ENGLISH HINDI Monday, February 24, 2020
Follow us on
 
हरियाणा

नप के इंस्पेक्टर बिश्नोई की दहशतगर्दी से भयभीत है स्थानीय व्यापारी

October 02, 2019 08:28 PM

सिरसा, बांसल: नगर परिषद के सफाई निरीक्षक देवेंद्र बिश्नोई के खिलाफ अब स्थानीय व्यापारियों में रोष बढऩे लगा है। व्यापारियों का कहना है कि देवेंद्र बिश्नोई व्यापारियों पर दवाब बनाने के लिए चालान के नाम पर उन्हें प्रताडि़त करता है।
हिसारिया बाजार स्थित सूरजभान रामकिशन प्रतिष्ठान पर आज सुबह देवेंद्र बिश्नोई पहुंचे। प्रतिष्ठान में कार्यरत् कृष्ण कुमार व मांगे राम ने उक्त आरोप बिश्नोई पर लगाते हुए कहा कि वह आज सुबह दुकान की सफाई कर रहे थे और कुछ सामान बाहर रखा हुआ था। इस दौरान देवेंद्र बिश्नोई अपने 30-40 कर्मचारियों के साथ प्रतिष्ठान पर पहुंचे और दुकान में कार्यरत् कर्मचारियों के साथ हाथापाई करते हुए काफी सामान उठा कर ले गए। इसकी न तो बिश्नोई ने वीडियोग्राफी करवाई है और न ही कोई नोटिस दिया। इसी बीच नकदी से भरा उसका कीमती बैग भी गायब हो गया है, जो नहीं मिल रहा है। कृष्ण कुमार व मांगे राम ने बताया कि शहर में बहुत सी जगह ऐसी है जहां दिन-रात दुकानदारों का सामान बाहर रहता है, जहां से कभी भी बिश्नोई ने सामान उठाने की जहमत नहीं उठाई। इससे जाहिर है कि बिश्नोई की दुकानदारों से कोई सैटिंग है। दुकानदार की ओर से पुलिस प्रशासन से देवेंद्र बिश्नोई के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की गई है।
इस सिलसिले में देवेंद्र बिश्नोई से बात की गई तो उन्होंने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है। आज स्वच्छता का दिन है और बाहर पड़े सामान को देखकर मैने अंदर रखने की बात कही थी। उन्होंने नहीं रखा तो मैंने नगर परिषद की ट्राली में डलवा दिया। इसलिए लगाए गए उक्त आरोप गलत व बेबुनियाद है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
किसानों की आय को दोगुना करने के लिए अनेक नवीन और महत्वाकांक्षी योजनाएं आपातकालीन रोगियों के लिए मार्ग उपलब्ध करवाने के लिए स्वीकृति मरीजों के साथ हो रहा है खिलवाड़ पीजीआई रोहतक में महापुरुषों की जयंतियां उनके जीवन पर शिक्षाओं पर कार्यक्रम आयोजित करके मनाई जाए: मुख्यमंत्री फाइनेंस कंपनी का कर्मी बता वाहन चोरी की वारदातों को दिया अंजाम, पुलिस के हत्थे चढा पुलवामा हमले की बरसी पर राहुल गांधी का ट्वीट शर्मनाक: मलिक जनगणना: मकान सूचीकरण कार्य 1 मई से 15 जून तक किसानों की अनदेखी, एसवाईएल, बढ़ती बेरोजगारी, महिला सुरक्षा की अनदेखी: सैलजा दिव्यांग उद्यमियों की सफलता की कहानी बयां कर रहे हैं सूरजकुंड मेले के 12 स्टॉल 12 दिवसीय सरस मेले का आगाज