ENGLISH HINDI Monday, February 24, 2020
Follow us on
 
पंजाब

पीरमुछल्ला में तीन मंजिला इमारत गिरने के मामले में ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज

October 05, 2019 06:25 PM
ज़ीरकपुर, जेएस कलेर   
ज़ीरकपुर नगर परिषद के पीरमुछल्ला क्षेत्र में कल देर रात एक निर्माणाधीन तीन मंजिला इमारत के ऊपर की मंजिल इमारत पर ही गई थी। इस बीच, तीन मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए थे। घायलों को इलाज के लिए पंचकूला के सरकारी अस्पताल ले जाया गया था। जिनकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। इस मामले में, ढकोली थाना पुलिस ने शोरूम का निर्माण करने वाले ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। 
एस.आई अर्शदीप शर्मा ने बताया कि उन्हें कल रात सूचना मिली थी कि पिरमुछाला इलाके में होटल वी -5 के सामने एक शोरूम में तीसरी मंजिल का निर्माण कार्य चलते हुए गिर गई है । छानबीन करने पर पता चला कि यह प्रोपर्टी मक्खन लाल बंसल पुत्र कुंदन लाल निवासी मकान नंबर 1134 सेक्टर 7  की है, जिसे राहुल कुमार के पुत्र शिव कुमार निवासी मकान नंबर 36 गुरजीवन विहार ढकोली को निर्माण कार्य का ठेका दिया था, जो मजदूर था। घटना के समय शोरूम की तीसरी मंजिल बन रही थी। निर्माण कार्य में घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग किया जा रहा था। जांच में पाया गया कि खराब निर्माण सामग्री के उपयोग के कारण इमारत गिरी है। उन्होंने बताया आरोपी राहुल कुमार के खिलाफ एपीसी की धारा 268, 288 और 337 के तहत जांच शुरू की गई है।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
मूलभूत सुविधाएं न मिलने को लेकर शिवालिक निवासियों ने खोला कॉलोनाइजर के खिलाफ मोर्चा अवैध पुल व माईनिंग के खिलाफ विभाग ने दी पुलिस को शिकायत, पुलिस की जांच शुरु सर्वहितकारी विद्या मंदिर में वार्षिक कार्यक्रम सम्पन्न जेलों में सी.सी.टी.वी. कैमरे, करंट वाली तार लगाने व अलग ख़ुफिय़ा विंग सहित कई फ़ैसलों की मंजूरी सरकारी संस्थानों के साईन बोर्ड, सडक़ों के मील पत्थर पंजाबी में लिखे जाना अनिवार्य: बाजवा हाईकोर्ट के आदेशों पर 100 मीटर क्षेत्र में 13 गोदामों पर चला पीला पंजा उपभोक्ता फोर्म के स्टाफ को क्यों ज्वाइन नहीं करवा रही सरकार?: चीमा ‘आप’ विधायका रूबी ने उठाया असुरक्षित स्कूलों का मामला चोरों ने बंद घर में लाखों की नगदी व गहनों पर किया हाथ साफ सरकारी मेडीकल कॉलेज मोहाली का नाम बदलकर डॉ. बी.आर. अम्बेदकर स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडीकल साइंसज़ रखने को मंज़ूरी