ENGLISH HINDI Monday, October 14, 2019
Follow us on
 
चंडीगढ़

आपातकाल में 100 की जगह मिलाए 112 इंटीग्रेटेड होगा आपातकाल सिस्टम

September 20, 2019 11:25 AM

जेएस कलेर 

चण्डीगढ़: अमेरिका के डायल 911 की तर्ज पर आब 112 डायल कर सभी तरह की आपातकाल की सूचना दी जा सकती है। अमेरिका में 911 ऑल-इन-वन आपातकालीन सेवा के तर्ज पर आपातकालीन सेवाओं के लिए एक ही संख्या की योजना बनाई गई है, जोकि वहां काफी कारगर साबित हो रही है।

जानकारी अनुसार, नियंत्रण रूम का डिजाइन और प्रारंभिक अनुमान इंजीनियरिंग विभाग ने तैयार किया था। इस सेवा के लिए प्रशिक्षित व्यक्तियों को नियंत्रण कक्ष में नियुक्त किया जाएगा। इसके लिए हिंदी, अंग्रेजी, पंजाबी और अन्य भाषाओं में धाराप्रवाह बोलने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। बीते साल यूटी ने सभी आपातकालीन सेवाओं के लिए एकल नंबर लांच करने की योजना की कल्पना की थी, लेकिन एमएचए से मंजूरी नहीं मिलने के चलते परियोजना लटक गई थी।

सिटी ब्यूटीफुल में रहने वाले लोगों को अब आपातकाल में अलग-अलग नंबर याद रखने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अब 100 नंबर की जगह 112 नंबर को लांच कर उद्घाटन करने के लिए सिटी ब्यूटीफुल में देश के गृहमंत्री अमित शाह आ रहें हैं। जिसके लिए सेक्टर-9 स्थित पुलिस हेडक्वाटर में एक छत के नीचे स•ाी विभागों की टीम बैठाने के लिए कंट्रोल रूम भी तैयार किया गया है।

जहां पर हर आपातकाल में सिर्फ 112 नंबर डायल करते ही पुलिस, एंबुलेंस समेत सभी प्रकार की सहायता उपलब्ध हो जाएंगी। दरअसल, यूटी पुलिस इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबरों का बोझ कम करने के लिए हर तरह की आपात सेवा के लिए यह नंबर लांच कर रही है। जहां पर लोगों की मदद करने के लिए हेल्थ, फायर ब्रिगेड और पुलिस कंट्रोल रूम बनाया गया है। जहां पर किसी भी स्थिति के लिए 100 नंबर की जगह लोगों को 112 पर कॉल करना होगा।

बता दें कि वर्तमान में पुलिस अग्निशमन, आपदा, सडक दुर्घटना समेत अन्य विपदाओं के लिए अलग-अलग टोल फ्री नंबर हैं। ऐसी स्थिति में जरूरत पडऩे पर कई बार याद ही नहीं आता कि किस टोल फ्री नंबर से उसे मदद मिलेगी। इसी समस्या के समाधान के लिए हर तरह की आपात सेवा के लिए एक टोल फ्री नंबर लांच करने का खाका तैयार किया गया है। जो लोगों को हर तरह की मदद के लिए सिर्फ 112 नंबर याद रखना होगा। यहां से फोन कॉल आवश्यकता अनुसार पुलिस, अस्पताल, अग्निशमन व अन्य संबंधित विभागों को ट्रांसफर की जाएगी। खास बात यह भी है कि अगर मोबाइल फोन में सीम कार्ड नहीं लगें हैं तो तब भी लोग आपातस्थिति में फोन कर सकेंगें।

एसएमएस के जरिये पहुंच सकती है बात
बता दें कि अभी तक पुलिस के लिए 100 नंबर डायल करना होता। था, फायरब्रिगेड के लिए 101, एंबुलेंस के लिए 102 तथा आपात आपदा प्रबंधन के लिए 108 नंबर डायल करना होता है। लेकिन अधिकारी ने कहा कि दूरसंचार ऑपरेटरों को सभी इमरजेंसी कॉल्स को 112 नंबर पर स्थानांतरित करने को कहा गया है। कोई व्यक्ति एसएमएस के जरिये भी अपनी बात पहुंचा सकता है। यह प्रणाली कॉलर के गंतव्य का पता लगा लेगी और उसे नजदीकी सहायता केंद्र से साझा करेगी।

एक क्लिक से मैसेज और लोकेशन
डॉयल-112 के मोबाइल एप वर्जन में एक बड़ा बटन रहेगा। इसे क्लिक करते ही मैसेज कंट्रोल रूम में पहुंच जाएगा कि संबंधित मोबाइल धारक को मदद की जरूरत है। कंट्रोल रूम में उसका लोकेशन भी दिखेगा। कंट्रोल रूम उस व्यक्ति से संपर्क करेगा, हालांकि बड़ा बटन की सुविधा उन्हीं के लिए है जो इमरजेंसी में कॉल या मैसेज नहीं कर सकते। इस एप पर घटना के फोटो-वीडियो अपलोड करने का फीचर भी रहेगा।

सोशल मीडिया से रहेगा कनेक्ट
डॉयल 112 फेसबुक, ट्विटर और वाट्सएप से कनेक्ट रहेगा। इसके यूजर होमपेज में जाकर शिकायतें भेज सकेंगे। ऐसी शिकायतें गोपनीय रहेंगी। पुलिस अफसरों ने बताया कि वेबपेज को भी ऐसा डिजाइन किया जा रहा है, ताकि ग्रामीण क्षेत्रों के लोग भी आसानी से उसे समझ सकें और सोशल मीडिया से भी अपनी शिकायत या सूचनाएं पहुंचा सकें।

डायल करते ही दस लोगों को मिलेगी सूचना
सूत्रों की माने तो 112 एप डाउनलोड करने के बाद उसमें 10 परिजनों/दोस्तों के नंबर जोड़ें जा सकते हैं और जब कभी फोनधारक 112 डायल करेगा। इससे जुड़े सभी नंबरों को भी इसकी सूचना मिल जाएगी। एप जीपीएस या मोबाइल ऑपरेटर के टावर के जरिये नंबर डायल करने वाले का लोकेशन अपने-आप पता कर लेगा। एप के जरिये आम लोग स्वयंसेवक के रूप में अपने-आप को पंजीकृत करा सकते हैं। जब भी कोई व्यक्ति 112 नंबर डायल करेगा तो पुलिस के साथ ही निकटस्थ स्वयंसेवक को भी एक संदेश जाएगा। इस नंबर पर की गयी पूरी बात रिकॉडेड होगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
25 महिलाओं सहित 178 निरंकारी श्रद्धालुओं ने किया रक्तदान साईं मंदिर के गल्लों में से निकली 13 हज़ार की पुरानी करंसी आने वाला समय आयुर्वेदिक चिकित्सा का : डॉ. नरेश मित्तल भगवान वाल्मीकि के प्रकटोत्सव अवसर पर निकाली शोभायात्रा: दिया प्लास्टिक फ्री इंडिया का सन्देश आरोप प्रत्यारोपों के बीच मसीही समाज उतरा पास्टर के समर्थन में, निकाला प्रार्थना मार्च आईसीआईसीआई बैंक ने किया कॉइन मेला का आयोजन महात्मा गांधी जयंती को समर्पित मेगा मल्टी-मीडिया प्रदर्शनी प्लाजा 17 में अग्रवाल सभा ने लगाया 22वां रक्तदान शिविर : 67 रक्त यूनिट एकत्रित विद्यार्थियों ने चलाया प्लास्टिक विरोधी जागरूकता अभियान महाराज अग्रसेन जी की 5143वीं जयंती समारोह धूमधाम से मनेगी, रक्त दान शिविर भी लगेगा