ENGLISH HINDI Friday, June 05, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

मरकज की तबलीगी जमात से लौटे नागरिकों की तुरंत दे सूचना: डीसी

March 31, 2020 08:08 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा)

उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में आयोजित तब्लीगी जमात में कांगड़ा जिला के किसी व्यक्ति ने भाग लिया है और कांगड़ा जिला में लौट कर आया हो तो इसकी सूचना तुरंत जिला प्रशासन या टोल फ्री नंबर 1077 पर दी जाए ताकि इन व्यक्तियों की स्वास्थ्य जांच की जा सके और क्वारंटाइन किया जा सके।  

टोल फ्री नंबर 1077 पर करें संपर्क


उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह से सजग है तथा लोगों को नियमित तौर पर सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है। आवश्यक वस्तुओं की दुकानों में रेट लिस्ट लगाना भी अनिवार्य किया गया है ताकि मनमाने दाम नहीं वसूले जाएं। उन्होंने कहा कि खाद्य आपूर्ति विभाग को दुकानों में प्रदर्शित मूल्य सूचियों को नियमित तौर चेक करने के आदेश भी दिए गए हैं।
कांगड़ा जिला में हंगर लाइन होगी शुरू:
कांगड़ा जिला में गरीब, निर्धन तथा झुग्गी झोंपड़ी में रहने वाले जरूरतमंद लोगों को राशन की आपूर्ति करने के लिए कांगड़ा जिला में हंगर लाइन आरंभ की जा रही है। ऐसे गरीब तथा मजदूर लोग जिनके पास राशन खरीदने के लिए पैसे नहीं है वे इस हंगर लाइन में दिए गए नंबरों से संपर्क कर सकते हैं ताकि उनको राशन उपलब्ध करवाया जा सके। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने बताया कि जिला स्तर पर हंगर लाइन के जिला स्तर पर नोडल आफिसर नियुक्त किए गए हैं जिसमें एसीटूडीसी लीव रिजर्व संदीप सूद मोबाइल नंबर 8894029000, जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक नरेंद्र धीमान 9418056534, एपीएमसी के सचिव राजकुमार मोबाइल नंबर 82195-09229 पर संपर्क किया जा सकता है इसके साथ ही उपमंडल स्तर पर भी हंगर लाइन के तहत अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे जिनके नंबरों पर जरूरतमंद लोग राशन के लिए संपर्क कर सकते हैं।
झुग्गी झोपड़ी तथा गरीबों के लिए राशन की व्यवस्था:
कांगड़ा जिला में 19865 प्रवासी परिवार चिह्न्ति किए गए हैं तथा इन परिवारों को एसडीएम के माध्यम से सात से दस दिन का राशन उपलब्ध करवाने के दिशा निर्देश दिए गए हैं तथा उपमंडल स्तर पर नियमित तौर पर गरीब परिवारों को राशन उपलब्ध करवाया जा रहा है।
खाद्य वस्तुओं तथा सब्जियों की आपूर्ति बारे:
उपायुक्त प्रजापति ने बताया कि कांगड़ा जिला में 1977 क्विंटल सब्जियों तथा फल, 17 पेट्रोल तथा डीजल के वाहन, खाद्य आपूर्ति निगम से 15 ट्रक गेहूं, मेडिसिन के 42 वाहनों के माध्यम से आपूर्ति हुई है। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में खाद्य वस्तुओं की सप्लाई व्यवस्था सुचारू बनी हुई है तथा लोगों से किसी भी स्तर पर घरों में खाद्य वस्तुओं के भंडारण नहीं करने की जरूरत नहीं है।
कर्फ्यू का उल्लंघन न करें:
जिला में कर्फ्यू का उल्लंघन करने तथा घर से बाहर निकलकर पैदल सड़कों पर घूमने पर 32 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि घरों पर ही रहें तथा किसी भी स्तर पर कर्फ्यू इत्यादि का उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर रोकने के लिए एकमात्र उपाय सामाजिक दूरी है। इन आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करने में सभी नागरिकों को अपना रचनात्मक सहयोग सुनिश्चित करना चाहिए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें