ENGLISH HINDI Wednesday, October 16, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
वीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमलासाईं बाबा का महासमाधि दिवस: 48 घंटे का साईं नाम जाप सम्पन्नरिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तलशर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्जराष्ट्रीय गौरव सम्मान अवार्ड से सम्मानित हुए लढा व ढिढारियाशाह सतनाम जी शिक्षण महाविद्यालय में दो दिवसीय प्रतिभा खोज का आयोजनउपग्रह तकनीकी द्वारा पृथ्वी अवलोकन विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजितकांग्रेस प्रत्याशीयों के समर्थन मेें किया प्रचार
पंजाब

छतबीड़ चिड़ियाघर में स्कूली बच्चों के लिए बना क्लब

October 05, 2019 09:17 PM

ज़ीरकपुर , जेएस कलेर

शुक्रवार को जंगलात मंत्री साधू सिंह धर्मसोत ने जंगली जीव सप्ताह के मौके पर आयोजित राज्य स्तरीय प्रोग्राम में छतबीड़ चिड़ियाघर में स्कूली बच्चों के क्लब की बनाई गई एप्प का उद्घाटन किया था।

इस क्लब की मेंबरशिप हासिल करने के लिए स्कूल प्रबंधकों को चिड़ियाघर की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करना होगा या फिर चिड़िया घर पहुंचकर भी रजिस्ट्रेशन करवाई जा सकेगी। जिसकी फीस 1 हज़ार रुपए रखी गई है। इस फीस के बदले स्कूल को चिड़ियाघर द्वारा उतनी ही कीमत का सम्मान दिया जाएगा जिसमें टीशर्ट और जंगली जीवों के साथ संबंधित अन्य सामग्री होगी।

-मेंबर बनने के लिए स्कूल को करना होगा रजिस्ट्रेशन 
-क्लब मेंबर स्कूल की दाखिला फीस होगी 10 रुपए प्रति बच्चा

रजिस्ट्रेशन करने वाले स्कूलों को चिड़ियाघर को 10 से 15 वालंटियर देने होंगे ,जिनको चिड़ियाघर प्रबंधक वातावरण संभाल व जंगली जीवों के बारे में ट्रेनिंग देंगे। बदले में चिड़ियाघर मैनेजमेंट क्लब के मेंबर स्कूल के विद्यार्थियों को 10 रुपए प्रति विद्यार्थी दाखिला लेकर सैर करने का मौका देंगे। जबकि यह फीस प्राइमरी स्कूल के समूह के लिए 20 रुपए प्रति बच्चा और हाई स्कूल के बच्चों के लिए फीस 30 रुपए रखी गई है ।

चिड़ियाघर के शिक्षा अधिकारी हरपाल सिंह ने बताया कि छतबीड़ चिड़िया घर आने से पहले क्लब मेंबर स्कूल को चिड़ियाघर मैनेजमेंट से अपॉइंटमेंट लेनी होगी ।जिसका समय चिड़ियाघर प्रबंधक निर्धारित करेगा। एक दिन में सिर्फ दो ही स्कूलों को घूमने का मौका दिया जाएगा। सिर्फ 150 के करीब बच्चों के चिड़िया घर पहुंचने पर प्रबंधकों द्वारा बच्चों को एक गाइड भी दिया जाएगा जो बच्चों को जानवरों के अलग-अलग बाड़ों में ले जाकर उन जानवरों के रहने सहने के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे। इसके बाद बच्चों को जानकारी केंद्र में जंगली जानवरों व वातावरण संभाल के साथ संबंधित फिल्म भी दिखाई जाएगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
वीआईपी रोड पर बिना पार्किंग दुकानें बनाने की इजाजत मतलब ट्रैफिक जाम, सावित्री इन्क्लेव के दबंगों की दबंगई, मीडियाकर्मियों पर हमला रिकॉर्ड की जांच के बाद मार्केट कमेटी बटाला का सचिव मुअत्तल शर्तों के विपरीत किराए पर ले गोदाम किया सबलेट, धमकियां देने के आरोप में दो पर केस दर्ज हाथ से बनाऐ उत्पादों की राज्य स्तरीय वर्कशॉप कम प्रदर्शनी लगाई स्कूली बच्चे करेंगे किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूक ठोस कूड़ा कर्कट प्रबंधन हेतु कंपनी के साथ समझौता कर काम सौंपा वोटर सूचियों की विशेष समीक्षा कार्यक्रम तारीखों में वृद्धि स्कूल ने पुलवामा के शहीद परिवार की आर्थिक मदद की दर्दनाक: तीन बेटियों के बाद हुआ डेढ़ साल का बेटा माँ की ओर दौड़ रहा था, मौत पीछा कर रही थी, स्कूल बस ने कुचल दिया बठिंडा में वॉक फॉर कैंसर वॉकाथन का आगाज़