ENGLISH HINDI Friday, July 10, 2020
Follow us on
 
चंडीगढ़

स्ट्रीट वेंडिंग एक्ट के खिलाफ एकजुट हुए वेंडर्स: नगर निगम के खिलाफ मुंह पर काला कपड़ा बांध किया साइलेंट प्रोटेस्ट

December 04, 2019 06:02 PM

टाउन वेंडिंग कमेटी में चुने गए वेंडर्स मेंबर्स के चयन पर जताया ऐतराज़

चंडीगढ़: चंडीगढ़ के विभिन्न सेक्टर्स की मार्किट में बैठें वेंडर्स नगर निगम के स्ट्रीट वेंडर्स एक्ट के खिलाफ लामबंद हो गए है।वेंडर्स ने चंडीगढ़ नगर निगम और चंडीगढ़ प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है और अपना रोष जताते हुए सेक्टर 15, 17, 19, औऱ सेक्टर 22 के स्ट्रीट वेंडर्स ने सेक्टर 19 के सदर बाजार की पार्किंग में आज चंडीगढ़ प्रशासन और नगर निगम के खिलाफ मुंह पर काला कपड़ा बांध शांतिपूर्ण प्रोटेस्ट किया। सभी मार्किट के स्ट्रीट वैंडर्स ने एकजुट होकर एक संयुक्त एक्शन एसोसिएशन भी तैयार की है। प्रोटेस्ट को कमेटी में शामिल सुनील पूरी, नीरज, प्रतिमा, नसरीन, ओमंग पूरी, दीपक कुमार, शंटी, टिम्मा, पूनम शर्मा और लाल चंद ने सम्बोधित किया।

  
रोष प्रदर्शन के दौरान सदस्यो ने बताया कि नगर निगम द्वारा टाउन वेंडिंग कमेटी में कई सारी अनियमितायें बरती गई है। कमेटी को वेंडर्स ने असंवैधानिक और अयोग्य करार दिया है। इस कमेटी में नगर निगम के कमिश्नर चैयरपर्सन होते है। इनके अलावा कमेटी में सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस- ट्रैफिक, मेडिकल ऑफिसर ऑफ हेल्थ, चीफ आर्किटेक्ट, सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस के साथ साथ शहर से स्ट्रीट वेंडर्स के चुने हुए 40 फीसदी नुमाइंदे होते है

। उन्होंने बताया कि उन्हें पता चला कि नगर निगम ने इस कमेटी में वेंडर्स में कुछ सदस्य चुने है, जिनके बारे में उन्हें पता ही नहीं चल पाया कि ये सब कब चुने गए। इसके लिए उन्होंने नगर निगम से कागज़ात हासिल किये तो नगर निगम से प्राप्त उन डॉक्यूमेंट के अनुसार टाउन वेंडिंग कमेटी में श्रीमती कमलेश, राम पाल, श्रीमती गीता और सीता राम चुने हुए नुमाइन्दे बताए गए है। उन्होंने बताया कि वो सब ये नही जानते कि इन चार नुमाइंदों का चयन कब हुआ।

असूलन इनका चयन पूरी चुनाव प्रक्रिया के अंतर्गत होता है। इसके लिए बाकायदा एक चुनाव अधिकारी का चयन होता है जो कि चुनाव की पूरी प्रक्रिया कि घोषणा करते है कि चुनाव के नामांकन दाखिल करने, नाम वापिस लेने, चुनाव तिथि और पोलिंग स्टेशन और वोट समय क्या क्या है । लेकिन ये सब कब हुआ, कब ये प्रक्रिया अपनाई गयी, कब इलेक्शन हुए और कब ये सब सदस्य चुने गए। ये स्ट्रीट वेंडर्स को पता ही नही। इस बारे में नगर निगम से रिकॉर्ड मांग गया है। लेकिन चुनाव हुए हों तो ही रिकॉर्ड उपलब्ध होगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें