ENGLISH HINDI Wednesday, October 16, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
वीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमलासाईं बाबा का महासमाधि दिवस: 48 घंटे का साईं नाम जाप सम्पन्नरिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तलशर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्जराष्ट्रीय गौरव सम्मान अवार्ड से सम्मानित हुए लढा व ढिढारियाशाह सतनाम जी शिक्षण महाविद्यालय में दो दिवसीय प्रतिभा खोज का आयोजनउपग्रह तकनीकी द्वारा पृथ्वी अवलोकन विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजितकांग्रेस प्रत्याशीयों के समर्थन मेें किया प्रचार
राष्ट्रीय

तीसरा विश्व हिमालय सम्मेलन अगले वर्ष नेपाल में

September 19, 2019 08:12 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
सेव दि हिमालय फाउंडेशन का तीसरा अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 2020 में नेपाल में होगा। इसकी तैयारी के लिए, एक उच्च-स्तरीय बैठक हाल ही में काठमांडू में संपन्न हुई। बैठक का आयोजन चौधरी फाउंडेशन, इकीमोड तथा हिमालएशिया संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से किया गया था। अंतर्राष्ट्रीय हिमालय सम्मेलन का उद्देश्य हिंदू कुश हिमालय में विज्ञान, व्यवसाय और समुदाय को आपस में जोडऩा होगा।
सेव दि हिमालय फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष, विख्यात बौद्ध गुरु, भिक्खु संघसेना, फाउंडेशन की प्रोजेक्ट मैनेजर फरिहा फातिमा तथा इसके कार्यकारी सदस्य कर्नल प्रकाश तिवारी ने बैठक में भाग लिया। इसमें विभिन्न हितधारकों और डब्ल्यूडब्ल्यूएफ नेपाल, इकिमोड, यूएनडीपी, यूनेस्को, संयुक्त राष्ट्र वैश्विक प्रभाव तथा विभिन्न यूरोपीय देशों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
सेव दि हिमालय फाउंडेशन- चंडीगढ़ चैप्टर के महासचिव, नरविजय यादव ने कहा, 'हिमालय आज जलवायु परिवर्तन, सामाजिक-आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि, पर्यटन और आधुनिकीकरण के कारण अनेक संकटों का सामना कर रहा है। इसलिए, हिमालय क्षेत्र की रक्षा, संरक्षण और विकास पर अधिक ध्यान देना अत्यंत आवश्यक है। यह सभी लोगों की जिम्मेदारी है, चाहे उनकी जाति, धर्म और राष्ट्रीयता चाहे जो भी हो। '
फाउंडेशन के उद्देश्य से प्रभावित होकर, नेपाल के एकमात्र अरबपति श्री चौधरी ने 2020 में नेपाल में तीसरे सम्मेलन की मेजबानी करने में गहरी दिलचस्पी दिखायी थी। सम्मेलन के बारे में विचार-विमर्श करने और सभी हितधारकों को एक मंच पर लाने के लिए गोदावरी स्थित इकीमोड नॉलेज पार्क में पहली बैठक आयोजित की गयी थी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें