ENGLISH HINDI Monday, March 30, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोरोना के संदेह में किशोर व किशोरी बरनाला के आइसोलेशन अस्पताल दाखिलडाक जीवन बीमा, ग्रामीण डाक जीवन बीमा प्रीमियम भुगतान की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ाईअल्पकालिक फसली ऋण की पुनर्भुगतान अवधि 31 मई तक बढ़ाईनियम-कानूनों की उल्लंघना कर बेलगाम घूम रहे मंत्रियों, विधायकों की लगाम कसें कैप्टन: मानमहामारी के कठिन समय में सरकार के साथ खड़े हों, दलगत राजनीति से उठकर कार्य करेंप्रवासी मज़दूरों की शरण के लिए स्कूलों की इमारतें खुलवाने के निर्देशप्रवासी भारतीयों /विदेशी यात्रियों की सुविधा के लिए स्वै-घोषणा फार्म जारीधारा 144 की उल्लंघना: दो पुजारियों सहित 37 गिरफ्तार, 22 पर केस
पंजाब

पूजनीय देसी गाय है, ना कि अमरीकी नसल: अरोड़ा

February 28, 2020 11:23 AM

चंडीगड़, फेस2न्यूज:
आम आदमी पार्टी के विधायक अमन अरोड़ा, कुलतार सिंह संधवां और प्रो. बलजिन्दर कौर की ओर से आवारा पशुओं की समस्या के हल के लिए सदन में पेश किए प्रस्ताव पर बोलते अमन अरोड़ा ने कहा कि देसी गाय की नसल पूजने योग्य है परंतु अमरीकी नसल एच.एफ/जर्सी नसल के जानवरों का भारतीय देसी गाय की नसल से कोई भी वैज्ञानिक, जिन्सी और धार्मिक आध्यात्मिकता का रिश्ता-नाता नहीं है।
सदन में इस मुद्दे पर विभिन्न विचार आने के उपरांत सदन से बाहर मीडिया के मुखातिब होते अरोड़ा ने स्पष्ट किया कि आम आदमी पार्टी किसी भी जीव-जंतू या पक्षी-प्राणी की हत्या की वकालत नहीं करती, इसलिए यदि सरकार के पास आवारा पशुओं की घातक और जानलेवा समस्या का बेहतरीन और समयबद्ध समाधान है तो राज्य में अमरीकी बैलों समेत किसी भी जानवर को बुच्चडख़ाने नहीं भेजना चाहिए, परंतु यदि सरकार उक्त समस्या का ठोस प्रबंध नहीं कर सकती तो हिंसक प्रवृत्ति वाले अमरीकी बैलों को बुच्चडख़ाने में भेजने से गुरेज नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि राज्य की सडक़ें, शहरों और खेतों में 80 प्रतिश्त आवारा पशु अमरीकी नसल के एच.एफ /जर्सी पशु हैं। जिनके कारण प्रति साल सडक़ हादसों में 150 से अधिक जानें जाती हैं और 200 करोड़ से अधिक का फसलें अर्थात किसानों का नुक्सान करते हैं।
अरोड़ा ने कहा कि बदकिस्मती के साथ सरकारों ने इस मुद्दे को गंभीरता के साथ नहीं लिया, जबकि 9 वस्तुओं पर लोगों से करोड़ों रुपए का गाय-सैस लिया और वसूला जा रहा है, जिस को गाय या आवारा पशुओं को संभालने की बजाए इधर-उधर खुर्द-बुर्द किया जा रहा है।
मीडिया के सवालों का जवाब देते अरोड़ा ने स्पष्ट किया कि उन्होंने इस मुद्दे को हिंदु संगठनों और हिंदु धर्म के कई संत-महापुरुष हस्तियों के साथ बारीकी के साथ विचार-विमर्श किया है और उन धार्मिक हस्तियों ने भी बताया अमरीकी नसल की एच.एफ /जर्सी नसल का भारत में ‘गाय माता’ के रूप में पूजा की जाने वाली देसी नसल की गाय के साथ दूर-दूर का भी रिश्ता नहीं है। अमन ने चुनौती दी कि वह इस मुद्दे पर अपने हलके सुनाम में सैमीनार करवाने के लिए तैयार हैं। अमन अरोड़ा ने इस मुद्दे पर सदन के अंदर और बाहर राजनीति से प्रेरित भडक़ाऊ और गुमराह करने वाली बयानबाजी कर रहे अकाली विधायक एन.के शर्मा को आड़े हत्थों लेते हुए कहा कि उनके अपने हलके डेराबसी में 3 बुच्चडख़ाने चल रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
कोरोना के संदेह में किशोर व किशोरी बरनाला के आइसोलेशन अस्पताल दाखिल नियम-कानूनों की उल्लंघना कर बेलगाम घूम रहे मंत्रियों, विधायकों की लगाम कसें कैप्टन: मान प्रवासी मज़दूरों की शरण के लिए स्कूलों की इमारतें खुलवाने के निर्देश प्रवासी भारतीयों /विदेशी यात्रियों की सुविधा के लिए स्वै-घोषणा फार्म जारी धारा 144 की उल्लंघना: दो पुजारियों सहित 37 गिरफ्तार, 22 पर केस मेडीकल व अन्य सेवाओं हेतु पायलट प्रोजैक्ट— पुलिस एमरजैंसी सर्विसिज़ एप (पीईएसए) की शुरूआत कृषि विभाग द्वारा किसानों की सहायता के लिए कंट्रोल रूम स्थापित बन्दिशों के चलते सभी ज़रूरी वस्तुओं व सेवाओं की सप्लाई निरंतर यकीनी बनाने के लिए आदेश अधिकारित परचून विक्रेता को कंट्रोल्ड कीमतों पर चीनी देगा शूगरफैड: आलीवाल कोविड-19 के विरुद्ध जंग तेज़, जीवन बचाओ उपकरणों के भंडार जुटाए