ENGLISH HINDI Friday, April 10, 2020
Follow us on
 
पंजाब

राज्य की शान्ति भंग करने वालों के साथ कठोरता से निपटेंगे: कैप्टन

February 27, 2020 02:20 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
राज्य के अमन-शान्ति और सद्भावना वाले माहौल को भंग करने की कोशिश करने वाली ताकतों के नापाक इरादों के विरुद्ध सख्त चेतावनी देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने ऐलान किया कि पाकिस्तान की शह प्राप्त आतंकवादियों और गैंग्स्टरों के साथ वह कठोरता से निपटेंगे।
विधानसभा के बजट सत्र के अवसर पर राज्यपाल के भाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बहस को समेटते हुए मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि वह किसी भी सूरत में बहुत यत्न कर कायम की गई राज्य की शान्ति को नुकसान पहुँचाने की आज्ञा नहीं देंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार अल्पसंख्यकों, कमज़ोर वर्गों और महिलाओं समेत समाज के हरेक वर्ग की सुरक्षा के लिए डटकर काम कर रही है क्योंकि शान्ति को यकीनी बनाए बिना राज्य में निवेश या औद्योगिक विकास संभव नहीं हो सकता।
कैप्टन ने कहा कि जहाँ शान्ति नहीं होती, वहाँ कोई भी निवेश नहीं करना चाहता। उन्होंने कहा कि शांतमई माहौल कायम होने के कारण पंजाब अब निवेश के लिए अग्रणी राज्य के तौर पर उभर कर सामने आया है।
कैप्टन अमरिन्दर ने कहा कि पंजाब और इसके लोग अमन-शान्ति और आर्थिक तरक्की चाहते हैं और वह (मुख्यमंत्री) पूरी तरह दृढ़ हैं कि इस शांतमई माहौल में किसी किस्म का विघ्न न पडऩे दिया जाये। उन्होंने कहा कि आम मनुष्य की संतुष्टि को यकीनी बनाने के लिए उनकी सरकार अपने यत्न जारी रखेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य बहुत कठिन दौर में से गुजऱा और आतंकवाद के काले दौर के दौरान 35 हज़ार लोग शहीद हुए और 1700 पुलिस वालों को अपनी जान गवानी पड़ी। उन्होंने कहा कि ऐसे दौर में से निकलने के लिए पंजाब को बहुत लम्बे समय तक जूझना पड़ा और वह किसी भी सूरत में राज्य की शान्ति को फिर भंग करने की इजाज़त नहीं देंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि अमन कानून की व्यवस्था को कायम रखना उनकी सरकार की प्रमुख प्राथमिकता है और इसको यकीनी बनाने के लिए सरकार द्वारा कानूनी और प्रशासनिक सुधार लागू किये गए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि साल 2017 से लेकर पंजाब पुलिस ने 2378 गैंगस्टरों को प्रभावहीन किया, 1349 हथियार बरामद किये, छीने गए 614 वाहन बरामद किये और 32 आतंकवादी गिरोह पकड़े गए। मुख्यमंत्री ने ऐलान किया, ‘‘यह यत्न जारी रहेंगे और यदि ज़रूरत पड़ी तो राज्य में अमन-कानून को कायम रखने के लिए कोई भी कदम उठाने से पीछे नहीं हटेंगे।’’

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
जिला बरनाला में कोरोना वायरस से हुई पहली मौत कोरोना का करंट! औसत बिजली बिल आने से भड़के शहर वासी, जब काम धंधा नहीं कहा से भरेंगे बिल प्राईवेट स्कूलों को कफ्र्यू दौरान स्टाफ को पूरा वेतन जारी करने के निर्देश कोविड-19 को महायुद्ध के तौर पर ले रहे हैं पंजाब के दानवीर लोग कोविड -19 खिलाफ जंग में डटे सेहत विभाग के अमले व सफाई कर्मियों को दिया गार्ड आफ ऑनर पुलिस द्वारा फेसबुक पर अपमानजनक और आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाला गिरफ़्तार डेराबस्सी में कोरोना पॉजिटिव के चार और मामले, ढिल्लों की रिपोर्ट नेगेटिव 14 अप्रैल के बाद कफ्र्यू को और आगे बढ़ाने की रिपोर्टों को रद्द किया मदद करने वाले व्यापारियों को धारा 80-सी के तहत इनकम टैक्स में छूट दे सरकार: चीमा लॉकडाउन से धीरे-धीरे बाहर निकलने के लिए उपाय ढूँढने हेतु टास्क फोर्स