ENGLISH HINDI Friday, April 10, 2020
Follow us on
 
पंजाब

मूलभूत सुविधाएं न मिलने को लेकर शिवालिक निवासियों ने खोला कॉलोनाइजर के खिलाफ मोर्चा

February 23, 2020 08:32 PM

खरड़, फेस2न्यूज

शिवालिक निवासियों ने कॉलोनी में मूलभूत सुधार न मिलने की वजह से कॉलोनाइजर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. इन लोगों का कहना है कि यहां रह रहे लोग बेहद खराब स्थिति में रह रहे हैं। यहां पर बुनियादी सुविधाएं भी नहीं दी गई हैं।

  शिवालिक कॉलोनी में सीवरेज, ड्रेनेज, सड़कें और पीने के पानी जैसी सुविधाओं की हालत बेहद खराब है। जिस वजह से यहां पर लोगों का रहना मुश्किल हो गया है। यहां पर बिजली की व्यवस्था भी सही नहीं है क्योंकि यहां पर तीन.चार ट्रांसफर पिछले काफी समय से खराब पड़े हैं।

इतना ही नहीं साल 2017 में हाईकोर्ट की ओर से यह आदेश भी दिए चुके हैं कि यहां पर अधूरे पड़े सभी कामों को जल्द पूरा किया जाए, लेकिन इसके बावजूद भी यहां पर कोई काम नहीं किया गया। बल्कि साल 2018 में ईओ खरड़ ने कॉलोनाइजर हीरा के खिलाफ पुलिस को एफ आई आर दर्ज करने के आदेश भी दिए थे। लेकिन आज तक उस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

यहां पर हो रहे नए निर्माण और नए नक्शों में ग्रीन इलाकों को शामिल किया जा रहा है। इन लोगों का कहना है कि इन सभी बातों को लेकर जांच होनी चाहिए और और दोषों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। अगर ऐसा नहीं किया गया तो वे लोग खरड़ के नगर निगम दफ्तर के बाहर विरोध प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होंगे।

इस मौके पर अध्यक्ष- मनबीर सिंह, महासचिव - ज्योत्सना, कैशियर- पी डी एस राणा, विनोद मिढा, मि. गर्ग, एमडी तलरेजा, एसके दत्ता, इकबाल सिंह, मि. विलियम, मिसेज आरती बहरा, एस्थर विलियम, मिसेज रूबी, मिस्टर जम्वाल, कमल शर्मा, अक्शदीप सिंह, कुलदीप मन्हास, उत्तम चंद अन्य लोग मौजूद रहे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
जिला बरनाला में कोरोना वायरस से हुई पहली मौत कोरोना का करंट! औसत बिजली बिल आने से भड़के शहर वासी, जब काम धंधा नहीं कहा से भरेंगे बिल प्राईवेट स्कूलों को कफ्र्यू दौरान स्टाफ को पूरा वेतन जारी करने के निर्देश कोविड-19 को महायुद्ध के तौर पर ले रहे हैं पंजाब के दानवीर लोग कोविड -19 खिलाफ जंग में डटे सेहत विभाग के अमले व सफाई कर्मियों को दिया गार्ड आफ ऑनर पुलिस द्वारा फेसबुक पर अपमानजनक और आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाला गिरफ़्तार डेराबस्सी में कोरोना पॉजिटिव के चार और मामले, ढिल्लों की रिपोर्ट नेगेटिव 14 अप्रैल के बाद कफ्र्यू को और आगे बढ़ाने की रिपोर्टों को रद्द किया मदद करने वाले व्यापारियों को धारा 80-सी के तहत इनकम टैक्स में छूट दे सरकार: चीमा लॉकडाउन से धीरे-धीरे बाहर निकलने के लिए उपाय ढूँढने हेतु टास्क फोर्स