ENGLISH HINDI Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
लॉकडाउन से धीरे-धीरे बाहर निकलने के लिए उपाय ढूँढने हेतु टास्क फोर्सतबलीगी जमात के कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के नजदीकी लोगों का पता लगाने निर्देशकिसानों और दानी सज्जनों को गौशालाओं में चारा पहुँचाने की अपीलसिविल अस्पताल में सेनेटाईजेशन चेंबर स्थापित14 अप्रैल से सूर्य के राशि परिवर्तन से कोरोना का धीरे धीरे प्रभाव कम होगाशरीर कैसे छोडऩा है दादी पहले से ही कर ली थी प्लानिंग, दादी जी नही चाहती थी कि उनके शरीर छोडऩे पर ज्यादा खर्च होकोविड-19 के विरुद्ध जंग में महान योगदान के लिए मैडीकल समुदाय की प्रशंसाबकरियां चराने गये बुजुर्ग पर जंगली सूअर का आक्रमण, बुजुर्ग की हुई मौत
हरियाणा

फाइनेंस कंपनी का कर्मी बता वाहन चोरी की वारदातों को दिया अंजाम, पुलिस के हत्थे चढा

February 17, 2020 09:01 PM

चंडीगढ, फेस2न्यूज:
हरियाणा पुलिस द्वारा जिला करनाल से पांच लोगों की गिरफ्तारी के साथ एक ऐसे वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है जिन्होने खुद को फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी बता आधा दर्जन से अधिक वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया। पुलिस ने इनके पास से सात वाहन भी बरामद किए।
हरियाणा पुलिस प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि प्रारंभिक पूछताछ के दौरान आरोपियों ने वाहन चोरी के 6 मामलों में अपनी संलिप्तता कबूल की है जिनमें जिला करनाल में चार और कुरुक्षेत्र में दो घटनाएं शामिल हैं। गैंग के सदस्यों को क्राइम यूनिट ने मेरठ रोड करनाल से एक गुप्त सूचना के बाद गिरफ्तार किया। पुलिस ने उनके कब्जे से पांच चोरी की बोलेरो पिकअप और दो अन्य वाहन भी बरामद किए। वाहन चोरी की इन घटनाओं में उनके दो अन्य साथी भी शामिल थे, जो अभी फरार हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी रूपचंद और संदीप ने करीब एक वर्ष तक टाटा फाइनेंस में काम किया था। करीब 6 माह पहले उन्हें इस कंपनी से हटा दिया गया था। जिसके बाद दोनों आरोपीयों ने अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ मिलकर अपना गैंग बना लिया। उन्हें पता था कि फाईनेंसर किस तरीके से फाईनेंस की गाड़ी को अपने कब्जे में लेता है और इस जानकारी का फायदा उठाकर वे फर्जी फाईनेंसर बनकर किसी गाड़ी को बीच रास्ते में रोककर ड्राईवर को बोलते थे कि यह गाड़ी फाईनेंस पर ली गई है और इसकी कई किस्तें बकाया हैं। इसलिए बैंक में जाकर पहले इसकी बकाया किस्तें भरो और यार्ड में आकर बैंक की रसीद दिखाकर अपनी गाड़ी ले जाना। यह कहकर आरोपी गाड़ी लेकर वहां से फरार हो जाते थे। आरोपी सोनू के खिलाफ जिला कैथल में हत्या के प्रयास का एक मामला दर्ज है, जिसमें फिलहाल यह जमानत पर बाहर आया हुआ था। इस संबंध में मामला दर्ज कर आगे की जांच जारी है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
जमाखोरी, कालाबाजारी और मूल्य वृद्धि को नियंत्रण के लिए विशेष टीमें गठित मंडी में पहुंचने वाले किसान को मिलेगा मास्क और सैनिटाइजर कोविड-19 संक्रमण की भ्रामक सूचना पर साइबर सेल की पैनी नज़र, गलत पोस्ट पर हो सकती है सजा एक आईएएस अधिकारी स्थानांत्रित निजी विद्यालयों को निर्देश: फीस जमा करवाने पर तत्काल प्रभाव से रोक पर्यटक वीजा पर भारत आए तबलीगी जमात के 107 लोगों की पहचान हरियाणामें की गई, एफआईआर भी दर्ज कोविड-19 के मद्देनजर सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान, तंबाकू उत्पादों का सेवन निषेध निजी अस्पतालों के डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिक्स, अन्य कर्मचारियों को भी एक्सग्रेशिया मुआवजे की घोषणा हरियाणा में 70,000 लोगों की क्षमता के 467 राहत शिविर स्थापित हरियाणा सरकार का कोविड-19 फाइनेंशियल सपोर्ट ऐलान