर तहसीलदार एवं मंदिर अधिकारी बी.डी शर्मा, तहसीलदार जगदीश चन्द सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, प्रधान व्यापार मंडल, मंदिर प्रशासन, मंदिर नयास सदस्य व विभिन्न धर्मशालाओं के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
असां दी मुन्नी असां दा स्वाभिमान : परमार राज्य जलवायु परिवर्तन केन्द्र ने की बर्फ आवरण की मैपिंग शिव अराधना के लिए सर्वोत्तम है सावन का महीना आंगनवाड़ी कार्यकर्ता पदों के लिए 31 जुलाई को ज्वालामुखी में साक्षातकार सब्जी उत्पादन कर सुधारी आर्थिकी, स्वरोजगार से चुनी आर्थिक स्वावलंबन की राह कृषि उपकरणों पर अनुदान से किसानों में बढ़ा आधुनिक तकनीक के प्रति रुझान वरिष्ठजनों को मनोरंजक स्थान प्रदान करने के लिए विकसित होंगे 100 उद्यान एवं पार्क समाजसेवी संस्था इंक्रेडिबल कांगड़ा ने किया उपायुक्त को सम्मानित होनहार बेटियों को शुभकामनाएं देने पहुंचे एसडीएम हिमकोस्ट ने सूर्यग्रहण पर विद्यार्थियों से राइट-अप और प्रेजेंटेशन मांगे