ENGLISH HINDI Wednesday, July 08, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

कोरोना से बचाव के लिए ब्रह्माकुमारीज संस्थान चलायेगा देशव्यापी जागरूकता अभियान, सावधानी के तहत बाबा मिलन कार्यक्रम स्थगित

March 14, 2020 10:29 PM

आबू रोड। देश और दुनिया में बढ़ते कोरोना के प्रभाव को देखते हुए ब्रह्माकुमारीज संस्थान के अन्तर्राष्ट्रीय मुख्यालय शांतिवन आबू रोड में होने वाले 20 मार्च के बाबा मिलन कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। इसके साथ ही देश-विदेश के समस्त सेवाकेन्द्रों पर सर्कुलर जारी कर इसकी सूचना के साथ कोरोना से बचाव के लिए आवश्यक दिशा निर्देश भी भेजे गये हैं। 

 ब्रह्माकुमारीज संस्थान के शांतिवन में बीस मार्च को बाबा मिलन कार्यक्रम का आयोजन था जो आठ महीने पूर्व ही निर्धारित था। इसमें आने वाले विदेशी सदस्यों को पहले ही मना कर दिया गया था। अब भारत के कोने-कोने से आने वाले लोगों को भी मना किया गया है। संस्थान में भी कोरोना जांच के लिए मशीनों का प्रबन्ध कर एक्सपर्ट की टीम लगायी गइ है कि ताकि हर एक की स्क्रीनिंग कर उचित उपचार कराया जाये।

 

ब्रह्माकुमारीज संस्थान के महासचिव बीके निर्वेर ने पत्र जारी कर समस्त सेवाकेन्द्रों को सूचित किया है कि देशभर में कोरोना का तेजी से प्रभाव बढ़ रहा है। ऐसे में कोरोना से बचाव तथा उसकी रोकथाम के मद्देनजर बीस मार्च के बाबा मिलन कार्यक्रम को स्थगित किया जाता है। इसके साथ ही संस्थान के देश विदेश के सेवाकेन्द्रों के लोगों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूकता अभियान चलाने का भी आग्रह किया गया है।
ज्ञात हो कि ब्रह्माकुमारीज संस्थान के शांतिवन में बीस मार्च को बाबा मिलन कार्यक्रम का आयोजन था जो आठ महीने पूर्व ही निर्धारित था। इसमें आने वाले विदेशी सदस्यों को पहले ही मना कर दिया गया था। अब भारत के कोने-कोने से आने वाले लोगों को भी मना किया गया है। संस्थान में भी कोरोना जांच के लिए मशीनों का प्रबन्ध कर एक्सपर्ट की टीम लगायी गइ है कि ताकि हर एक की स्क्रीनिंग कर उचित उपचार कराया जाये।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
भारत में दीपगृह पर्यटन के अवसरों को विकसित करने का आह्वान महामारी को देखते हुए परीक्षाओं पर यूजीसी संशोधित दिशानिर्देश, अकादमिक कैलेंडर जारी कोविड—19: ठीक होने वालों की संख्या करीब 4 लाख 40 हजार हुई आईसीएआर-राष्ट्रीय पादप आनुवांशिक संसाधन ब्यूरो ने किए एमओयू पर हस्ताक्षर सतत विकास के लिए आयु-अनुकूल व्यापक यौनिक शिक्षा क्यों है ज़रूरी? कोविड-19: ठीक होने की दर बढ़कर 60 प्रतिशत पहुंची उच्च स्तरीय उद्योग परामर्श में शीर्ष हस्तियां ले रही है भाग वेबिनार में बताए महिला सुरक्षा और महिला सशक्तिकरण के गुर केरल व हिमाचल दो राज्यों में बहुत सी साझी बातें: डॉ. चौहान किसानों को घर पर मिलेगी मिट्टी के नमूनों के मुफ्त परीक्षण की सुविधा