ENGLISH HINDI Monday, March 30, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कोरोना के संदेह में किशोर व किशोरी बरनाला के आइसोलेशन अस्पताल दाखिलडाक जीवन बीमा, ग्रामीण डाक जीवन बीमा प्रीमियम भुगतान की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ाईअल्पकालिक फसली ऋण की पुनर्भुगतान अवधि 31 मई तक बढ़ाईनियम-कानूनों की उल्लंघना कर बेलगाम घूम रहे मंत्रियों, विधायकों की लगाम कसें कैप्टन: मानमहामारी के कठिन समय में सरकार के साथ खड़े हों, दलगत राजनीति से उठकर कार्य करेंप्रवासी मज़दूरों की शरण के लिए स्कूलों की इमारतें खुलवाने के निर्देशप्रवासी भारतीयों /विदेशी यात्रियों की सुविधा के लिए स्वै-घोषणा फार्म जारीधारा 144 की उल्लंघना: दो पुजारियों सहित 37 गिरफ्तार, 22 पर केस
पंजाब

पुलिस ने कुछ श्रद्धालुओं से पूछताछ की थी: कैप्टन

February 28, 2020 08:36 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में इंटेलिजेंस ब्यूरो (आई.बी.) के कहने पर करतारपुर गलियारे के द्वारा लौटने वाले कुछ श्रद्धालुओं से पूछताछ की थी।
पुलिस की कार्यवाही का स्पष्ट तौर पर पक्ष लेते हुये मुख्यमंत्री कैप्टन ने कहा कि यहाँ तक कि यदि आई.बी. द्वारा ज़ाहिर की सुरक्षा चिंताओं के संदर्भ में गुरदासपुर पुलिस सहयोग करने में नाकाम रहती तो उन्होंने पुलिस के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करनी थी।
बजट पेश करने से पहले आप विधायक कुलतार सिंह संधवां द्वारा उठाए गये मुद्दे के जवाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि सरहदी राज्य की पुलिस फोर्स होने के नाते पंजाब पुलिस ने मामले में उचित सीमा में रह कर कार्यवाही की। यह जि़क्रयोग्य है कि इस मुद्दे को लेकर विरोधी पक्ष ने गुरूवार को सदन में हंगामा मचाया था। विरोधी पक्ष ने बीते दिन प्रदर्शन करते हुये मुख्यमंत्री के जवाब की माँग की थी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार, राष्ट्रीय सुरक्षा के बड़े हितों में जब भी ज़रूरत पड़ी, केंद्रीय एजेंसियों के साथ सहयोग करती रहेगी। उन्होंने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों के साथ तालमेल करने के लिए स्थापित सुरक्षा विधि -विधान के मुताबिक यदि पुलिस फोर्स कार्यवाही करने में असफल रहती है तो पुलिस के खि़लाफ़ कार्यवाही की जायेगी।
मुख्यमंत्री ने बताया कि करतारपुर गलियारा खुलने के बाद अब तक 51000 से अधिक श्रद्धालु नतमस्तक हो चुके हैं और यह पहली बार हुआ है कि कुछ श्रद्धालुओं से पूछताछ की गई है। उन्होंने कहा कि इस मामले में आई.बी. ने कुछ शंकाएं ज़ाहिर की थी और सुरक्षा के लिहाज़ से कुछ श्रद्धालुओं की जान -पहचान को यकीनी बनाने के लिए पंजाब पुलिस की मदद माँगी थी। उन्होंने कहा कि संवेदनशील सरहदी राज्य होने के कारण देश की सुरक्षा को यकीनी बनाने के लिए केंद्रीय एजेंसियों के साथ मिलकर काम करना राज्य की जि़म्मेदारी बनती है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
कोरोना के संदेह में किशोर व किशोरी बरनाला के आइसोलेशन अस्पताल दाखिल नियम-कानूनों की उल्लंघना कर बेलगाम घूम रहे मंत्रियों, विधायकों की लगाम कसें कैप्टन: मान प्रवासी मज़दूरों की शरण के लिए स्कूलों की इमारतें खुलवाने के निर्देश प्रवासी भारतीयों /विदेशी यात्रियों की सुविधा के लिए स्वै-घोषणा फार्म जारी धारा 144 की उल्लंघना: दो पुजारियों सहित 37 गिरफ्तार, 22 पर केस मेडीकल व अन्य सेवाओं हेतु पायलट प्रोजैक्ट— पुलिस एमरजैंसी सर्विसिज़ एप (पीईएसए) की शुरूआत कृषि विभाग द्वारा किसानों की सहायता के लिए कंट्रोल रूम स्थापित बन्दिशों के चलते सभी ज़रूरी वस्तुओं व सेवाओं की सप्लाई निरंतर यकीनी बनाने के लिए आदेश अधिकारित परचून विक्रेता को कंट्रोल्ड कीमतों पर चीनी देगा शूगरफैड: आलीवाल कोविड-19 के विरुद्ध जंग तेज़, जीवन बचाओ उपकरणों के भंडार जुटाए