ENGLISH HINDI Tuesday, June 02, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
हिमाचल: पश्मीना उत्पाद को बढ़ावाअधिकारियों/कर्मचारियों की तरक्की जल्द करने के आदेशकोविड संकट दौरान सिविल डिफेंस द्वारा जरूरतमन्दों को दवाएं पहुंचाने का सिलसिला जारीहाईकोर्ट की निगरानी में न्यायिक आयोग करे पिछले 13 वर्षों के कृषि घोटाले की जांच: चीमाफर्जीवाड़ा: विश्व तंबाकू विरोधी दिवस मनाने का लैक्चर दिया और फुर्रर हो गए सेहत अधिकारीसोना लूटने वाला सरगना पंजाब पुलिस की वर्दी, नकली आईडी, चीनी पिस्तौल सहित काबूलॉकडाउन खुलते ही फर्नीचर मार्केट मार्ग पर बेतरतीब खड़ी गाड़ियों से जाम में फंसते लोग10 जून से पहले मुकम्मल हो जायेगी रजबाहों/माईनरों की सफ़ाई
पंजाब

कोरोना की एंट्री पर रोक लगाने शहरों व गांवों में बेरीगेटिंग शुरु

April 01, 2020 08:10 PM

बरनाला, अखिलेश बंसल/करन अवतार:

विश्व में फैली कोरोना वायरस की महामारी से जिला एवं बाहर से आने व जाने वाले हर व्यक्ति को बचाए रखने के लिए पुलिस के साथ-साथ ग्रामीणों ने बेरीगेटिंग शुरु कर दी है। ग्रामीणों ने ठीकरी पहरा लगा गांवों के मुख्य गेटों पर सेनेटाईजर का भी प्रबंध किया है। जबकि जिला की पुलिस ने शहरों के अंदर गलियों व मुख्य बाजारों से लिंक होती 75 फीसद गलियों को सील कर दिया है।   

शहर के भीतरी लिंक गलियों को पुलिस ने और गांवों में ग्रामीणों ने सील करने को की पहलकदमी।


वायलेशन ने दिया सभी को झटका:
संसारभर से आ रही खबरों को समझने और देश के प्रधानमंत्री व राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा बार बार अपील करने के बावजूद लोग अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे थे। यह जानते हुए भी कि कोरोना वायरस का दुनिया में अभी तक ईलाज संभव नही है और आखिरकार मौत ही है। गौरतलब हो कि प्रतिबंध एवं सरकारी आदेशों की उलंघना करने वालों में ऐसे लोग भी शामिल थे जिन्हें प्रशासन द्वारा जरूरी वस्तुएं मुहैया करवाने के लिए कफ्र्यू पास जारी किए गए थे। जिसके चलते पुलिस को सख्त कदम उठाना पड़ा है।   
 

जिला के दो गांवों ने की पहल:
बरनाला जिला के दो गांवों धनौला खुर्द व कालेके की पंचायतों की ओर से अपने अपने गांवों को कोरोना वायरस से मुक्त रखने के मद्देनजर गांवों के रास्तों को सील कर सराहनीय प्रयास किया है। ग्रामीण बाहर से आने व जाने वालों पर तीखी नजर रखी जा रही है। जानकारी मिली है कि गांवों से वायरल हुई वीडीयोज एवं फोटोज के बाद अब जिला के अन्य गांवों में भी ठीकरी पहरे लगाने के लिए पंचायतों ने फैसला लिया है।    
 

खास कारण बताने पर ही गुजर सकेंगे रास्ते से:
जिला के वरिष्ठ पुलिस कप्तान संदीप गोयल का कहना है कि यह मेडीकल कफ्र्यू है, जो एतिहात बरतने व लोगों के फायदे के लिए लगाया गया है। लोगों को घर बैठे दूध-राशन सामान पहुंचाया जा रहा है। खास मकसद के लिए घरों से बाहर आने वाले लोगों को ही इजाजत दी जाएगी। लेकिन बार-बार मनाह करने, मुनादी करने, समझाने के बावजूद लोग कानून व आदेशों की उलंघना का मजाक उड़ाते चले आ रहे थे। जिसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
अधिकारियों/कर्मचारियों की तरक्की जल्द करने के आदेश कोविड संकट दौरान सिविल डिफेंस द्वारा जरूरतमन्दों को दवाएं पहुंचाने का सिलसिला जारी हाईकोर्ट की निगरानी में न्यायिक आयोग करे पिछले 13 वर्षों के कृषि घोटाले की जांच: चीमा फर्जीवाड़ा: विश्व तंबाकू विरोधी दिवस मनाने का लैक्चर दिया और फुर्रर हो गए सेहत अधिकारी सोना लूटने वाला सरगना पंजाब पुलिस की वर्दी, नकली आईडी, चीनी पिस्तौल सहित काबू 10 जून से पहले मुकम्मल हो जायेगी रजबाहों/माईनरों की सफ़ाई शराब पर कोविड सैस लगाकर लेंगे 145 करोड़ रुपए का अतिरिक्त राजस्व पंजाब में मैन मार्केट, सैलून, शराब की दुकानों, सपा आदि निर्धारित संचालन विधि की पालना के साथ आज से खुले कांग्रेसी मंत्रियों ने केंद्र द्वारा संघीय ढांचे का गला घोंटने पर बादलों को घेरा कोरोना महामारी के बावजूद मानवता भलाई हेतु रक्तदान शिविर का आयोजन