ENGLISH HINDI Saturday, February 22, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
जेलों में सी.सी.टी.वी. कैमरे, करंट वाली तार लगाने व अलग ख़ुफिय़ा विंग सहित कई फ़ैसलों की मंजूरीअंतर्राष्ट्रीय राजनीति का कुत्सित रूप कोरोना वायरससरकारी संस्थानों के साईन बोर्ड, सडक़ों के मील पत्थर पंजाबी में लिखे जाना अनिवार्य: बाजवाआपातकालीन रोगियों के लिए मार्ग उपलब्ध करवाने के लिए स्वीकृतिरिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया (अठावले) ने दूध के पैकेट बांट कर मनाया महा शिवरात्रि का पर्वकैंम्बवाला गौशाला में गौभक्तों ने महाशिवरात्रि पर किया शिवपूजन महाशिवरात्रि पर्व: शिव खेड़ा मंदिर में लगा शिव भक्तों का तांतासेक्टर 24 मार्किट वेलफेयर एसोसिएशन ने लगाया लंगर प्रसाद: चना-पूरी और खीर का भोले भक्तों में बांटा प्रसाद
राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री ने जम्‍मू-कश्‍मीर में सीमा पर तैनात वीर जवानों के साथ दिवाली मनाई

October 29, 2019 05:51 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
अपने प्रथम कार्यकाल के दौरान निर्धारित परंपरा को कायम रखते हुए, प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने जम्‍मू-कश्‍मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना के जवानों के साथ दिवाली का त्‍यौहार मनाया।
प्रधानमंत्री ने राजौरी में ‘हॉल ऑफ फेम’ का दौरा किया और राजौरी तथा पुंछ क्षेत्रों की रक्षा के लिए अपने प्राण न्‍यौछावर करने वाले वीर सैनिकों तथा बहादुर नागरिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्‍होंने ‘हॉल ऑफ फेम’ को ‘पराक्रम भूमि, प्रेरणा भूमि, पावन भूमि’ का नाम दिया।
बाद में, प्रधानमंत्री ने भारतीय वायुसेना के वायुसैनिकों से मुलाकात करने के लिए पठानकोट एयरबेस का दौरा किया।
सैनिकों को संबोधित करते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार अपने परिवार के साथ दिवाली का त्‍यौहार मनाने के लिए हर व्‍यक्ति दूरदराज की यात्रा पर जाने का प्रयास करता है, उसी प्रकार से सशस्‍त्र बलों के वीर जवानों के साथ दिवाली का त्‍यौहार मनाने के लिए यात्रा की है।
प्रधानमंत्री ने 27 अक्‍टूबर, 1947 को सशस्‍त्र बलों के सर्वोच्‍च बलिदानों का स्‍मरण किया, जिसे इन्फैंट्री दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारतीय रक्षा बलों की सराहना करते हुए, उन्‍होंने कहा कि इन बलों ने केंद्र सरकार को ऐसे निर्णय कायम करने में भी सक्षम बना दिया है, जिसे पहले असंभव माना जाता था। उन्‍होंने राष्‍ट्रीय सुरक्षा कायम रखने में बलों के साहस और वीरता की सराहना की। उन्‍होंने बलों की स्‍मरणीय सेवा के लिए देश की जनता की ओर से उन्‍हें धन्‍यवाद दिया।
प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्‍हें श्रद्धांजलि अर्पित करने तथा उनके योगदानों का स्‍मरण करने के लिए, सरकार ने देश की राजधानी में राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक तैयार किया है। उन्‍होंने कहा कि राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक पर आने वाले दर्शकों की बढ़ती संख्‍या यह दर्शाती है कि देश के नागरिक सशस्‍त्र बलों के योगदान के लिए उनका आदर करते हैं। प्रधानमंत्री ने भारतीय रक्षा बलों को अधिक मजबूत और आधुनिक बनाने के लिए सरकार द्वारा किए जा रहे उपायों का विवरण दिया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
अंतर्राष्ट्रीय राजनीति का कुत्सित रूप कोरोना वायरस हिन्दू महासभा और हिन्दू संगठनों के लिए फ़िल्म द हंड्रेड बक्स की होगी स्पेशल स्क्रीनिंग फ़िल्म 'द हंड्रेड बक्स' की होगी स्पेशल स्क्रीनिंग आनुवांशिक सुधार व निवेश लागत घटाकर दुग्ध उत्पादन में वृद्धि के प्रयास भारत में फिल्मांकन को बढ़ावे के लिए प्रतिनिधिमंडल बर्लिलेन में हिस्‍सा लेगा रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान का नाम बदलकर मनोहर पर्रिकर रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान किया यूटी जम्मू एंड कश्मीर स्मार्ट स्कूल स्थापित करने के लिए सबसे बेहतर स्थान जम्मू एंड कश्मीर इनवेस्टर्स समिट 2020 रोडशो बैंगलुरू से हुआ आरंभ राष्ट्रपति ने दादरा, नगर हवेली तथा दमन और दीव की विकास परियोजनाओं का शिलान्‍यास किया गैर मुस्लिम लोगों के साथ होती जादती से निजात दिलाता है सीएए: इंद्रेश कुमार