ENGLISH HINDI Friday, June 05, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

कोविड—19 को फैलने से रोकने के लिए आरबी ने 32 मिलियन पाऊंड का योगदान दिया

March 29, 2020 06:03 PM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा)

दुनिया की अग्रणी हैल्थ एवं हाईज़ीन कंपनी, आरबी ने आज आरबी फाईट फॉर एक्सेस फंड लॉन्च किया, जिसका उद्देश्य सभी को हैल्थ, हाईज़ीन एवं न्यूट्रिशन उपलब्ध कराना है। इस फंड के तहत 32 मिलियन पाऊंड की अतिरिक्त राशि दी गई है ताकि कोविड.19 की तेजी से फैलती महामारी की चेन को तोड़ा जा सके। यह फंड एक स्वच्छ व सेहतमंद दुनिया के निर्माण व संरक्षण के लिए आरबी का उद्देश्य व संघर्ष प्रस्तुत करता है।

जागरुकता एवं उपलब्धता वर्तमान परिदृश्य में सबसे ज्यादा आवश्यक हैं। इसलिए आरबी इंडिया ने इस फंड का उपयोग करने के लिए अनेक गतिविधियां शुरू की हैं, जो जानकारी एवं उत्पाद का वितरण सुनिश्चित करने के लिए लोगों के साथ संलग्न होने पर केंद्रित हैं। हमारे ब्रांड्स द्वारा फंड का उपयोग करने वाली गतिविधियों में शामिल हैं

भारत में सबसे कमजोर वर्ग को डेटॉल साबुन की 10 मिलियन यूनिट्स वितरित करेंगे, बाईकर्स फॉर गुड के साथ साझेदारी में डेटॉल ने कोविड—19 के फैलने के दौरान सार्वजनिक स्वास्थ्य अभियान हैंडवाश कोरोना लॉन्च किया है 1 मिलियन लीटर डिसइन्फैक्टेंट उत्पाद वितरित करेंगे, जिनमें लाईज़ोल डिसइन्फैक्टेंट लिक्विड एवं हार्पिक टॉयलेट क्लीनर्स हैं। इनसे भारतीय राज्यों को इस संकट से लड़ने में खासकर सार्वजनिक स्वास्थ्य संस्थान एवं फ्रंटलाईन में रहकर काम करने वाले हैल्थ एवं सैनिटाईज़ेशन कर्मियों के काम में मदद मिलेगी। हम फार्मासिस्ट्स एवं हैल्थकेयर कर्मियों के लिए 3.5 मिलियन एन-95 मास्क वितरित करेंगे। यह सभी मुख्य बाजारों में वितरित किए जाएंगे।

आरबी के ग्लोबल सीईओ लक्ष्मण नरसिम्हन ने कहा हमने पिछले 200 सालों से उपभोक्ताओं की जिंदगी में परिवर्तन लाया है। हमारे ब्रांड मौजूदा कोविड—19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में हाईज़ीन व हैल्थ को प्रोत्साहित करने में मुख्य भूमिका निभा रही है। मैंने कंपनी में इस उद्देश्य एवं हमारे संघर्ष को बढ़ाने के साहसी कार्य स्वयं देखे। हम लोगों के व्यवहार में परिवर्तन लाने के लिए सरकार के साथ काम करते रहेंगे और अपनी इस साझेदारी को मजबूत करेंगे जो हमने डेटॉल के बीएसआई अभियान के द्वारा विकसित की है। आरबी फाईट फॉर एक्सेस फंड कॉर्पोरेट से 50 फीसदी फंडिंग लेगा जिसमें इसकी तीन बिज़नेस यूनिट्स हाईज़ीन हैल्थ एवं न्यूट्रिशन का समान योगदान होगा। किसी भी अभियान के लिए अधिकतम 1 मिलियन पाऊंड तक की राशि दी जाएगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें