ENGLISH HINDI Wednesday, October 16, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
वीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमलासाईं बाबा का महासमाधि दिवस: 48 घंटे का साईं नाम जाप सम्पन्नरिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तलशर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्जराष्ट्रीय गौरव सम्मान अवार्ड से सम्मानित हुए लढा व ढिढारियाशाह सतनाम जी शिक्षण महाविद्यालय में दो दिवसीय प्रतिभा खोज का आयोजनउपग्रह तकनीकी द्वारा पृथ्वी अवलोकन विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजितकांग्रेस प्रत्याशीयों के समर्थन मेें किया प्रचार
पंजाब

वोट नीति से देश सेवा के असल मुद्दे छोड़ लोक लुभावने तरीकों की बाढ: जसपा

September 25, 2019 12:26 PM

पटियाला, फेस2न्यूज ब्यूरो:
देश में आजादी के बाद देश की तरक्की की ओर ध्यान कम वोट नीति कारण लोक लुभावने तरीकों की बाढ़ है। देश की आधी आबादी शिक्षा के अभाव में क्या जाने GDP ग्रोथ या प्रति व्यक्ति आय (per capital income) सबका जोर मुफ्त में जरूरत का कुछ समान देकर अच्छी भली गरीब जनता को पंगु बनाना है और उसे अपने सही हक की लडाई लड़ने के लिए कमजोर करना या आरक्षण जैसा कैंसर पालने में उलझाए रखना है।
चुनाव आयोग बड़े दलों की कठपुतली बनकर चुनाव प्रक्रिया को आए रोज इतनी जटिल और खर्चीली बना रहा है कि देश में पंजीकृत लगभग 2000 दलों का होना ना होना इन बड़े दलों व आम जनता के लिए कोई विशेष महत्व नहीं।
चुनाव आयोग ने 70 वर्ष में आज तक सभी दलों की कोई बैठक नहीं बुलाई। वार्षिक नहीं तो कम से कम पांच वर्ष में एक बार ही सही। जो लोकतंत्र के लिए घातक है।
देश में अफसरशाही का संगठन इतन मजबूत है कि कानून बनाते हैं पालना नहीं होती जिसका ताजा उदाहरण है मोटर व्हीकल कानून जिसमें कानून तोड़ने की सारी जिम्मेदारी जनता की दरसाई गई है और भारी भरकम जुर्माने से कानून पालना का भ्रष्टतन्त्र के सामने असफल प्रयास जिसे वर्तमान सरकार की अपनी राज्य सरकारों ने ही नकार दिया लेकिन सरकार नाक का सवाल बना कर अड़ी हुई है। यह विचार जनरल समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश गोयल ने उनके घर पहुंचे अनेक व्यापारियों के सामने प्रगट करते हुए कहा कि मंदी से उभरने के लिए जो कार्पोरेट जगत को टैक्स में भारी छूट देकर लाभ पहुंचाना है। उसका आम जनता पर असर ना के बराबर है यह जनता को मूर्ख बनाना है। टैक्स बढें या घटे देना तो आम जनता को ही है।
उदाहरण: यदि कोई माध्यम या छोटा कारोबारी फ्रीज या स्कूटर कार आदि खरीदता है तो उसका टैक्स तो जनता को सामान बेचकर जनता से ही वसूलता है अतः सरकार टैक्स दर अधिकतम 5% और आमदन कर सीधे लगाए। प्रतिशत या बड़ी टैक्स दर प्रतिस्पर्धा के होते भ्रष्टतन्त्र कारण चोर पैदा करेगी देश भक्त नहीं।
इस मौके सर्वश्री यश कपूर, शशि गोयल, भोला तायल, सुखदेव बांसल, भगवान दास बांसल, विनोद कुमार,राजेन्द्र कुमार, भूषण जैन,
आदि अनेक विभिन्न ट्रेडों के व्यापारी मौजूद थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
वीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमला रिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तल शर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्ज हाथ से बनाऐ उत्पादों की राज्य स्तरीय वर्कशॉप कम प्रदर्शनी लगाई स्कूली बच्चे करेंगे किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूक ठोस कूड़ा कर्कट प्रबंधन हेतु कंपनी के साथ समझौता कर काम सौंपा वोटर सूचियों की विशेष समीक्षा कार्यक्रम तारीखों में वृद्धि स्कूल ने पुलवामा के शहीद परिवार की आर्थिक मदद की दर्दनाक: तीन बेटियों के बाद हुआ डेढ़ साल का बेटा माँ की ओर दौड़ रहा था, मौत पीछा कर रही थी, स्कूल बस ने कुचल दिया बठिंडा में वॉक फॉर कैंसर वॉकाथन का आगाज़