ENGLISH HINDI Friday, June 05, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबन्धक समिति ने राशन, सब्ज़ियों दान की अपील की

March 29, 2020 06:24 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबन्धक समिति ने कॉरपोरेट घरानों, दानवीर सज्जनों तथा अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संगठनों से कोरोना वायरस की वजह से राजधानी में आजीविका खो बैठे श्रमिकों को उनके घर दरवाजे पर ताजा, गर्म और पौष्टिक भोजन उपलब्ध करवाने के लिए दिल्ली के गुरद्वारों में राशन, फल, सब्ज़ियां आदि दान देने की अपील की है।
दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबन्धक समिति के अध्यक्ष सिरसा ने बताया कि इस समय दिल्ली के गुरद्वारों से रोजाना पचास हज़ार लोगों को उनके घर द्वार लंगर पहुंचाया जा रहा है तथा समिति अब एक लाख लोगों को उनके घर द्वार पर खाना प्रदान करने का निर्णय लिया है ताकि सरकार के लॉक डाउन के उद्देश्यों को पूरा किया जा सके। सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टैन्सिंग) के नियमों की पूरी तरह पालन की जा सके ताकि महामारी को रोकने के प्रयासों को बल प्रदान किया जा सके।
उन्होनें कहा कि दानवीर सज्जन कैश धन राशि सीधे दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबन्धक समिति के खाते में जमा करवा सकते है। दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबन्धक समिति का एक्सिस बैंक पंजाबी बाग़ में खाता नंबर-911010055889247, तथा IFSC Code UTIB000478 है। दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबन्धक समिति को दिया गया दान इन्कम टैक्स इस धारा 80G के अन्तर्गत आयकर से छूट के लिए योग्य है।
अध्यक्ष सिरसा ने बताया कि इस समय दिल्ली के गुरद्वारा बँगला साहिब, गुरद्वारा नानक पियायो, गुरद्वारा शीशगंज साहिब, गुरद्वारा मजनू का टिल्ला, गुरद्वारा बाला साहिब में लंगर बना कर दिल्ली सरकार से नजदीकी समवन्य स्थापित करके जरूरतमन्द गरीब लोगों को नज़दीकी क्षेत्रों में बाँटा जा रहा है। शीघ्र ही प्रबन्धक समिति द्वारा संचालित सभी 19 शिक्षण संस्थाओं में लंगर बनाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी ताकि दिल्ली के अधिकतम क्षेत्रों को लंगर सेवा के अन्तर्गत कवर किया जा सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
जेसिका लाल हत्याकांड: जेल में अच्छे व्यवहार के चलते सिद्धार्थ शर्मा उर्फ मनु रिहा मॉनसून ऋतु (जून–सितम्बर) की वर्षा दीर्घावधि औसत के 96 से 104 प्रतिशत होने की संभावना अनलॉक-1 के नाम से देश में 30 जून तक लॉकडाउन 5 लागू, क्या-क्या खुलेगा, किस पर रहेगी पाबंदी आखिर क्यों नहीं पीएमओ पीएम केयर फंड आरटीआई के दायरे में ? कितनी गहरी हैं सनातन संस्कृति की जड़ें कोरोना से युद्ध में रणनीति और वैज्ञानिक दृष्टिकोण का अभाव सीआईपीईटी केंद्रों ने कोरोना से निपटने के लिए सुरक्षात्मक उपकरण के रूप में फेस शील्ड विकसित किया एन.एस.यू.आई. ने छात्रों को एक-बार छूट देकर उत्तीर्ण करने का किया आग्रह एम्स ऋषिकेश में कोविड पॉजिटिव चार अन्य मामले सामने आए एम्स ऋषिकेश में कोविड पॉजिटिव के पांच नए मामले सामने आए