ENGLISH HINDI Tuesday, December 10, 2019
Follow us on
 
पंजाब

नोटबंदी आजाद भारत का अब तक का सबसे बड़ा स्कैंडल: अक्षय शर्मा

November 08, 2019 09:40 PM

मोगा, फेस2न्यूज

नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ इंडिया की पंजाब इकाई ने नोटबंदी के तीसरी वर्षगांठ के मौके पर मोगा में पंजाब प्रधान अक्षय शर्मा की अगुआई में एक विशाल रोष प्रदर्शन किया। इस मौके पर पत्रकारों से बात करते हुए शर्मा ने कहा कि नोटबंदी भारत के इतिहास में सबसे काला दिन व मोदी सरकार की तरफ से लिए गए अनेक बुरे फैसलों में से सबसे निम्न स्तर का था।

नोटबंदी की तीसरी वर्षगांठ पर एनएसयूआई ने मोगा में किया विशाल प्रदर्शन

  
शर्मा ने कहा कि इस सरकार ने पिछली यूपीए की सरकार द्वारा बेहद सभ्यक ढंग से चलाई जा रही आर्थिकता को न सिर्फ डुबोया है परंतु साथ ही आम लोगों को बाँटने के मंसूबों के साथ कार्य किया है। आज आज़ाद भारत के अब तक के सबसे बड़े घोटाले नोटबन्दी की तीसरी सालगिरह है। इस दिन को हमारी आने वाली पीढिय़ां कभी नहीं भूलेंगी और निश्चित तौर पर नरेन्द्र मोदी सरकार को इसके लिए कोसेंगी।

शर्मा ने कहा कि सरकार के इस गलत फ़ैसले से रोजग़ार के लाखों मौके ख़त्म हो गए जिससे आर्थिकता को बड़ा धक्का लगा है जो कि आने वाले कई सालों तक ठीक होने वाला नहीं है। अनगिनत बैंक घोटाले होने के बावजूद नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा इसके खि़लाफ़ कोई कार्रवाई न करने के कारण आम लोगों में अस्थिरता का माहौल है और इससे भारत की कानूनी बुनियाद कमज़ोर होने का अंदेशा पैदा हो रहा है।

डिप्टी कमिश्नर को मेमोरेंडम देते हुए शर्मा ने कहा कि आम लोगों युवाओं के भविष्य की हम नरेंद्र मोदी की लोग विरोधी सरकार के खिलाफ अपना रोष दर्ज करते हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में भी मोदी की लोक विरोधी नीतियों का विरोध किया जाएगा

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
अकालियों की घटिया चालों के आगे झुकूंगा नहीं, राजनीतिज्ञ-गैंगस्टर गठजोड़ की तह तक जाऊँगा: मुख्यमंत्री बंद घर में चोरी, लाखों का नुक्सान डेराबस्सी में पहली बार एथलीट मीट, बुजुर्गों ने नौजवानों को पछाड़ा नशीली दवाओं के तीन सप्लायर सीआईए स्टाफ के चढ़े हत्थे छठा रक्तदान शिविर आयोजित:152 रक्त यूनिट एकत्रित नेपाली प्रतिनिधिमंडल द्वारा पंजाब विधानसभा का दौरा 70 साल पुराने धर्मार्थ औषधालय को दिए 2 लाख रुपए सीएम की सुरक्षा में सेंध से डेराबस्सी के बहुचर्चित कब्जा विवाद ने पकड़ा तूल: दूसरे पक्ष ने लगाया मुख्यमंत्री के आदेशों के उल्लंघन का आरोप सीएमओ दफ़्तर का इंस्पेक्टर और वाहन चालक रिश्वत लेते रंगे हाथ काबू, मिलीभगत में शामिल डीएचओ फरार। मोहाली को विश्व का पहला स्टार्टअप केंद्र बनाने की वकालत की