ENGLISH HINDI Friday, July 10, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

सालाना समारोह कुलजा माता मंदिर के प्रांगण में श्रद्धा एंव उल्लास के साथ संपन्न

November 25, 2019 10:22 PM

धर्मशाला(विजयेन्दर शर्मा)

ज्वालामुखी के पास चुकाठ से सटे कटोई में आज उपमन्यु और वात्स्यायन गौत्र ब्राहम्ण परिवार का सालाना समारोह कुलजा माता मंदिर के प्रांगण में श्रद्धा एंव उल्लास के साथ संपन्न हुआ। यहां बडी तादाद में उपमन्यु और वात्स्यायन गोत्र ब्राहम्ण एक साथ मिले। जिससे समारोह यादगारी बना।

आज ही के दिन यहां मंदिर में महर्षि उपमन्यु व महिषासुरमर्दिनी की मृर्तियां स्थापित की गई थीं। इसी उपलक्ष्य में यहां हर साल मूर्ति प्रतिष्ठा समारोह होता है। इसी उपलक्ष्य में आज यहां हवन पूजन किया गया और भंडारे में सभी ने प्रसाद भी ग्रहण किया। पंडित सुरेश शास्त्री जी ने अपनी ओजस्वी वाणी से हवन यज्ञ करवाया।

इसी तरह यहां हर साल मई माह के दूसरे रविवार को ममतामयी मातृशक्ति कुलदेवी के चरणों में सभी इकठ्ठा होते हैं। उस दिन भी यहां हवन पूजन व विशाल भंडारे का आयोजन होता है।

पूर्व आईएएस अधिकारी श्रद्धेय बल राम शर्मा जी के कुशल मार्गदर्शन एवं सुरेश शास्त्री , नंगल वाले जी के पावन सानिध्य में यहां हर साल मई व नवंबर माह में आयोजन होता है। जिसमें उत्तरी भारत के ब्राहम्ण परिवार खासकर उपमन्यु और वात्स्यायन गोत्र के अपनी कुलदेवी का आर्शीवाद पाते हैं । यह मंदिर चुकाठ सुधंगल सडक़ मार्ग पर ज्वालामुखी के पूर्व विधायक स्वर्गीय धनी राम चौधरी के घर के पास है। जहां आसानी से पहुंचा जा सकता है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
कृषि उपकरणों पर अनुदान से किसानों में बढ़ा आधुनिक तकनीक के प्रति रुझान वरिष्ठजनों को मनोरंजक स्थान प्रदान करने के लिए विकसित होंगे 100 उद्यान एवं पार्क समाजसेवी संस्था इंक्रेडिबल कांगड़ा ने किया उपायुक्त को सम्मानित होनहार बेटियों को शुभकामनाएं देने पहुंचे एसडीएम हिमकोस्ट ने सूर्यग्रहण पर विद्यार्थियों से राइट-अप और प्रेजेंटेशन मांगे दिव्य योग आश्रम में रचा 17 विश्व कीर्तिमान स्थापित कर नया इतिहास पारंपरिक खेती छोड़ी, सेब उत्पादन ने बदली तकदीर राज्य कार्यकारी समिति ने क्वारन्टीन नियमों में किए संशोधन भारतीय जनता पार्टी में शीत-युद्ध छिड़ा हुआ है और अब इनकी लड़ाई सड़कों पर आ गयी टांडा फिल्ड फायरिंग रेंज में फायरिंग करने की अनुमति