ENGLISH HINDI Saturday, February 22, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
जेलों में सी.सी.टी.वी. कैमरे, करंट वाली तार लगाने व अलग ख़ुफिय़ा विंग सहित कई फ़ैसलों की मंजूरीअंतर्राष्ट्रीय राजनीति का कुत्सित रूप कोरोना वायरससरकारी संस्थानों के साईन बोर्ड, सडक़ों के मील पत्थर पंजाबी में लिखे जाना अनिवार्य: बाजवाआपातकालीन रोगियों के लिए मार्ग उपलब्ध करवाने के लिए स्वीकृतिरिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया (अठावले) ने दूध के पैकेट बांट कर मनाया महा शिवरात्रि का पर्वकैंम्बवाला गौशाला में गौभक्तों ने महाशिवरात्रि पर किया शिवपूजन महाशिवरात्रि पर्व: शिव खेड़ा मंदिर में लगा शिव भक्तों का तांतासेक्टर 24 मार्किट वेलफेयर एसोसिएशन ने लगाया लंगर प्रसाद: चना-पूरी और खीर का भोले भक्तों में बांटा प्रसाद
चंडीगढ़

वेस्ट मटेरियल से ड्रोन बनाना सिखाया

September 24, 2019 08:03 PM

चण्डीगढ़, फेस2न्यूज:
चण्डीगढ़ इंस्टिट्यूट ऑफ ड्रोन के सीईओ सन्नी कुमार की देखरेख में मोती राम आर्य सीनियर सेकेंडरी स्कूल, से. 27 में एक्सपेरिमेंटल और साइंटिफिक लर्निंग के लिए वर्कशॉप का आयोजन किया। इस मौके पर विद्यार्थियों को विज्ञान के भिन्न-भिन्न साधनों के द्वारा व्यर्थ चीजों का उपयोग करने के बारे में बताया गया। उन्होंने यह भी बताया कि वेस्ट मटेरियल से ड्रोन को कैसे बनाया जाता है। प्रदर्शन एवं प्रैक्टिस ड्रिल सराहनीय रही। विद्यार्थियों के लिए यह वर्कशॉप कारगर सिद्ध हुई। इस वर्कशॉप में विद्यार्थियों को इसरो और नासा प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए भी प्रेरित किया गया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया (अठावले) ने दूध के पैकेट बांट कर मनाया महा शिवरात्रि का पर्व मूर्धन्य पत्रकार संतोष कुमार की जयंती पर 'पत्रकारिता वर्तमान संदर्भ में' विषय पर परिचर्चा 25 को परमजीत कला, संस्कृति और खेल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नियुक्त विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल ने फ़िल्म द हंड्रेड बक्स के खिलाफ किया प्रदर्शन: बैनर और पोस्टर जला कर जताया रोष फिल्म "द हंड्रेड बॉक्स" के खिलाफ वूमेन वॉइस चंडीगढ़ द्वारा जोरदार रोष प्रदर्शन महर्षि दयानंद जन्मोत्सव पर भव्य शोभायात्रा आयोजित चंडीगढ़ युवा काँग्रेस ने पुलवामा हमले के शहीदों को दी श्रद्धांजलि पुलवामा के शहीदों को किया नमन वैलेंटाइन डे नही, शहादत दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए: रविंदर सिंह बिल्ला पंजाब यूनिवर्सिटी को आयनिंग विकिरणों के औद्योगिक और अनुसंधान प्रशिक्षण के लिए चुना गया