ENGLISH HINDI Sunday, February 23, 2020
Follow us on
 
पंजाब

आंगनबाड़ी कर्मियों ने गिद्दड़बाहा में रोष मार्च निकाल फूंंका मुख्यमंत्री का पुतला

October 02, 2019 08:00 PM

गिद्दड़बाहा (शक्ति जिंदल)

ऑल इंडिया आंगनबाड़ी मुलाजिम यूनियन ब्लाक गिद्दड़बाहा की ओर से पंजाब सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ ब्लॉक स्तर पर रोष प्रर्दशन करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन का पुतला शहर के हुसनर चौक में फूका गया। इससे पहले सभी आंगनबाड़ी वकर्रो, हैल्परों की ओर से सीडीपीओ कार्यलय से लेकर हुसनर चौक तक रोष मार्च निकाला गया। उनकी ओर से पंजाब सरकार के नाम एक मांग पत्र गिद्दड़बाहा के एसडीएम ओम प्रकाश को दिया गया। आक्रोषित आंगनबाड़ी वकर्रो की ओर से जमकर पंजाब सरकार की निंदा करते हुए उसके खिलाफ नारेबाजी की गई।
आंगनबाड़ वकर्र की ओर से पिछले लबें समय से अपनी मांगों को लेकर सघर्ष कर रही है। प्रधान ज्ञान कौर व उपप्रधान गगनदीप कौर ने बताया कि लगभग पिछले एक साल से पहले केंद्र सरकार ने वकर्रो व हैल्परों के मान भत्ते में क्रमवार १५०० रूपये व ७५० रूपये की बढौतरी की थी, मगर पंजाब सरकार ने १५०० रूपयों की जगह मात्र ९०० व ७५० रूपयों की जगह ४५० रूपये ही दिए। जबकि पंजाब सरकार ने अपने हिस्से के बनते रूपये नही दिए। जबकि उनको पोषण अभियान के पैसे भी नही मिले है। इसके इलावा कई अन्य फंड रोक रखे है। उनकी जथेबंदी की ओर से पंजाब सरकार के नमायदों विभाग के मंत्री व डायरेक्टर से मींटिग की गई। उनके हाथ सरकार के नाम मांग पत्र भेजे गए। इसके बाद भी पंजाब सरकार टस से मस नही हुई। जिस करके राज्य की ५४००० वकर्रो व हैल्परों में गुस्से की लहर है। रोष प्रर्दशन दौरान बोलते हुए उन्होने कहा कि जथेबंदी की ओर से आगामी दिनों अंदर चार बड़ी रोष रैलिया उन हलकों में की जाएगी, जहा पर विधानसभा के चुनाव होने है। जो जलालाबाद, दाखा, फगवाड़ा व मुकेरिया है। जहां पर लोगों को पंजाब सरकार की गलत नीतियो से अवगत करवाया जाएगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
जेलों में सी.सी.टी.वी. कैमरे, करंट वाली तार लगाने व अलग ख़ुफिय़ा विंग सहित कई फ़ैसलों की मंजूरी सरकारी संस्थानों के साईन बोर्ड, सडक़ों के मील पत्थर पंजाबी में लिखे जाना अनिवार्य: बाजवा हाईकोर्ट के आदेशों पर 100 मीटर क्षेत्र में 13 गोदामों पर चला पीला पंजा उपभोक्ता फोर्म के स्टाफ को क्यों ज्वाइन नहीं करवा रही सरकार?: चीमा ‘आप’ विधायका रूबी ने उठाया असुरक्षित स्कूलों का मामला चोरों ने बंद घर में लाखों की नगदी व गहनों पर किया हाथ साफ सरकारी मेडीकल कॉलेज मोहाली का नाम बदलकर डॉ. बी.आर. अम्बेदकर स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडीकल साइंसज़ रखने को मंज़ूरी डेराबस्सी— बरवाड़ा रोड पर एक फैक्ट्री में आग लगी नम्बरदारों का मानभत्ता 2000 रुपए करने का फैसला चार सरकारी स्कूलों का नाम स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों के नाम पर रखने की मंजूरी