ENGLISH HINDI Thursday, July 09, 2020
Follow us on
 
पंजाब

550 साला प्रकाश पर्व: कार्यक्रमों द्वारा घर-घर पहुँचा गुरू नानक साहिब का संदेश

November 06, 2019 12:02 PM

सुल्तानपुर लोधी, फेस2न्यूज:
पंजाब सरकार द्वारा गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के संबंध में गुरू साहिब के चरण स्पर्श प्राप्त धरती सुल्तानपुर लोधी में पवित्र वेईं के किनारे पर स्थापित मुख्य पंडाल गुरू नानक दरबार में करवाऐ गये पवित्र समाराहों में जहाँ उपस्थित श्रद्धालुओं को रूहानी रंग में रंगा, वहीं अत्याधुनिक तकनीकों से देश विदेश में बैठे सिख श्रद्धालुओं ने घर बैठे लाइव समागम को देखा।
बहुत ही सुन्दर ढंग से सजाए मुख्य पंडाल गुरू नानक दरबार में ईश्वरीय कीर्तन और अन्य धार्मिक प्रोग्रामों के द्वारा श्रद्धालुओं की भीड़ ने आनंद का अनुभव किया। वहीं समागमों में उपस्थित न हो सके श्रद्धालुओं के लिए पंजाब सरकार द्वारा लाइव प्रोग्रामों का विशेष प्रबंध किया गया था। जिससे गुरू साहिब के संदेश को सोशल मीडिया और विभिन्न टीवी चैनलों के माध्यम से श्रद्धालुओं तक पहुँचाने के लिए अत्याधुनिक तकनीकों के मिक्सर और एडवांस कैमरों का प्रयोग किया गया।
तकनीकी टीम के एक मैंबर ने बताया कि इन समागमों में जीपीएस आधारित 72 कि.मी. प्रति घंटे की रफ़्तार वाला विशेष ड्रोन, अत्याधुनिक मिक्सर और कैमरों में रूहानी पलों को श्रद्धालुओं के लिए कैद किया गया। मुख्य पंडाल में लगे बड़ी गिनती में एलईडी सक्रीनों के माध्यम से देश- विदेश में गुरू नानक देव जी की चरण स्पर्श गुरुद्वारा साहिबानों और इतिहास के बारे में जानकारी भी दी गई।
सारा आलम बाबे नानक का गुण-गान करता प्रतीत हो रहा है और इन समागमों से जाने को जी नहीं कर रहा। प्रयास अकल्पनीय है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
पहलकदमी : बरनाला में घुटनों की तकलीफ के मरीजों का दूरबीन से इलाज डेराबस्सी में कोरोना का कहर: बेहड़ा में 33 पॉजिटिव, जवाहरपुर पुन: सुर्खियों में सिविल डिफेंस द्वारा रक्तदान शिविर 9 जुलाई को सिविल अस्पताल में पंजाब के 22 में से 18 जिले नशे की चपेट में : सांपला वेरका ने पशु खुराक के दाम 80-100 रुपए प्रति क्विंटल घटाये गांव खेड़ी गुजरां में दूषित पानी पीने से चार भैंसों की मौत का मामला, एसडीएम ने किया मौके का दौरा अस्पतालों का नाम ‘माई दौलतां जच्चा-बच्चा अस्पताल’ रखने का फैसला पंजाब में प्रवेश के लिए ई-रजिस्ट्रेशन हुआ अनिवार्य कोरोना महामारी: जागरूकता के लिए गाड़ीयों में ‘फट्टियाँ’ लगाने की मुहिम डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान: वर्तमान सैशन के सभी कोर्सों के लिए ली जाएंगी परीक्षाएं