ENGLISH HINDI Friday, February 21, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

आरसीईपी को अपनाने के केंद्र के निर्णय का सीआईआई ने किया समर्थन

November 07, 2019 12:16 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
“सीआईआई उत्तरी क्षेत्र के चेयरमैन समीर गुप्ता ने कहा कि वह केंद्र सरकार द्वारा रीजनल कॉमप्रीहेंसिव इकोनोमिक पार्टनरशिप को अपनाने के निर्णय का हम समर्थन करते हैं। इसके साथ ही प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश के हित को ध्यान में रखते हुए लिए गए इस अहम निर्णय के लिए उनकी प्रशंसा करते हैं।

चीन के साथ निरंतर व्यापार संतुलन पर भारतीय उद्योग पहले भी चिंता व्यक्त कर चुके हैं जो भारत के उद्योगों के हितों से जुड़े मामलों को हल करे बिना यदि चला तो चिंता बढ़ सकती है। उन्होंने कहा कि वह खुश हैं कि सरकार ने निर्णय लेते हुए इनको ध्यान में रखा।

यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है कि आरसीईपी के नेगोशिएटर द्वारा भारत के वैध चिंताओं को पर्याप्त रूप से नहीं समझा गया जिसे समझने की जरूरत थी। उन्होंने कहा कि हमारे अच्छे द्विपक्षीय संबंधों के साथ हमें यकीन है कि आगे बढऩे वाले इस गतिशील क्षेत्र में व्यापार और निवेश के लिए अनुकूल परिणाम सुनिश्चित किए जाएंगे।

 

उन्होंने कहा कि यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है कि आरसीईपी के नेगोशिएटर द्वारा भारत के वैध चिंताओं को पर्याप्त रूप से नहीं समझा गया जिसे समझने की जरूरत थी। उन्होंने कहा कि हमारे अच्छे द्विपक्षीय संबंधों के साथ हमें यकीन है कि आगे बढऩे वाले इस गतिशील क्षेत्र में व्यापार और निवेश के लिए अनुकूल परिणाम सुनिश्चित किए जाएंगे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
हिन्दू महासभा और हिन्दू संगठनों के लिए फ़िल्म द हंड्रेड बक्स की होगी स्पेशल स्क्रीनिंग फ़िल्म 'द हंड्रेड बक्स' की होगी स्पेशल स्क्रीनिंग आनुवांशिक सुधार व निवेश लागत घटाकर दुग्ध उत्पादन में वृद्धि के प्रयास भारत में फिल्मांकन को बढ़ावे के लिए प्रतिनिधिमंडल बर्लिलेन में हिस्‍सा लेगा रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान का नाम बदलकर मनोहर पर्रिकर रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान किया यूटी जम्मू एंड कश्मीर स्मार्ट स्कूल स्थापित करने के लिए सबसे बेहतर स्थान जम्मू एंड कश्मीर इनवेस्टर्स समिट 2020 रोडशो बैंगलुरू से हुआ आरंभ राष्ट्रपति ने दादरा, नगर हवेली तथा दमन और दीव की विकास परियोजनाओं का शिलान्‍यास किया गैर मुस्लिम लोगों के साथ होती जादती से निजात दिलाता है सीएए: इंद्रेश कुमार फ्रॉस्ट इंटरनेशनल के बैंक धोखाधड़ी मामले पर सीबीआई कार्रवाई में देरी क्यों, चिराग मदान ने उठाए सवाल