ENGLISH HINDI Sunday, March 29, 2020
Follow us on
 
हरियाणा

भ्रष्टाचार व गबन की शिकायत पर बीडीपीओ जगबीर दलाल को सस्पेंड, एफआईआर दर्ज करने के निर्देश

March 06, 2020 10:12 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
सीएम विंडो पर प्राप्त भ्रष्टाचार व गबन की शिकायत पर कड़ा संज्ञान लेते हुए करनाल के बीडीपीओ जगबीर सिंह दलाल को तुरंत प्रभाव से सस्पेंड करने और उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने तथा विभिन्न मामलों में 14 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।
यह निर्देश आज यहां मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक डॉ० राकेश गुप्ता और मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री भुपेश्वर दयाल ने सीएम विंडो के संबंध में विभागों के नोडल अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिए। बैठक में लंबित शिकायतों पर जल्द कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए और जिन विभागों का स्कोर 70 से कम है, उनके विभागाध्यक्षों की बैठक 18 मार्च को होगी।
बैठक में विकास एवं पंचायत विभाग के अंतर्गत हिसार से आई शिकायत, जिसमें दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ करके पैसों के गबन के मामले पर संज्ञान लेते हुए डॉ० राकेश गुप्ता ने सरपंच सहित कुल 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा, पानीपत से आए दो मामलों में क्रमश: 1.15 करोड़ और 1.87 करोड़ रुपये की रिकवरी में देरी करने के कारण डीडीपीओ राजबीर सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए हैं।
विकास एवं पंचायत विभाग के तहत करनाल से आई 8 लाख 34 हजार रुपये के गबन की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए बीडीपीओ जगबीर सिंह दलाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और तुरंत प्रभाव से सस्पेंड करने के निर्देश दिए हैं।
बैठक में सेंट्रलाइजड पब्लिक ग्रीवांस रिड्रेस एंड मॉनिटरिंग सिस्टम (सीपीग्राम) पोर्टल पर प्राप्त हिसार के हांसी तहसील के उमरा गांव में 225 एकड़ भूमि पर अवैध कब्जे की शिकायत पर डॉ० गुप्ता ने हिसार के उपायुक्त को पत्र लिखकर अवैध कब्जा हटवाकर मामले की समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसी प्रकार, (सीपीग्राम) पोर्टल से प्राप्त एक अन्य मामले में रेवाड़ी के पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर मामले में जानबूझकर कार्रवाई में देरी करने के लिए संबंधित की जिम्मेवारी तय करने और मामले की समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।
बैठक में महेंद्रगढ़ के खंड कनीना के गांव सियाना से 51 लाख 61 हजार 843 रुपये के गबन का मामला सामने आया, इस पर संज्ञान लेते हुए डॉ० गुप्ता ने जिला अटार्नी को सरपंच के अलावा, उस समय पर जो अधिकारी कार्यरत थे, उनसे रिकवरी करने के अवसर तलाशने के निर्देश दिए हैं।
सहकारिता विभाग के अंतर्गत लंबित एक शिकायत पर डिप्टी रजिस्ट्रार, सहकारी समितियां, गुरुग्राम बंसीलाल को कार्रवाई में देरी करने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने और जल्द मामले का समुचित समाधान करने के निर्देश दिए हैं।
पर्यावरण विभाग के तहत आई अरावली क्षेत्र में कल्ब के निमार्ण संबंधित शिकायत आई, जिसमें यह सामने आया कि एक टीम ने इस मामले पर कार्रवाई करते हुए पहले संबंधित लोगों को क्लीन चिट दे दी थी, परंतु इस पर दोबारा कार्रवाई करते हुए नई टीम ने मौके पर जाकर अवैध तरीके से किए गए अतिक्रमण की जांच-पड़ताल की और आगामी कार्रवाई करने की सिफारिश की। इस मामले पर आज कार्रवाई करते हुए डॉ. गुप्ता ने गलत कार्रवाई करने पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, गुरुग्राम के रिजनल अधिकारी शक्ति सिंह को नियम-7 के तहत चार्जशीट करने के निर्देश दिए हैं।
राजस्व विभाग के अंतर्गत गुरुग्राम से सीएम विंडो पर प्राप्त शामलात भूमि के नकली मालिक दिखाकर मुआवजा दिये जाने के मामले पर गुरुग्राम के पुलिस आयुक्त को एसआईटी गठित करने के निर्देश दिए हैं।
बिजली विभाग के तहत प्राप्त 15 लाख रुपये की तांबे की तारों की चोरी करने की शिकायत पर जेई गुरबक्श, एसडीओ मोहन लाल, असिस्टेंट फोरमैन राम सुमेर, जेई तरसेम चंद के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं। परिवहन विभाग के अंतर्गत सीएम विंडो पर फर्जी फर्म बनाकर टैक्स चोरी करने के मामले में एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।
बैठक में एसएमजीटी पर भी समीक्षा की गई। इसके अलावा, जिन विभागों का प्रदर्शन अच्छा नहीं है उन्हें जल्द अपनी कार्यप्रणाली में सुधार करने के निर्देश दिए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
हरियाणा : कोरोना रिलीफ फंड में 5 करोड़ दिए सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग की जिम्मेवारी बढ़ी: मीणा कोरोना के चलते एक महीने तक बिजली विभाग के सभी कैश काउंटर बंद, सारचार्ज से छूट सरसों और गेहूं की खरीद के व्यापक प्रबंधों के निर्देश कोरोना से निपटने को सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं, सामाजिक व धार्मिक संगठनों का सहयोग जरूरी: कोविन्द हरियाणा में तीन महीने की अवधि के लिए नियुक्त होंगे तक्नीकी कर्मचारी आंगनवाडिय़ों को महीने के राशन की आपूर्ति घर द्वार पर पहुंचाने के निर्देश हरियाणा पुलिस ने आवश्यक वस्तुओं, सेवाओं की सुचारू आपूर्ति के लिए बनाया सिस्टम चिकित्सा और पैरा-मेडिकल स्टाफ को सेवा काल में मिलेगी एक्सटेंशन हरियाणा में पैरोल पर चल रहे कैदियों की अवधि बढी