ENGLISH HINDI Sunday, March 29, 2020
Follow us on
 
पंजाब

सुखना झील को कानूनी मान्यता, हाईकोर्ट के झील के साथ सटे अनाधिकृत ढांचों को तीन माह में ढाहने के आदेश

March 03, 2020 08:42 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने एडवोकेट जनरल अतुल नन्दा को सुखना झील के साथ लगते इलाके में निर्माणों के सम्बन्ध में हाईकोर्ट द्वारा जारी किये हुक्मों को जाँचने के लिए कहा है।
आज यहाँ विधानसभा के बाहर पत्रकारों के साथ अनौपचारिक बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने फ़ैसले की कॉपी आज ही प्राप्त की है और एडवोकेट जनरल द्वारा इसको जाँच कर अपनी सिफारशें दीं जाएंगी।
एक सवाल के जवाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि राज्य सरकार इस मसले के हल के लिए वैधानिक या न्यायिक स्तर पर फ़ैसला लेगी। उन्होंने कहा, ‘‘हम लोगों के साथ हैं और उनके हितों की रक्षा के लिए हर कदम उठाऐंगे।’’
सुखना झील को कानूनी तौर पर मान्यता देते हुए पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने इसके साथ लगते इलाके में सभी अनाधिकृत ढांचों को तीन महीने में ढाहने के हुक्म देते हुए दोनों राज्यों पर जुर्माना भी लगाया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
30 जनवरी के बाद लौटे प्रवासी भारतीयों को अपने विवरण देने की अपील काउंसिलों व पंचायतों को संकट की घड़ी में गरीब व कमजोर वर्ग की मदद के लिए आगे आने का आह्वान पुलिस छापेमारी दौरान 40 के करीब शराब की पेटियां हुई बरामद लापरवाही: पीजीआई जाते एंबूलेंस वाहनों एवं टोल प्लाजा को नहीं किया जा रहा सैनेटाईज 28 मार्च कोविड-19: पंजाब मीडिया बुलेटिन कोविड-19 मुक्त भारत अभियान: सिविल व पुलिस प्रशासन ने जारी किए सख्ती से फरमान काम वाली के साथ गया बच्चा कर्फ्यू के चलते नहीं पंहुच पाया घर कोविड-19 के मद्देनजऱ ज़रूरी वस्तुओं की सप्लाई बनाए रखने सम्बन्धी दिशा-निर्देश जारी वादे के पाबंद निकले विधायक आवला, मानवता की सेवा में पेश की बड़ी मिसाल नगर परिषद ने शहर में शुरु किया सोडियम हाइपो-क्लोराइट दवा का छिडक़ाव